China’s Population: वर्ष 1961 के बाद पहली बार घटी चीन की आबादी, यहाँ जानें वजह

वर्ष 1961 के बाद पहली बार चीन की आबादी में पिछले साल गिरावट दर्ज की गयी है. चीन के राष्ट्रीय सांख्यिकी ब्यूरो की रिपोर्ट में कहा गया है कि 2022 के अंत में देश की आबादी 1.41175 बिलियन है जो एक साल पहले 1.41260 बिलियन थी. 

वर्ष 1961 के बाद पहली बार घटी चीन की आबादी
वर्ष 1961 के बाद पहली बार घटी चीन की आबादी

China’s Population: वर्ष 1961 के बाद पहली बार चीन की आबादी में पिछले साल गिरावट दर्ज की गयी है. इस गिरावट के बाद यह उम्मीद जताई जा रही है कि भारत जल्द ही दुनिया का सबसे अधिक आबादी वाला देश बन जायेगा. 

रॉयटर्स की एक रिपोर्ट के अनुसार, चीन के बेइडू (Baidu) सर्च इंजन पर बेबी स्ट्रॉलर के ऑनलाइन सर्च में 17 प्रतिशत तक की कमी देखी गयी है. साल 2018 के बाद से बेबी स्ट्रॉलर सर्च में 41 प्रतिशत की कमी आई है. हालांकि यह ट्रेंड भारत में उल्टा चल रहा है. भारत में ऑनलाइन बेबी स्ट्रॉलर सर्च में वृद्धि देखी जा रही है.     

चीन के राष्ट्रीय सांख्यिकी ब्यूरो का डेटा:

चीन के राष्ट्रीय सांख्यिकी ब्यूरो (National Bureau of Statistics) की रिपोर्ट में कहा गया है कि 2022 के अंत में देश की आबादी 1.41175 बिलियन है जो एक साल पहले 1.41260 बिलियन थी. इससे यह स्पष्ट है कि चीन के आबादी में इतने लम्बे दशक के बाद गिरावट दर्ज की गई है.

इस रिपोर्ट के अनुसार, वर्ष 2022 में जन्म दर (Birth rate) प्रति 1,000 लोगों पर 6.77 थी. जबकि वर्ष 2021 में यह दर 7.52 प्रति 1,000 थी. 

चीन में वर्ष 1976 के बाद से उच्चतम मृत्यु दर भी दर्ज की गयी है जो वर्ष बीते साल 2022 में वर्ष 2021 की तुलना में अधिक है. वर्ष 2021 में 7.18 मौतों प्रति 1,000 लोगों पर हुई थी जबकि वर्ष 2022 में बढ़कर 7.37 प्रति 1,000 हो गया था.

2050 तक 109 मिलियन कम हो सकती है आबादी:

संयुक्त राष्ट्र के पूर्वानुमानों के अनुसार चीन की आबादी 2050 तक 109 मिलियन कम हो जाएगी, जो कि 2019 में दिए गए पिछले आकड़े की तुलना में तीन गुना अधिक है.   

हालांकि चीन में स्थानीय सरकारों ने 2021 से लोगों को अधिक बच्चे पैदा करने के लिए प्रोत्साहित करने के उपायों को शुरू किया है, लेकिन इन प्रयासों से दीर्घकालिक प्रवृत्ति को रोकने की उम्मीद कम ही दिख रही है.

चीन में आबादी घटने का कारण:

एक-बच्चे की नीति: चीन में जनसांख्यिकीय मंदी की सबसे बड़ी वजह, चीन में लागू एक-बच्चे की नीति (one-child policy) है. यह गिरावट उस नीति का ही परिणाम है. चीन में एक बच्चा नीति वर्ष 1980 और 2015 के बीच लागू की थी. 

साथ ही बढ़ती महगाई, और बढ़ती शिक्षा लागतों के कारण लोगों ने एक से अधिक बच्चे पैदा करने के बारें में नहीं सोचा. इसे भी एक जनसांख्यिकीय मंदी के कारणों के रूप में देखा जा रहा है.

चीन के जनसंख्या विशेषज्ञों ने कहा कि चीन की कठोर जीरो-कोविड पॉलिसी जनसांख्यिकीय दृष्टिकोण को और नुकसान पहुंचाया है. 

इसे भी पढ़े:

Gina Lollobrigida: अभिनेत्री जीना लोलोब्रिगिडा का निधन, जिनकों मिला था सबसे खूबसूरत महिला का टैग

Take Weekly Tests on app for exam prep and compete with others. Download Current Affairs and GK app

एग्जाम की तैयारी के लिए ऐप पर वीकली टेस्ट लें और दूसरों के साथ प्रतिस्पर्धा करें। डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप

AndroidIOS
Read the latest Current Affairs updates and download the Monthly Current Affairs PDF for UPSC, SSC, Banking and all Govt & State level Competitive exams here.
Jagran Play
खेलें हर किस्म के रोमांच से भरपूर गेम्स सिर्फ़ जागरण प्ले पर
Jagran PlayJagran PlayJagran PlayJagran Play