स्टीफन हॉकिंग की 6 महत्वपूर्ण खोजें

स्टीफन हॉकिंग एक प्रसिद्ध वैज्ञानिक और खगोल भौतिकविद थे. उनकी प्रमुख खोज ब्लैक होल और महाविस्फोट का सिद्धांत (Big Bang Theory)  था. आइये इस लेख के माध्यम से स्टीफन हॉकिंग की 6 महत्वपूर्ण खोजों के बारे में अध्ययन करते हैं.
Mar 14, 2018 16:10 IST
    6 important discoveries of Stephen Hawking

    स्टीफन हॉकिंग का जन्म 8 जनवरी 1942 ईस्वी में इंग्लैंड में हुआ था. वह एक वैज्ञानिक और प्रसिद्ध खगोल भौतिकविद थे. उन्होंने अपने रिसर्च का ज्यादातर समय ब्लैक होल और स्पेस-टाइम के सिद्धान्तों पर शोध में बिताया. इस संबंध में उन्होंने कई पत्र भी प्रकाशित किए जिससे वैज्ञानिक दुनिया में उनका एक बड़ा नाम हुआ. उनकी सबसे प्रसिद्ध खोज थी जब उन्होंने साबित किया था कि ब्लैक होल से भी कुछ मात्रा में रेडिएशन निकलती है जिसे उन्होंने हॉकिंग रेडिएशन कहा. साल 1998 में उनकी किताब A brief History of Time प्रकाशित हुई. इस किताब में उन्होंने महाविस्फोट का सिद्धांत (Big Bang Theory) और ब्लैक होल के बारे में लिखा है. हॉकिंग भौतिक विज्ञान के कई अलग-अलग लेकिन समान रूप से मूलभूत क्षेत्र जैसे गुरुत्वाकर्षण, ब्रह्मांड विज्ञान, क्वांटम थ्योरी, सूचना सिद्धांत और थर्मोडायनमिक्स को एक साथ ले आए थे. क्या आप जानते हैं कि 2014 में स्टीफन हॉकिंग की प्रेरक जिंदगी पर आधारित फिल्म 'द थिअरी ऑफ एवरीथिंग'  रिलीज हुई थी. आइये इस लेख के माध्यम से  उनकी महत्वपूर्ण खोजों के बारे में अध्ययन करते है.
    स्टीफन हॉकिंग की 6 महत्वपूर्ण खोजें
    1. सिंगुलैरिटी का सिद्धांत (Theory of Singularity) – 1970
    आइंस्टीन के गुरुत्वाकर्षण के सिद्धांत भी सिंगुलैरिटी के बारे में बताते हैं. उनका सिद्धांत यह है कि काल और अंतरिक्ष यानी टाइम एंड स्पेस में किसी भी भारी पिंड की वजह से जो झोल पड़ जाता है, वही गुरुत्वाकर्षण है. आइंस्टीन के अनुसार सिंगुलैरिटी वह बिंदु है जहां से टस्पेस-टाइम एक असीम रूप से वक्रित हुआ. लेकिन उस समय यह स्पष्ट नहीं था कि क्या सिंगुलैरिटी वास्तविक भी है या नहीं. फिर हॉकिंग को शोध के दौरान पता चला कि बिग-बैंग दरअसल ब्लैक होल का उलटा पतन ही है. उन्होंने पेनरोज़ के साथ मिलकर 1970 में एक शोधपत्र प्रकाशित किया और दर्शाया कि सामान्य सापेक्षता का अर्थ ये है कि ब्रह्मांड ब्लैक होल के केंद्र (सिंगुलैरिटी) से ही शुरु हुआ होगा. इस सिद्धांत को पुरे ब्रह्मांड के लिए इस्तेमाल किया गया और बताया की गुरुत्वाकर्षण सिंगुलैरिटी पैदा करता है. उन्होंने यह भी बताया कि आइंस्टीन के सिद्धांत ने सिंगुलैरिटी की जो भविष्यवाणी की थी वह महाविस्फोट का सिद्धांत (Big Bang Theory)  ही था.
    2. ब्लैक होल का सिद्धांत (Laws of Black hole mechanics ) - 1971-74
    स्टीफन हॉकिंग ने ब्लैक होल के सिधान्तों को दिया.
    - उनका पहला सिद्धांत के अनुसार, ब्लैक होल का कुल सतह क्षेत्र कभी भी छोटा नहीं होगा. इसे Hawking area theorem के रूप में भी जाना जाता है.
    - एक अन्य सिद्धांत के अनुसार ब्लैक होल गर्म होता है. लेकिन यह शास्त्रीय भौतिकी का एक विरोधाभास है जिसमें कहा गया है कि ब्लैक होल से गर्मी का विकीर्ण नहीं होता हैं.
    - एक और ब्लैक होल का सिद्धांत है "no hair" theorem. जिसमें कहा गया है कि ब्लैक होल में विशेषताएं हो सकती है; उनका द्रव्यमान (mass), कोणीय गति (angular momentum) और चार्ज (charge).
    - ब्लैक होल विकिरण का उत्सर्जन करता है, जो तब तक जारी रख सकते हैं जब तक कि वे अपनी ऊर्जा को समाप्त नहीं करते और वाष्पन करते हैं. इसे हॉकिंग विकिरण भी कहा जाता है.
    - जनवरी 1971 में, उन्होंने "ब्लैक होल्स" नामक अपने निबंध के लिए प्रतिष्ठित ग्रेविटी रिसर्च फाउंडेशन पुरस्कार जीता था.

    क्या आप जानतें हैं कि 20 छोटे चांदों से मिलकर बना है अपना चांद
    3.  कॉस्मिक इन्फ्लेशन थ्योरी (Cosmic Inflation Theory) - 1982
    यह सिद्धांत साल 1980 में एलन गुथ (Alan Guth) द्वारा दिया गया था और वह था कि भौतिक कोस्मोलोजी में, कॉस्मिक इन्फ्लेशन वह सिद्धांत है जिसमें ब्रह्मांड महाविस्फोट के बाद शीघ्र ही फैल जाता है. इसके अलावा, हॉकिंग पहले वैज्ञानिक है जिन्होंने क्वांटम में उतार-चढ़ाव (quantum fluctuations) की गणना की है और बताया कि पदार्थ के वितरण में कम बदलाव होता है अर्थात इन्फ्लेशन के दौरान यह ब्रह्मांड में आकाशगंगाओं के प्रसार को जन्म दे सकता है.
    4. यूनिवर्स का वेव फ़ंक्शन पर मॉडल (Model on the wave function of the Universe) - 1983
    स्टीफन हॉकिंग गुरुत्वाकर्षण के एक क्वांटम थ्योरी की स्थापना में रुचि रखते थे लेकिन जेम्स हार्टले (James Hartle) के साथ उन्होंने 1983 में हार्टले-हॉकिंग स्टेट (Hartle-Hawking state) मॉडल प्रकाशित किया था. यह सिद्धांत कहता है कि समय महाविस्फोट (Big Bang) से पहले मौजूद नहीं था और इसलिए ब्रह्मांड की शुरुआत की अवधारणा अर्थहीन है. ब्रह्मांड में समय या स्थान मंं कोई प्रारंभिक सीमा नहीं होती है.
    5.‘ए ब्रीफ हिस्ट्री ऑफ टाइम’ ‘A Brief History of Time’ उनकी प्रसिद्ध किताब 1988 में प्रकाशित हुई थी
    इस किताब में उन्होंने ब्रह्माण्ड कोस्मोलोजी जैसे कि महाविस्फोट का सिद्धांत (Big Bang Theory) और ब्लैक होल के बारे में लिखा है. पुस्तक का पहला संस्करण 1988 में प्रकाशित हुआ और लगातार 237 सप्ताह तक संडे टाइम्स का बेस्ट सेलर रहने के कारण इसे गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्डस में शामिल किया गया. इस पुस्तक की एक करोड़ प्रति बिकी और 40 अलग-अलग भाषाओं में इसका अनुवाद हुआ.
    6. स्टीफन हॉकिंग की ब्रह्मांड विज्ञान पर आधारित टॉप-डाउन थ्योरी (Top-Down Theory on Cosmology ) - 2006
    थॉमस हर्टोग (Thomas Hertog) के साथ उन्होंने 2006 में एक सिद्धांत "top-down cosmology" को प्रस्तावित किया जिसमें कहा गया है कि ब्रह्मांड में एक अनूठी प्रारंभिक अवस्था नहीं थी, लेकिन कई संभावित प्रारंभिक स्थितियों की अतिपवित्रता शामिल थी. हॉकिंग का कहना है कि ब्रह्मांड में गुरुत्वाकर्षण जैसी शक्ति है इसलिए वह नई रचनाएँ कर सकता है उसके लिए उसे ईश्वर जैसी किसी शक्ति की सहायता की आवश्यकता नहीं है. उनकी अन्य किताबें थी The Universe in a Nutshell (2001), God Created the Integers: The Mathematical Breakthroughs That Changed History (2005) आदि.
    अब हमें स्टीफन हॉकिंग की प्रसिद्ध और महत्वपूर्ण खोजों के बारे में पता चल गया है जिसमें ब्लैक होल और महाविस्फोट का सिद्धांत (Big Bang Theory) उनके द्वारा दिया गया सबसे बड़ा सिद्धांत है.

    बैलगाड़ी एवं साइकिल द्वारा रॉकेट ढ़ोने से लेकर इसरो का अबतक का सफरनामा

    Loading...

    Register to get FREE updates

      All Fields Mandatory
    • (Ex:9123456789)
    • Please Select Your Interest
    • Please specify

    • ajax-loader
    • A verifcation code has been sent to
      your mobile number

      Please enter the verification code below

    Loading...
    Loading...