India’s Q1 GDP Growth Report: चालू वित्तीय वर्ष की पहली तिमाही में भारत की GDP 13.5% की दर से बढ़ी

India’s Q1 GDP Growth Report: जुलाई-सितंबर, 2022 (2022-23 की दूसरी तिमाही) तिमाही के लिए तिमाही GDP अनुमानों की अगली रिपोर्ट 30.11.2022 को जारी की जाएगी.

India’s Q1 GDP Growth Report
India’s Q1 GDP Growth Report

India’s Q1 GDP Growth Report: राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (NSO) ने हाल ही में वित्त वर्ष 2022-23 की पहली तिमाही में सकल घरेलू उत्पाद (GDP) 36.85 लाख करोड़ रहने का अनुमान लगाया है. जो 2021-22 की पहली तिमाही में 32.46 लाख करोड़ थी. पहली तिमाही (2021-22) के 20.1 प्रतिशत की तुलना में इस बार 13.5 प्रतिशत से वृद्धि की है. मंत्रालय ने स्थिर (2022-23) और वर्तमान मूल्य दोनों पर 2022-23 की पहली तिमाही (अप्रैल-जून) के लिए GDP के अनुमानों को जारी किया है जो राष्ट्रीय लेखा के जारी कलैण्डर के अनुसार है.

2022-23 की पहली तिमाही में नॉमिनल GDP या GDP 2021-22 की पहली तिमाही में ₹ 51.27 लाख करोड़ के मुकाबले ₹ 64.95 लाख करोड़ रहने का अनुमान है, जो 2021-22 की पहली तिमाही के 32.4 % की तुलना में 26.7 % की वृद्धि दर्शाता है.

GDP 13.5% की दर से क्यों बढ़ी?

सरकार द्वारा साझा किए गए आंकड़ों की समीक्षा कर रहे विश्लेषकों और अर्थशास्त्रियों के अनुसार, सभी प्रमुख क्षेत्रों ने वित्त वर्ष 23 की पहली तिमाही के दौरान सकारात्मक वृद्धि दर्ज की है. कई विशेषज्ञों ने पिछली तिमाही (जनवरी-फरवरी-मार्च 2022) की तुलना में सकल घरेलू उत्पाद की संख्या में महत्वपूर्ण उछाल के लिए निजी खपत में तेजी को जिम्मेदार ठहराया है. इसके अलावा, कई अन्य क्षेत्र जो महामारी के प्रभाव से जूझ रहे थे, उनमें भी गिरावट COVID-19 आशंकाओं के बीच ठीक हुई है.  निजी खपत में लगभग 26 प्रतिशत की वृद्धि देखी गई है.

GDP अनुमान के क्या थे आधार:

राष्ट्रीय खातों के तिमाही अनुमान संकेतक आधारित होते हैं जो  विभिन मंत्रालयों, निजी एजेंसियों से मिले डेटा इनपुट अनुमानों के आधार पर होता है. GDP अनुमान का संकलन निम्न क्षेत्रों जैसे औद्योगिक उत्पादन सूचकांक, कंपनियों के लिए उपलब्ध तिमाही वित्तीय परिणामों के आधार पर निजी कॉर्पोरेट क्षेत्र में सूचीबद्ध कंपनियों का वित्तीय प्रदर्शन, 2022-23 के लिए फसल उत्पादन लक्ष्य, उत्पादन 2022-23 के लिए प्रमुख पशुधन उत्पादों के लक्ष्य, सीमेंट और स्टील का उत्पादन/खपत, प्रमुख समुद्री बंदरगाहों पर माल ढुलाई, और वाणिज्यिक वाहनों की बिक्री क्षेत्रों से मिले संकेतकों के आधार पर तैयार किया गया है.

अनुमान के अनुरूप नहीं रही वृद्धि:

अप्रैल-मई-जून तिमाही के लिए सकल घरेलू उत्पाद का आंकड़ा पिछली तिमाही यानी जनवरी-फरवरी-मार्च 2022 की तुलना में एक महत्वपूर्ण सुधार था जिसमें भारत की जीडीपी में केवल 4.1% की वृद्धि हुई थी. पिछले वर्ष की इसी तिमाही में - अप्रैल-मई-जून 2021 में देश ने 20.1 % की जीडीपी वृद्धि देखी गई थी; हालाँकि, महामारी के उस वर्ष में आर्थिक संकुचन के कारण यह आंकड़ा बढ़ गया था.

क्षेत्रवार विश्लेषण नीचे दी गई तालिका में देखा जा सकता है:

क्षेत्र Q1 FY23 Q1 FY22
कृषि, वानिकी और मत्स्य पालन 4.50% 2.20%
खनन और उत्खनन 6.50% 18%
उत्पादन 4.80% 49%
निर्माण 16.80% 71.30%
बिजली, गैस, जल और अन्य 14.70% 13.80%
व्यापार, होटल, परिवहन, आदि 25.70% 34.30%
वित्त, अचल संपत्ति, पेशेवर सेवाएं 9.20% 2.30%
लोकसेवा, रक्षा और अन्य सेवाएं 26.30% 6.20%
मूल कीमत पर योजित सकल मूल्य (GVA)  12.70% 18.10%

Take Weekly Tests on app for exam prep and compete with others. Download Current Affairs and GK app

एग्जाम की तैयारी के लिए ऐप पर वीकली टेस्ट लें और दूसरों के साथ प्रतिस्पर्धा करें। डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप

AndroidIOS
Read the latest Current Affairs updates and download the Monthly Current Affairs PDF for UPSC, SSC, Banking and all Govt & State level Competitive exams here.
Jagran Play
खेलें हर किस्म के रोमांच से भरपूर गेम्स सिर्फ़ जागरण प्ले पर
Jagran PlayJagran PlayJagran PlayJagran Play