Natasa Pirc Musar: नतासा पिर्क मुसर चुनी गईं स्लोवेनिया की पहली महिला राष्ट्रपति, जानें इनके बारे में

Natasa Pirc Musar: स्लोवेनिया की पहली महिला राष्ट्रपति के रूप में नतासा पिर्क मुसर को चुना गया है. यूरोपियन देश स्लोवेनिया में हाल ही में संपन्न हुए राष्ट्रपति चुनाव में नतासा ने राष्ट्रपति चुनाव के दूसरे दौर में जीत हासिल की है जानें उनके बारे में

नतासा पिर्क मुसर चुनी गईं स्लोवेनिया की पहली महिला राष्ट्रपति
नतासा पिर्क मुसर चुनी गईं स्लोवेनिया की पहली महिला राष्ट्रपति

Natasa Pirc Musar: स्लोवेनिया की पहली महिला राष्ट्रपति के रूप में नतासा पिर्क मुसर (Natasa Pirc Musar) को चुना गया है. यूरोपियन देश स्लोवेनिया में हाल ही में संपन्न हुए राष्ट्रपति चुनाव में नतासा पिर्क मुसर ने राष्ट्रपति चुनाव के दूसरे दौर में जीत हासिल की है और वह अब देश की पहली महिला राष्ट्रपति बनेंगी.

नतासा पेशे से वकील है, स्लोवेनिया के चुनाव आयोग के आंकड़ों के मुताबिक लगभग सभी मतों की गिनती के बाद नतासा ने 54% वोट हासिल किये है. जबकि उनके प्रतिद्वंद्वी और पूर्व विदेश मंत्री एंड्ज़ लोगर (Andze Logar) को 46% वोट हासिल हुए है. स्लोवेनिया में इस चुनाव में वोटिंग 49.9% थी.

नतासा ने इंडिपेंडेंट लड़ा इलेक्शन:  

नतासा ने बिना किसी पॉलिटिकल पार्टी के यह चुनाव लड़ा था जो अपने आप में एक बड़ी बात है. उन्होंने बिना किसी पॉलिटिकल बैकग्राउंड के यह इलेक्शन लड़ा और एतिहासिक जीत दर्ज की है. वह वर्तमान राष्ट्रपति बोरुत पाहोर (Borut Pahor) का स्थान लेंगी, जिन्होंने  पहले से ही अपना दो कार्यालय पूरा कर लिया है. 

कौन है नतासा पिर्क मुसर?

नतासा एक फॉर्मर टीवी प्रेसेंटेटर और एक फेमस वकील है. साथ ही वह ह्यूमन राइट्स एक्टिविस्ट भी है. उन्होंने लम्बे समय से देश के डेटा प्रोटेक्शन अथोरिटी का नेतृत्व भी किया है.

अप्रैल 2003 में, वह सेंटर फॉर एजुकेशन एंड इंफॉर्मेशन के निदेशक के रूप में स्लोवेनिया के सुप्रीम कोर्ट में कार्यभार सम्भाला था. 

पूरा नाम  नतासा पिर्क मुसर (Natasa Pirc Musar) 
जन्म  09 मई 1968
पॉलिटिकल पार्टी इंडिपेंडेंट (निर्दल)
शिक्षा (पीएचडी)   वियना यूनिवर्सिटी 
रेड क्रॉस ऑफ़ स्लोवेनिया की प्रेसिडेंट  2015-16
इन्फोर्मेशन कमिशनर ऑफ़ स्लोवेनिया   2004-2014 

मेलानिया ट्रम्प की वकील रह चुकी है नतासा :

नतासा ने स्लोवेनिया में कॉपीराइट और अन्य मामलों में अमेरिका की पूर्व प्रथम महिला मेलानिया ट्रम्प का प्रतिनिधित्व किया था.

दक्षिणपंथी विचारधारा को लगा झटका:

स्लोवेनिया का यह चुनाव देश के दक्षिणपंथी विचारधारा के लिए एक बड़े झटके के रूप में देखा जा रहा है. साथ ही स्लोवेनिया की जनता ने वर्तमान राष्ट्रपति बोरुत पाहोर के नेतृत्व को नकार दिया है.

 दक्षिणपंथी पूर्व प्रधान मंत्री जनेज़ जानसा की पिछली सरकार में विदेश मंत्री रहे लोगर ने आवश्यक बहुमत हासिल किए बिना अक्टूबर में पहला दौर जीता था. लेकिन पिछले कुछ हफ्तों के चुनावों मुसर को अच्छा जनसमर्थन मिला और उन्होंने जीत हासिल की.   

जीत के बाद नतासा ने क्या कहा?

इस जीत के बाद 54 वर्षीय नतासा ने कहा कि वह स्लोवेनिया को "कोर यूरोप" से जोड़ना चाहती हैं, खासकर उन देशों के साथ जो मानवाधिकारों और संवैधानिक मूल्यों में विश्वास करते हैं.

स्लोवेनिया के बारे में:

स्लोवेनिया, एक मध्य यूरोप का देश है, जो 20वीं शताब्दी के अधिकांश समय तक यूगोस्लाविया का हिस्सा था. स्लोवेनिया की सीमा पश्चिम में इटली, दक्षिण-पश्चिम में एड्रियाटिक सागर, में क्रोएशिया, उत्तर-पूर्व में हंगरी, दक्षिण और पूर्व में क्रोएशिया और उत्तर में आस्ट्रिया से लगाती है. इसकी राजधानी ल्युब्ल्याना (Ljubljana) है.

स्लोवेनिया का 40% अंदरूनी भू-भाग पर्वतीय और पठारीय है. स्लोवेनिया का सबसे ऊंचा शिखर माउंट त्रिग्लेव 2,864 मीटर ऊँचा है.यहाँ मुख्य रूप से स्लोवेनियाई भाषा बोली जाती है.       

इसे भी पढ़े

कोलकाता के श्लोक मुखर्जी बने इंडिया डूडल फॉर गूगल 2022 के विजेता, जानें इस कांटेस्ट के बारे में

Take Weekly Tests on app for exam prep and compete with others. Download Current Affairs and GK app

एग्जाम की तैयारी के लिए ऐप पर वीकली टेस्ट लें और दूसरों के साथ प्रतिस्पर्धा करें। डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप

AndroidIOS
Read the latest Current Affairs updates and download the Monthly Current Affairs PDF for UPSC, SSC, Banking and all Govt & State level Competitive exams here.
Jagran Play
खेलें हर किस्म के रोमांच से भरपूर गेम्स सिर्फ़ जागरण प्ले पर
Jagran PlayJagran PlayJagran PlayJagran Play