Search

पी.वी. सिंधु के प्रमुख रिकार्ड्स की सूची

पीवी सिंधु ओलिंपिक स्पर्धा में रजत पदक जीतने वाली पहली भारतीय हैं, इसके अलावा वह पहली भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी बन गई हैं, जिन्होंने 2019 में बीडब्ल्यूएफ विश्व टूर फाइनल में स्वर्ण पदक जीता है. पीवी सिंधु की विश्व में सर्वोच्च रैंकिंग 2 रह चुकी है. वर्तमान में वह विश्व की नंबर 3 खिलाड़ी है.
Aug 29, 2019 17:02 IST
facebook Iconfacebook Iconfacebook Icon
PV Sindhu
PV Sindhu

पीवी सिंधु के बारे में व्यक्तिगत जानकारी
पूरा नाम: पुसरला वेंकट सिंधु
पिता: पी. वी. रमना
माँ: पी. विजया
जन्म तिथि और स्थान: 5 जुलाई 1995 (आयु 24 वर्ष), हैदराबाद, तेलंगाना
ऊंचाई: 1.79 मीटर (5 फीट 10 इंच)
वजन: 60 किलो (132 पौंड)
सिंधु के शौक: फिल्में देखना, योगा करना
शिक्षा: सेंट एन कॉलेज फॉर विमेन (मेहदीपट्टनम) से बी.कॉम; अब एमबीए कर रहीं हैं.
करियर की शुरुआत: 2011 से 
कोच: पुलेला गोपीचंद
करियर रिकॉर्ड: 312 जीत, 129 हार
कैरियर टाइटल्स: 15
उच्चतम रैंकिंग: 2 (7 अप्रैल 2017)
वर्तमान रैंकिंग: 3 (20 अगस्त 2019)
कमाई: $ 8.5 मिलियन, सिंधु फोर्ब्स की "हाइएस्ट-पेड महिला एथलीट 2018" सूची में सातवें स्थान पर रहीं थीं.

हिमा दास: जीवनी और अंतर्राष्ट्रीय रिकॉर्ड
पुरस्कार:
1. सिन्धु को 24 सितंबर 2013 में अर्जुन पुरस्कार मिला था.
2. उन्हें 2015 में भारत के चौथे सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार पद्म श्री पुरस्कार से सम्मानित किया गया था.
3. सिंधु को 29 अगस्त 2016 को भारत के सर्वोच्च खेल सम्मान राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार से सम्मानित किया गया था.
पीवी सिंधु तब मशहूर हुईं जब उन्होंने सितंबर 2012 में सिर्फ 17 साल की उम्र में BWF वर्ल्ड रैंकिंग के टॉप 20 में प्रवेश किया था.
पीवी सिंधु ने बैडमिंटन की दुनिया में चीनी खिलाड़ियों के वर्चस्व को तोड़ा है. उसने शीर्ष चीनी खिलाड़ियों को हराया है; विश्व चैम्पियनशिप 2019 और 2017 में चीन की चेन यूफेई को हराया था जबकि सिंधु ने विश्व चैम्पियनशिप 2015 में चीन की ली जुरेई को हराया था.
पी.वी. सिंधु द्वारा जीते गए पदकों की सूची 
1. ओलंपिक खेल: 2016 रियो डी जनेरियो ओलंपिक खेलों में रजत पदक
2. विश्व चैंपियनशिप
A. 2019 में स्वर्ण पदक (महिला एकल)
B.  2018 में रजत पदक (महिला एकल)
C. 2017 में रजत पदक (महिला एकल)
D. 2014 में कांस्य पदक (महिला एकल)
E. 2013 में कांस्य पदक (महिला एकल)
3. उबेर कप बैडमिंटन 
A.  2014 नई दिल्ली में कांस्य पदक, (महिला टीम)
B.  2016 में कांस्य पदक, (महिला टीम)
4. एशियाई खेल
A.  2018 जकार्ता-पालमबांग (महिला एकल) में रजत पदक
B.  2014 इंचियोन (महिला टीम) में कांस्य पदक
5. राष्ट्रमंडल खेल
A.  2018 गोल्ड कोस्ट (मिश्रित टीम) में स्वर्ण पदक
B.  2018 गोल्ड कोस्ट (महिला एकल) में रजत पदक
C. 2014 ग्लासगो में कांस्य पदक (महिला एकल)
6. एशियाई चैंपियनशिप
A.  2014 में जिमचेन (महिला एकल) में कांस्य पदक
7. दक्षिण एशियाई खेल
A.  स्वर्ण पदक: 2016 में गुवाहाटी (महिला टीम)
B.  रजत पदक: 2016 में गुवाहाटी (महिला एकल)
8. राष्ट्रमंडल युवा खेल
A.  2011 में स्वर्ण पदक (लड़कियों का एकल)
9. एशियाई जूनियर चैंपियनशिप
A.  2012 में दक्षिण कोरिया (लड़कियों के एकल) में स्वर्ण पदक
B. 2011 लखनऊ (लड़कियों का एकल) में कांस्य पदक
C.  2011 में कांस्य पदक लखनऊ (मिश्रित टीम)
उपरोक्त पदकों के अलावा सिन्धु ने 3 Badminton World Federation (BWF) सुपरसीरीज खिताब जीते हैं जबकि 4 BWF सुपरसीरीज में उपविजेता रही है.
निष्कर्ष में कहा जा सकता है कि पीवी सिंधु भारत में बैडमिंटन सनसनी की तरह हैं. आने वाले वर्षों में हम महान बैडमिंटन खिलाड़ी के बारे में बहुत कुछ सुनेंगे.

राष्ट्रीय खेल दिवस कब और क्यों मनाया जाता है?

राजीव गाँधी खेल रत्न पुरस्कार जीतने वाले खिलाड़ियों की सूची