1. Home
  2. Hindi
  3. जानें क्रिप्टो करेंसी क्या होती है और इसकी मार्केट ग्रोथ का मुख्य कारण क्या है?

जानें क्रिप्टो करेंसी क्या होती है और इसकी मार्केट ग्रोथ का मुख्य कारण क्या है?

क्रिप्टो करेंसी एक डिजिटल मुद्रा है इसे कई देशों में मान्यता प्राप्त है जबकि कई अन्य में नहीं. आइये जानें आखिर किस आधार पर इसकी मार्केट  वैल्यू डिसाइड होती है. 

cryptocurrency
cryptocurrency

हाल ही में क्रिप्टो करेंसी विश्व स्तर पर एक आम चर्चा का विषय बन गई है. विश्व के कई देशों में इसे क़ानूनी मान्यता प्राप्त है जबकि भारत सहित कुछ अन्य देश ऐसे हैं जहाँ इसे क़ानूनी मान्यता प्राप्त नहीं है. आइये जानें क्या है क्रिप्टो करेंसी और कैसे निर्धारित होती है इसकी मार्केट ग्रोथ?  

क्रिप्टोकरेंसी ब्लॉकचेन तकनीक पर आधारित एक प्रकार की डिजिटल करेंसी है. हाल के वर्षों में, क्रिप्टोकरेंसी, जिसमें विशेष रूप से बिटकॉइन शामिल है विश्व स्तर पर सबसे व्यापक डिजिटल मुद्रा बन कर उभरी है. इसके सबसे अधिक फेमस होने के बहुत से कारण हैं जैसे ये बिना किसी केंद्रीय बैंक के संचालित होती है. आज कल विभिन्न देशों के लोग इसे सरकार के विभिन्न करों से बचने के लिए और इससे मिलने वाले अधिक लाभ के लिए प्रयोग कर रहे हैं.

क्रिप्टोकरेंसी और पारंपरिक मुद्रा यानी डॉलर में कुछ समानताएं होती हैं. जैस आप दोनों ही मुद्राओं से वस्तुओं और सेवाओं को  खरीद सकते हैं. आइये जानें इसके बारे में कुछ बातें - 

पारंपरिक मुद्रा के विपरीत, क्रिप्टोकरेंसी को प्रत्यक्ष रूप से नहीं रखा जा सकता है. क्रिप्टोकरेंसी पूरी तरह से इलेक्ट्रॉनिक होती है.
वे वैश्विक होती है अर्थात एक देश की क्रिप्टो करेंसी किसी भी अन्य देश में प्रयोग हो सकती है. इसमें किये गए लेन-देन काफी हद तक गुमनाम होते हैं, हालांकि सब कुछ ट्रैक किया जाता है, और रिकॉर्ड विशाल डेटाबेस में रखे जाते हैं.
 
क्रिप्टोकरेंसी का बाजार 

विश्व में क्रिप्टोकरेंसी का बाजार 7.2% की वृद्धि दर (CAGR) से बढ़ने की उम्मीद है, जो 2021 में 1.6 बिलियन अमेरिकी डॉलर से 2026 तक 2.2 बिलियन अमेरिकी डॉलर हो जाएगा. 
क्रिप्टोकरेंसी का बाजार बहुत बड़ा है और ये बहुत तेजी से बढ़ रहा है. क्रिप्टोकरेंसी के बाजार में दो मुख्य मुद्राएँ हैं -बिटकॉइन और एथेरियम. लेकिन इसके अतिरिक्त 1,000 प्रकार की कुछ अन्य मुद्राएँ भी हैं. इन्हें alt-सिक्के कहा जाता है. इनमें से कुछ अत्यधिक मूल्यवान सिक्के होते हैं. बिटकॉइन या एथेरियम जैसी एकल क्रिप्टोकरेंसी की कीमत कुल मार्केट कैप से बहुत कम है.

क्रिप्टोकरेंसी बाजार के विकास के मुख्य कारण-

क्रिप्टोकरेंसी बाजार तेजी से बढ़ रहे हैं, और इसके विस्तार के 3मुख्य कारण हैं:

डिस्ट्रीब्यूटेड लेजर टेक्नोलॉजी की पारदर्शिता

 जब हितधारक लेन-देन के बारे में नहीं जानते हैं, तो पारदर्शिता की कमी समस्या पैदा कर सकती है विशेष रूप से एशियाई देशों में जहां अक्सर कई धोखाधड़ी के मामले या अवांछित लेनदेन होते हैं, जैसे निर्धारित शुल्क के लिए कटौती।

अनिश्चित नियामक स्थिति

क्रिप्टोकरेंसी बाजार अभी भी ज्यादातर अनियमित है। स्पष्ट नियमों की कमी और उनके आस-पास अनिश्चितता जैसे कुछ मुख्य कारण हैं जिससे क्रिप्टोकरेंसी को अधिक व्यापक रूप से नहीं अपनाया गया है।

सुरक्षा, गोपनीयता और नियंत्रण के बारे में चिंता

क्रिप्टोकरेंसी में अनुपालन-मुक्त पीयर-टू-पीयर और प्रेषण लेनदेन को बदलने और सुधारने की क्षमता है। हालाँकि, उपयोगकर्ताओं को क्रिप्टोकरेंसी से लाभ उठाने के लिए, उन्हें कुछ सुरक्षा, गोपनीयता और नियंत्रण चुनौतियों से पार पाना होगा।