AICTE के ई-लर्निंग पोर्टल से करें ऑनलाइन कोर्सेज फ्री में

ऑनलाइन कोर्सेज फ्री में उपलब्ध करवाने के लिए AICTE ने स्टूडेंट्स के लिए ई-लर्निंग पोर्टल शुरू किया है. आप इस कोविड -19 लॉकडाउन के दौरान इसका पूरा लाभ उठा सकते हैं और इस पोर्टल के माध्यम से अपनी शिक्षा को बेहतर तरीके से जारी रख सकते हैं.

Created On: Apr 14, 2020 17:44 IST
Free Online Courses from AICTE's E-Learning Portal
Free Online Courses from AICTE's E-Learning Portal

भारत सहित दुनिया भर के कई देशों के लगभग 400 करोड़ से अधिक लोग कोरोना वायरस महामारी के कारण इस समय अपने देश में लागू लॉकडाउन के कारण अपने घर के भीतर ही 24x7 रहते हैं. जिससे देश के तकरीबन सभी कारोबार और कामकाज फिलहाल स्थगित हैं. ऐसे में, स्टूडेंट्स की पढ़ाई भी बुरी तरह प्रभावित हो रही है. यहां तक कि, देश के विभिन्न स्कूलों, कॉलेजों और यूनिवर्सिटीज के रिजल्ट्स भी इस लॉकडाउन की वजह से प्रभावित हुए हैं और इसलिए, देश के एकेडमिक सेक्टर की मजबूती और क्षमता को बनाये रखने के लिए अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (AICTE) ने भारत के सभी स्टूडेंट्स के लिए ऑनलाइन ई-लर्निंग पोर्टल ELIS की शुरुआत की है. आइये इस आर्टिकल में ELIS पोर्टल के बारे में अधिक जानकारी हासिल करें ताकि देश भर के स्टूडेंट्स इन लॉकडाउन के दिनों में इस ELIS पोर्टल से पूरा फायदा उठा सकें.

अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद का परिचय

अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (AICTE) की स्थापना नवंबर, 1945 में राष्ट्रीय स्तर की सर्वोच्च सलाहकार संस्था के तौर पर की गई थी ताकि भारत में तकनीकी शिक्षा के लिए उपलब्ध सुविधाओं का पता लगाने के लिए एक सर्वे किया जा सके और फिर, देश में तकनीकी शिक्षा को बढ़ावा दिया जा सके. वर्तमान मे, AICTE भारत में तकनीकी शिक्षा प्रदान करने के लिए राष्ट्रीय स्तर की परिषद् और वर्ष 1987 से एक सांविधिक निकाय भी है जो मानव संसाधन विकास मंत्रालय, भारत सरकार के उच्च शिक्षा विभाग के तहत काम करती है. भारत में तकनीकी शिक्षा के विकास और मैनेजमेंट के लिए AICTE पूरी तरह जिम्मेदार है. AICTE भारत के विभिन्न संस्थानों में ग्रेजुएट और पोस्टग्रेजुएट कोर्सेज को अपने चार्टर के मुताबिक विशेष श्रेणियों के तहत मान्यता प्रदान करता है.  

स्वयं पोर्टल: भारत में फ्री ऑनलाइन कोर्सेज के लिए स्टूडेंट्स के लिए है बहुत खास

AICTE का ई-लर्निंग पोर्टल: ELIS पोर्टल

AICTE ने सभी स्टूडेंट्स को उनके रेगुलर सब्जेक्ट कोर्सेज के लिए लर्निंग कंटेंट्स उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से ई-लीरिंग पोर्टल उपलब्ध करवाया है. ELIS (एन्हेंसमेंट इन लर्निंग विद इम्प्रूवमेंट इन स्किल्स) का उद्देश्य भारत के सभी स्टूडेंट्स के लिए डिजिटल एजुकेशन मुहैया करवाना है. ELIS पोर्टल का निर्माण सभी स्टूडेंट्स को उनके रेगुलर एजुकेशनल सब्जेक्ट्स की बेहतरीन जानकारी प्रदान करने के साथ ही स्टूडेंट्स के स्किल सेट को निखारना है ताकि वे आगे चलकर अपने कार्यक्षेत्र में एक्सपर्ट बन सकें. आप AICTE की आधिकारिक वेबसाइट पर इस ELIS पोर्टल का इस्तेमाल कर सकते हैं. सबसे अच्छी बात तो यह है कि 15 मई, 2020 तक स्टूडेंट्स इस ई-लर्निंग पोर्टल से फ्री ऑनलाइन कोर्सेज कर सकते हैं जबकि सामान्य परिस्थितियों में स्टूडेंट्स को इन कोर्सेज के लिए 5 हजार रुपये से 20 हजार रुपये तक फीस देनी होगी है. अगर आप इस लॉकडाउन के दौरान इन ऑनलाइन कोर्सेज में से किसी एक कोर्स में एडमिशन लेते हैं तो वह कोर्स समाप्त होने तक आपको उस कोर्स से संबंधित किसी भी प्रकार का कोई भुगतान नहीं करना होगा.

कॉलेज स्टूडेंट्स क्यों करें ऑनलाइन कोर्सेज ? जानें 8 महत्वपूर्ण कारण!

ELIS पोर्टल के लिए कोर्स कंटेंट

यहां हम अपने स्टूडेंट्स को यह भी बताना चाहते हैं कि AICTE के इस ELIS पोर्टल से आप 26 विभिन्न ऑनलाइन कोर्सेज फ्री ऑफ़ कास्ट कर सकते हैं और इन सभी कोर्सेज के लिए ई-लर्निंग कंटेंट्स देश के एजुकेशनल और टेक्निकल सेक्टर की प्रमुख 18 एजू-टेक कंपनियों ने उपलब्ध करवाया है. इन कोर्सेज में प्रमुख कोर्सेज हैं – मशीन लर्निंग, पाइथन, डाटा एनालिटिक्स और बिग डाटा में डिप्लोमा आदि.

जॉब, इंटरव्यू, करियर, कॉलेज, एजुकेशनल इंस्टीट्यूट्स, एकेडेमिक और पेशेवर कोर्सेज के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करने और लेटेस्ट आर्टिकल पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट www.jagranjosh.com पर विजिट कर सकते हैं.

जानिये ऑनलाइन लर्निंग के लिए कौन-सी हैं 5 बेहतरीन वेबसाइट्स ?

Comment (0)

Post Comment

5 + 9 =
Post
Disclaimer: Comments will be moderated by Jagranjosh editorial team. Comments that are abusive, personal, incendiary or irrelevant will not be published. Please use a genuine email ID and provide your name, to avoid rejection.