Jagran Josh Logo
  1. Home
  2. |  
  3. Board Exams|  

UP Board Class 10 Science Notes : Methods of preparation, properties and uses of some salts part-III

Apr 27, 2017 10:55 IST
  • Read in hindi

Find chapter notes for UP Board class 10th Science notes on chapter 11(Methods of preparation, properties and uses of some salts) third part from here. These notes are based on chapter 11 (Methods of preparation, properties and uses of some salts) of class 10th science subject. Read this article to get the notes, here we are providing each and every notes in a very simple and systematic way.The main topic cover in this article is given below :

1.खाने का सोडा अथवा बेकिंग पाउड,

2. प्रमुख गुण (important properties),

3. उष्मा का प्रभाव,  अम्लों से क्रिया,

4. उपयोग (uses),

5. फिटकरी (Alum), बनाने की विधि,

6. प्रमुख गुण (important properties),

7.उपयोग (uses)|

खाने का सोडा अथवा बेकिंग पाउडर :

baking powder chemical equation

प्रमुख गुण (important properties) :

भौतिक गुण (Physical properties ):

1. सोडियम हाइड्रोजनकार्बोनेट या सोडियम बाइकार्बोनेट एक सफेद क्रिस्टलीय पदार्थ है|

2. यह जल में अल्प मात्रा में विलेय है| इसका विलयन क्षारीय होता है|

3. इसे कच्चे दूध में मिलाने से दूध देर से फटता है|

रासायनिक गुण (chemical properties) :

1. ऊष्मा का प्रभाव – 100 तक गर्म करने पर यह सोडियम कार्बोनेट में अपघटित हो जाता है|

chemical properties of baking soda

उपयोग (uses) : इसके प्रमुख उपयोग निम्नलिखित हैं-

1. पेट में अमलता हो जाने पर दवा के रूप में|

2. आग बुझाने वाले यंत्रों में|

3. शीतल पेय, सोडा वाटर तथा फ्रूट साल्ट बनाने में|

4. प्रयोगशाला में अभीकर्मक के रूप में|

5. डबल रोटी में प्रयुक्त बेकिंग पावडर बनाने में|

6. परिवार नियोजन के लिए झाग गोलियां तथा सेडलीट्स चूर्ण बनाने में|

UP Board Class 10 Science Notes : Methods of preparation, properties and uses of some salts part-I

फिटकरी (Alum):

रासायनिक नाम : पोटैशियम ऐलुमिनियम सल्फेट               [अनुसुत्र : K2SO4.Al2(SO4)3.24H2O]

फिटकरी पोटैशियम सल्फेट का डबल साल्ट(double salt) है|

बनाने की विधि-

1. पोटैशियम सल्फेट (K2SO4) तथा अल्युमिनियम सल्फेट [Al2(SO4)3] के मिश्रण के जलीय घोल का सांद्रण करने पर फिटकरी के क्रिस्टल प्राप्त होते हैं|

manufacturing process of alum

इसके अनुरूप संरचना एवं गुणों वाले द्विक सल्फेटों को फित्कारियां कहते हैं| फिटकरी शब्द पोटाश ऐलम के लिए प्रयुक्त किया जाता है|

प्रमुख गुण (important properties) :

भौतिक गुण (physical properties):

1. फिटकरी एक रंगहीन, क्रिस्टल, अल्प पारदर्शक ठोस पदार्थ है|

2. फिटकरी में 24 अनु क्रिस्टलन जल होता है|

3. यह जल में विलेय है तथा इसका जलीय विलयन अम्लीय होता है|

UP Board Class 10 Science Notes : Methods of preparation, properties and uses of some salts part-II

रासायनिक गुण (chemical properties) :

1. ऊष्मा का प्रभाव : फिटकरी 90C पर गर्म करने पर पिघल जाती है तथा 200C पर इसका सम्पूर्ण क्रिस्टलन निकल जाता हैं| इस प्रकार एक सफ़ेद रंग का सरंध्र(porous) पदार्थ बन जाता है; दगध फिटकरी (burnt alum) कहते हैं|

chemical properties of alum

रक्त तप्त ताप पर दग्ध फिटकरी विघटित हो जाती है|

chemical properties of alum second equation

2. कास्टिक सोडा से अभिक्रिया : फिटकरी का विलयन कास्टिक सोडा से क्रिया करके ऐलुमिनियम हाइड्रोक्साइड का सफ़ेद अवक्षेप देता है जोकि कास्टिक सोडा की अधिकता में घुल जाता है|

process of caustic soda

उपयोग (uses) : इसके प्रमुख उपयोग निम्नलिखित हैं-

1. बहते हुए रक्त को रोकने में|

2. जल के शोषण में|

3. कपड़ों की रंगे और छापी में|

4. चमड़ा तथा कागज़ ऊद्योग में इन्हें चिकना करने में|

5. आँखों की दवाई के रूप में|

6. जिवाणु-नाशक तथा पुतिरोधी के रूप में|

UP Board Class 10 Science Notes : Acid, Alkali and Salt, Part-I

 

Latest Videos

Register to get FREE updates

    All Fields Mandatory
  • (Ex:9123456789)
  • Please Select Your Interest
  • Please specify

  • ajax-loader
  • A verifcation code has been sent to
    your mobile number

    Please enter the verification code below

Newsletter Signup
Follow us on
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK
X

Register to view Complete PDF