यदि कोई बच्चा उड़ते विमान में पैदा होता है, तो उसका जन्म स्थान और नागरिकता क्या होगी?

क्या आप जानते हैं कि अगर किसी बच्चे का जन्म उड़ते विमान में हो जाए, तो उस बच्चे का जन्म स्थान और नागरिकता क्या होगी? विमान में जन्म लेने वाले बच्चों की नागरिकता को लेकर हर देश में अलग-अलग दिशा-निर्देश, नीतियां और नियम होते हैं. आइये इसके बारे में अध्ययन करते हैं.
What is the nationality and place of birth of a child born in an aeroplane?
What is the nationality and place of birth of a child born in an aeroplane?

उड़ते विमान में जन्म लेने वाले बच्चों की नागरिकता और जन्म स्थान क्या होगा इस मामले पर अलग-अलग देशों की अपनी-अपनी नीतियां हैं. साथ ही कई एयरलाइनों में उड़ान के माध्यम से यात्रा करने वाली गर्भवती महिलाओं के लिए विशिष्ट दिशानिर्देश भी हैं. 

जानिये क्या होगी नवजात की नागरिकता 

उदाहरण के लिए यदि एक गर्भवती महिला भारत से अमेरिका के लिए उड़ान भरती है और  किसी दूसरे देश की सीमा से गुज़रते समय उसे प्रसव पीड़ा होने लगती  है और वह विमान में ही एक बच्चे को जन्म देती है तो इस केस में बच्चे का जन्म स्थान क्या माना जाएगा और उसकी नागरिकता क्या होगी?

दरअसल नवजात का जन्म स्थान वह देश माना जाएगा, जिस देश से गुज़रते वक्त बच्चे का जन्म हुआ है या फिर वह बच्चा अपने माता-पिता के देश की नागरिकता भी प्राप्त कर सकता है. 

हालांकि, भारत में दोहरी नागरिकता का कोई प्रावधान नहीं है. यहीं आपको बता दें कि विमान में जन्म लेने वाले बच्चों की नागरिकता को लेकर हर देश में अलग-अलग नियम हैं.

भारतीय कानून क्या कहता है?

आइये एक और उदाहरण देखते हैं. यदि बांग्लादेश से अमेरिका जाने वाला विमान भारतीय सीमा से होकर गुज़र रहा है और विमान में एक महिला बच्चे को जन्म दे देती है तो बच्चे का जन्म स्थान भारत माना जाएगा और वह भारत की नागरिकता प्राप्त कर सकता है. उसको अपने माता -पिता की राष्ट्रीयता और भारत की भी नागरिकता दोनों मिल सकती हैं. लेकिन भारत में दोहरी नागरिकता का कोई प्रावधान नहीं है.

ऐसा भी बताया जाता है कि उस दौरान नागरिकता को उन एयरलाइनों द्वारा परिभाषित और स्थापित किया जा सकता है जिनमें आप उड़ान भर रहे हैं. यदि आपका विमान नॉर्वे में पंजीकृत है, भले ही आप प्रशांत क्षेत्र में या किसी भी 2 अलग-अलग देश की सीमाओं के बीच उड़ान भर रहे हों, आप अभी भी नॉर्वे में हैं और आपको नॉर्वेजियन की राष्ट्रीयता का पालन करना होगा.

गर्भवती महिला के लिए फ्लाइट के नियम 

कमर्शियल एयरलाइंस गर्भवती महिलाओं को गर्भावस्था के 36 सप्ताह के बाद उड़ान भरने की अनुमति नहीं देती हैं. गर्भवती महिलाओं को फ्लाइट में चढ़ने से पहले डॉक्टर से उचित सलाह लेने की सलाह दी जाती है. 28 सप्ताह के बाद, गर्भवती महिलाओं द्वारा विमान में यात्रा के लिए एक चिकित्सा प्रमाण पत्र अनिवार्य है, जो 7 दिन से अधिक पुराना नहीं होना चाहिए.

गर्भवती महिलाएं कब और कितनी समय तक दुनिया भर में या यहां तक कि डोमेस्टिक एयरलाइनों द्वारा उड़ान भर सकती हैं, इस पर अलग-अलग नियम और कानून हैं. चिकित्सीय स्थितियों वाली गर्भवती महिलाओं के लिए हवाई यात्रा की अनुशंसा नहीं की जाती है.

उड़ानों के दौरान पैदा हुए बच्चों के संबंध में अमेरिकी नागरिकता कानून 

अमेरिका के मामले में, कोई व्यक्ति जन्म के समय या देशीयकरण (Naturalisation) द्वारा नागरिक बन सकता है. 1944 के अंतर्राष्ट्रीय नागरिक उड्डयन कन्वेंशन के तहत, सभी विमानों में उस देश की राष्ट्रीयता होती है जिसमें वे पंजीकृत होते हैं, और उनमें कई राष्ट्रीयताएं नहीं हो सकती हैं.

इसलिए, 1944 के इस कन्वेंशन के तहत, जन्म के लिए, विमान की "राष्ट्रीयता" का राष्ट्रीयता कानून लागू हो सकता है, और उन जन्मों के लिए जो उड़ान में होते हैं, जबकि विमान किसी भी देश के क्षेत्र या हवाई क्षेत्र के भीतर नहीं है, यह एकमात्र लागू कानून है जो जन्म स्थान के आधार पर नागरिकता प्राप्त करने के संबंध में प्रासंगिक हो सकता है.

हालांकि, अगर विमान किसी अन्य राज्य के क्षेत्र में है या उड़ रहा है, तो उस राज्य का समवर्ती क्षेत्राधिकार भी हो सकता है, अमेरिकी विदेश विभाग के विदेश मामलों के मैनुअल में कहा गया है.

इसके अलावा, भले ही विमान अमेरिका में पंजीकृत हो, लेकिन देश के हवाई क्षेत्र से बाहर हो, ऐसे विमान पर पैदा हुआ बच्चा जन्म स्थान का हवाला देकर अमेरिकी नागरिकता प्राप्त नहीं कर सकता है.

गौरतलब है कि उड़ते विमान में पैदा होने वाले बच्चों की नागिरकता को लेकर सभी देशों में नियम अलग-अलग हैं और कई देशों में तो इस तरह का कोई प्रावधान ही नहीं है.

दर्ज किया जा चुका है पहले ऐसा मामला 

अमेरिका में कुछ वर्ष पहले एक ऐसी ही घटना सामने आई थी जिसमें एम्स्टर्डम से अमेरिका के लिए फ्लाइट के दौरान अटलांटिक महासागर क्षेत्र के ऊपर एक महिला को प्रसव पीड़ा होने लगी और उस महिला ने एक बच्ची को जन्म दिया. माँ और बच्ची को अमेरिका के मैसाचुसेट्स जेनरल हॉस्पिटल ले जाया गया . अब क्योंकि बच्ची का जन्म अमेरिका की सीमा में हुआ था तो उसे अमेरिकी नागरिकता मिली और उसके माता-पिता  नीदरलैंड के तरहे तो उस बच्ची को वहां की भी नागरिकता मिली.

जानें भारत में घूमने के लिए 7 सबसे सस्ती जगहों के बारे में

Get the latest General Knowledge and Current Affairs from all over India and world for all competitive exams.
Jagran Play
खेलें हर किस्म के रोमांच से भरपूर गेम्स सिर्फ़ जागरण प्ले पर
Jagran PlayJagran PlayJagran PlayJagran Play

Related Categories