Jagran Josh Logo

कामयाबी के शिखर पर पहुँचने के कुछ आसान रास्ते

Feb 13, 2018 15:48 IST
    Some easy routes to reach the summit of success
    Some easy routes to reach the summit of success

    वस्तुतः जीवन में हर कोई एक सफल व्यक्ति बनकर सुखमय जिन्दगी व्यतीत करने की इच्छा रखता है या फिर इसकी कल्पना करता है. कल्पना करते समय उसका ध्यान हमेशा सफलता प्राप्ति के बड़े बड़े उपायों की तरफ जाता है लेकिन उस दौरान वह यह बिलकुल भूल जाता है कि जीवन में अगर छोटी छोटी बातों का ध्यान रखना शुरू किया जाय तो बड़ी घटनाएं बिना किसी अधिक प्रयास के स्वतः ही घटने लगती हैं. ध्यान रखिये जिन्दगी की हर कड़ी, कहीं कहीं एक दूसरे से जुड़ी हुई है तथा हमेशा ये कड़ियां एक दूसरे की पूरक होती हैं. अतः हमेशा जीवन में बेअसर तथा छोटे से लगने वाले पहलुओं पर गौर करते हुए अपने जीवन यात्रा को महान बनाने की कोशिश कीजिये. इसके लिए निम्नांकित 5 बातों का ध्यान हमेशा रखें –

    1. व्यवस्थित रहते हुए साफ-सफाई का पर्याप्त ध्यान रखें

    जब सफल होने की बात आती है तो कोई भी व्यक्ति इसके पीछे साफ़-सफाई को मुख्य वजह नहीं मानता है. अपनी सभी चीजों को व्यवस्थित और साफ-सुथरा रखना हमें अपने दैनिक कामकाज की तरह ही लगता है जिसका सफलता से कोई लेना-देना नहीं है. लेकिन साफ़-सफाई रखना एक आदत के रूप में चुनौतियों का सामना करने की क्षमता पैदा कर सकता है. असल में, इस तरह की साधारण आदतें बहुत आसानी से अपनाई जा सकती हैं और फिर हम तनाव मुक्त और शांत रहते हैं क्योंकि साफ़-सफाई और सुव्यवस्था रखने पर हमें अपनी प्रत्येक वस्तु जरूरत पड़ने पर आसानी से मिल जाती है. ध्यान रखिये एक स्थिर मन तथा व्यवस्थित व्यक्तित्व वाला व्यक्ति ही इन कामों को आसानी से कर पाता है और किसी भी क्षेत्र में सफलता प्राप्ति के लिए सिस्टमेटिक और शांत चित्त होना बहुत जरुरी है.    

    उदाहरण के लिए, यदि आप अपने काम या अध्ययन डेस्क को हमेशा व्यवस्थित रखते हैं तो आपको वहां बैठकर काम करना या अध्ययन करना काफी अच्छा लगेगा. इसके अतिरिक्त, आपको जरूरत पड़ने पर अपनी हर चीज़ तुरंत मिल जायेगी और उस वस्तु को तलाशने में लगने वाला आपका काफी समय बच जाएगा. इससे एक तरफ समय की बचत तो होगी ही आपका मन भी प्रसन्नचित और प्रफुल्लित रहेगा. कहते हैं न कि मन के हारे हार है मन के जीते जीत.

    2.आपके पास जो कुछ भी है उसके लिए कृतज्ञ रहें

    वैसे तो सफलता और जीवन के हरेक क्षेत्र में सफल होना किसी मंजिल के बजाय एक अंतहीन यात्रा है. अन्य सभी यात्राओं की तरह सफलता की यात्रा में भी हम महसूस करते हैं कि हम कहां हैं? हमारे पास क्या है और हमें किस मुकाम पर पहुंचना है? इसलिए, युवा पेशेवरों द्वारा उनके पास क्या है उसे अपना सौभाग्य समझना और उसके लिए ईश्वर का आभारी होना बहुत महत्वपूर्ण है.

    कृतज्ञता का रवैया चुनना जीवन में सकारात्मक दृष्टिकोण विकसित करने में काफी सहायता करता है और फिर हम अपने जीवन के बड़े से बड़े लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए आगे बढ़ने हेतु प्रेरित होते हैं. आज से आप उन तीन चीजों की पहचान करके सूची बनाएं जिनके लिए आप आभारी हैं. ये चीजें कुछ भी हो सकती हैं जिन्हें पाकर आपको ख़ुशी या संतोष महसूस होता है. चाहे वह किसी दिन सुबह का बढ़िया नाश्ता हो या आपकी कोई सफल मीटिंग या फिर कम भीड़ वाली बस या मेट्रो मिलने जैसा कुछ भी आप इस सूची में शामिल कर सकते हैं. दरअसल खुशी अपने अन्दर होती है और हमें उसका एहसास मात्र करना होता है.

    एक बार जब आप रोजाना छोटी-छोटी बातों में खुश महसूस करना शुरू कर देते हैं तो फिर अपने पेशे या निजी जीवन की बड़ी समस्याओं से निपटने के लिए भी आपको इससे काफी मदद मिलती है. अगर एक बार आपका दृष्टिकोण ऐसा हो गया तो आपको सफल होने से कोई नहीं रोक सकता है.  

    3. अपने आप को समझें

    व्यस्त और चुनौतीपूर्ण काम और निजी कार्यक्रमों के साथ, अपने लिए कुछ समय निकालना आजकल तकरीबन हरेक व्यक्ति के लिए असंभव हो गया है. जब आप लगातार सहकर्मियों, परिवार के सदस्यों और दोस्तों से घिरे रहते हैं तो अपने लक्ष्य और महत्वाकांक्षा के बारे में गंभीरतापूर्वक सोचने के लिए समय निकालना आपके लिए असंभव हो जाता है. चुनौतीपूर्ण कार्य शैली और आधुनिक सामाजिक जीवन को बनाए रखने के दबाव में आप अपने लिए कुछ समय बिलकुल नहीं निकाल पाते हैं.

    लेकिन कई मनोवैज्ञानिकों का ऐसा मानना है, “जबकि 21 वीं सदी ने हम सभी को और करीब ला दिया है तो भी इसने हमें खुद से अलग कर दिया है.” इसलिए, यदि आप सफल होना चाहते हैं तो अपने लिए रोजाना कुछ समय अवश्य निकालें. लेकिन, इसका अर्थ यह नहीं है कि आप उस समय सो जायें या टीवी देखें या सोशल मीडिया से चिपके रहें; आपको अपने इस समय का उपयोग अपने साथ जुड़ने, आत्म-मंथन करने और अपने जीवन के अर्थ को समझने के लिए करना चाहिए. जैसे आप यह विचार कर सकते हैं कि क्या आप अपने मौजूदा जीवन से संतुष्ट हैं या नहीं? इन सभी बातों का चिंतन करते समय आपको अपने आप को समझने का मौका मिलेगा और इससे आप अपनी कमजोरियों और खूबियों दोनों को बखूबी जान पायेंगे. आप चाहें तो भविष्य में अपनी कमियों को दूर कर तथा अच्छाइयों को और बढ़ाकर अपने बहुत सारे लक्ष्यों को बड़ी सरलता से प्राप्त कर सकते हैं.   

    4. बाह्य जगत से संपर्क की अपनी सीमाएं निर्धारित करें

    वस्तुतः हम यहाँ,टीवी, सिनेमा तथा सोशल मीडिया से दूर रहने का विचार आपके सामने रख रहे हैं और इसके पीछे एक बहुत ही वैध कारण है. इसमें कोई संदेह नहीं है कि सोशल मीडिया प्लेटफार्म जैसे कि फेसबुक, ट्विटर और इंस्टाग्राम, आजकल हमारे रोजमर्रा के जीवन का अभिन्न अंग बन गए हैं और उनसे दूर रहना अब एक अच्छी-खासी चुनौती बन चुकी है.

    लेकिन जहां एक तरफ ये साधन अपडेटेड रहने, जानकारी प्राप्त करने और मनोरंजन का बड़ा स्रोत हैं, वहीं दूसरी तरफ ये साधन रोजाना हमारा काफी समय बरबाद कर देते हैं. इसलिए, अपनी ऑनलाइन समय-सीमा अवश्य निर्धारित करें.जीवन में समय का बहुत महत्व है. बाह्य जगत से संपर्क रोचक लगता है लेकिन कभी कभी यह हमारे जीवन के बहुत कीमती पल हमसे चुरा लेता है, जिसकी भरपाई किसी भी रूप में नहीं की जा सकती है. कहते हैं समय और लहरें किसी का इंतजार नहीं करती और जो इनकी कीमत नहीं समझता ये उसे बर्बाद कर डालती हैं. इसलिए जीवन में सफलता के लिए अपना कैलकुलेशन अपने समय पर करते हुए बाह्य जगत से यथोचित संबंध ही बनायें.

    यह आपके लिए बहुत महत्वपूर्ण है. हमारा कहने का मतलब यह है कि अपने काम के लिए कंप्यूटर स्क्रीन के सामने पूरा दिन बिताने के बाद, अपने घर लौटने के दौरान अपने फेसबुक फीड को देखने के बजाय, अपने स्मार्टफोन और कंप्यूटर को अलग रख दें और वास्तविक जीवन के साथ जुड़ने के लिए कुछ समय निकालें.

    उचित ऑनलाइन सीमाएं निर्धारित करने से आपका बहुत अधिक समय बच जाएगा जिससे आप अन्य लोगों, विशेष रूप से अपने दोस्तों, सहकर्मियों और परिवार के सदस्यों के साथ बेहतर तरीके से जुड़ सकेंगे. प्रारंभ में इसके लिए आप हर रोज 30 मिनट अपने कार्यालय में और 30 मिनट अपने घर में एक 'डिजिटल डिटोक्स घंटा' निर्धारित कर सकते हैं और इस दौरान आप अपने कंप्यूटर और स्मार्टफ़ोन को बंद करके अपने जीवन के अन्य महत्वपूर्ण और अधिक जरुरी कार्य कर सकते हैं.

    दरअसल जीवन की कई अलग-अलग दैनिक आदतों में से ये कुछ ऐसी आदतें हैं जो आपको  जीवन में सफलता हासिल करने में आपकी बहुत हद तक सहायता कर सकती हैं. इन आदतों को अपनाकर आप व्यावसायिक सफलता प्राप्त करने के साथ ही अपने आस-पास के लोगों के दिल को छूकर एक अच्छे इंसान बन सकते हैं.

    इसलिए हमेशा अपनी आदतों में स्पष्ट रूप से दिखाई देने वाले कुछ सकारात्मक बदलाव लाने की कोशिश कीजिये ताकि आपको अपने जीवन के चतुर्दिक विकास का पर्याप्त अवसर मिल सके.

    Commented

      Latest Videos

      Register to get FREE updates

        All Fields Mandatory
      • (Ex:9123456789)
      • Please Select Your Interest
      • Please specify

      • By clicking on Submit button, you agree to our terms of use
        ajax-loader
      • A verifcation code has been sent to
        your mobile number

        Please enter the verification code below

      Newsletter Signup
      Follow us on
      X

      Register to view Complete PDF