Malaysia Prime Minister 2022: मलेशिया के नए प्रधान मंत्री के रूप में विपक्षी नेता अनवर इब्राहिम को नियुक्त किया गया, कौन है अनवर इब्राहिम?

Malaysia Prime Minister 2022: मलेशिया के 10वें प्रधानमंत्री के रूप में अनवर इब्राहिम शपथ लेंगे। एक विशेष बैठक में देश के नौ राज्यों के राजाओं के साथ विचार विमर्श के बाद इब्राहिम की नियुक्ति का फैसला लिया गया। अधिक जानकारी के लिए नीचे पढ़े।

Opposition leader Anwar Ibrahim appointed as the new Prime Minister of Malaysia
Opposition leader Anwar Ibrahim appointed as the new Prime Minister of Malaysia

Malaysia Prime Minister 2022: मलेशिया के राजा ने पाकतन हरपन (PH) प्रमुख अनवर इब्राहिम को देश के नए प्रधानमंत्री के रूप में नामित किया है। पैलेस के आधिकारिक बयान के अनुसार, देश के नौ राज्य सम्राटों की एक विशेष बैठक में राजा द्वारा अन्य शासकों के साथ विचार-विमर्श करने के बाद यह निर्णय लिया गया।

मलेशिया के 10वें प्रधानमंत्री के रूप में अनवर इब्राहिम शपथ लेंगे। उल्लेखनीय ही कि देश में एक आम चुनाव एक अभूतपूर्व त्रिशंकु संसद में समाप्त हुआ, जिसमें दो मुख्य गठबंधनों, एक अनवर के नेतृत्व में और दूसरा पूर्व-प्रधानमंत्री मुहीदीन यासीन द्वारा जिसमें कोई भी सरकार बनाने के लिए संसद में पर्याप्त सीटें सुरक्षित करने में सफल नहीं हो सके थे।

कौन हैं अनवर इब्राहिम?

75 वर्षीय अनवर इब्राहिम को वर्षों से समय-समय पर प्रीमियर के रूप में चयन से वंचित किये जाते रहे हैं. साथ ही इब्राहिम ने 1990 के दशक में उप-प्रधान मंत्री और 2018 में आधिकारिक प्रधान मंत्री-इन-वेटिंग के रूप में कार्य किया।

प्रधान मंत्री के पद पर अनवर इब्राहिम का उदय 1998 में उप प्रधान मंत्री के रूप में बर्खास्त किए जाने के बाद हुआ, जिसमें उनके ऊपर सोडोमी और सत्ता के दुरुपयोग के आरोप लगे थे। हालांकि, इब्राहिम ने कहा कि उन पर लगाए गए आरोप उनके राजनीतिक सफर को समाप्त करने के उद्देश्य से लगाए गए थे।

मलेशिया में आम चुनाव

दक्षिण पूर्व एशियाई देश में चुनावों की अनिश्चितता के कारण राजनीतिक अस्थिरता लम्बे समय से  बनी हुई थी, जिसमें बीते इतने वर्षों में तीन प्रधान मंत्री भी रहे हैं और साथ ही आर्थिक सुधार को बढ़ावा देने के लिए आवश्यक नीतिगत निर्णयों में देरी भी हुई।

अनवर इब्राहिम के गठबंधन को पकातन हरपन के नाम से जाना जाता है, अनवर इब्राहिम के गठबंधन पकातन हरपन ने चुनाव में 82 सीटों से अधिक सीटें जीती, जबकि मुहीद्दीन के पेरिकाटन नैशनल ब्लॉक ने 73 सीटें जीती। उन्हें सरकार बनाने के लिए 112-सीटों के साधारण बहुमत की आवश्यकता थी।

लंबे समय तक शासन करने वाले बैरिसन ब्लॉक ने केवल 30 सीटें जीती। 1957 में आजादी के बाद से राजनीति पर हावी होने वाले गठबंधन के लिए यह सबसे खराब चुनावी प्रदर्शन था।

मलेशिया के प्रधानमंत्री की नियुक्ति

देश का संवैधानिक सम्राट काफी हद तक औपचारिक और प्रभावी भूमिका निभाता है, हालांकि, वह एक प्रीमियर नियुक्त कर सकता है जिस पर उसे विश्वास हो कि वह संसद में बहुमत साबित कर सकता है ।

मलेशिया में एक अद्वितीय संवैधानिक राजतंत्र है जिसमें नौ राज्यों के शाही परिवारों से पांच साल के कार्यकाल के लिए शासन करने के लिए राजा को चुना जाता है।

Take Weekly Tests on app for exam prep and compete with others. Download Current Affairs and GK app

एग्जाम की तैयारी के लिए ऐप पर वीकली टेस्ट लें और दूसरों के साथ प्रतिस्पर्धा करें। डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप

AndroidIOS
Read the latest Current Affairs updates and download the Monthly Current Affairs PDF for UPSC, SSC, Banking and all Govt & State level Competitive exams here.
Jagran Play
खेलें हर किस्म के रोमांच से भरपूर गेम्स सिर्फ़ जागरण प्ले पर
Jagran PlayJagran PlayJagran PlayJagran Play