1. Home
  2. Hindi
  3. आखिर क्यों लिया जाता है कैंसिल चेक और क्या है इसकी ज़रूरत

आखिर क्यों लिया जाता है कैंसिल चेक और क्या है इसकी ज़रूरत

बहुत सी जगहों पर आपने देखा होगा की कैंसिल चेक माँगा जाता है जिससे पैसों का कोई लेन-देन नही किया जाता सकता लेकिन क्या आपने कभी सोचा है की फिर भी आखिर क्यों इस चेक की मांग की जाती है . यहाँ पढ़ें इसके पीछे का तर्क . 

why cancel cheque is taken and what is its need
why cancel cheque is taken and what is its need

अक्सर आपने देखा होगा की जब आप किसी बीमा या इंशोरेंस कम्पनी में निवेश करते हैं या फिर किसी कम्पनी को ज्वाइन करते है तो आपसे कैंसिल चेक माँगा जाता है , इसके अलावा भी कई प्रकार के वित्तीय कामकाजों में कैंसिल चेक का इस्तेमाल किया जाता है , लेकिन अगर आपको भी यह जाने की उत्सुकता है कि कैंसिल चेक क्यों लिए जाता है तो आइये जानते हैं इसकी पीछे की वजह लेकिन उससे पहले यह जान लेते हैं की कैंसिल चेक क्या है. 

क्या होता है कैंसिल चेक 

कैंसिल चेक कोई विशेष चेक नही होता बल्कि यह आपकी चैकबुक का सामान्य चेक ही होता है लेकिन कैंसिल चेक की यह विशेषता होती है कि इस चेक के ऊपर CANCELLED  लिखकर दो आड़ी या  तिरछी लाइनें खींच दी जाती है . ऐसा कर लेने के बाद यह चेक किसी काम का नही रहता अर्थात् अब इस चेक के ज़रिये आप पैसे नही निकाल या दे सकते. 

क्या कैंसिल चेक पर साइन करना अनिवार्य  है 

जैसा की पहले यह बात स्पष्ट कर दी गयी है कि कैंसिल चेक का इस्तेमाल पैसों के लेन-देन के लिये नही किया जा सकता इसलिए कैंसिल चेक पर साइन करना भी बिलकुल ज़रूरी नही है . इसके साथ ही इस बात का भी ख्याल रखा जाए की कैंसिल चेक पर केवल नीली व काली स्याही का इस्तेमाल किया जाता है लाल या किसी भी अन्य रंग की स्याही से इसपर लिखना वर्जित है . 

कैंसिल चेक देते समय ध्यान रखें यह बातें  

हालांकि कैंसिल चेक के द्वारा पैसों का लेनदेन नही किया जा सकता लेकिन यह सोचकर की यह तो कैंसिल चेक है इसे कहीं भी ऐसे ही नहीं फेंक देना चाहिए और न ही किसी अंजान इंसान को देना चाहिए क्योंकि कैंसिल चेक पर आपके खाते से सम्बंधित ज़रूरी सूचनाएं होती हैं जिनका गलत तरीके से इस्तेमाल कर आपके अकाउंट को हानि पहुंचाई जा सकती है . साथ ही इस बात का भी ध्यान रखा जाए कि अधिकतर कैंसिल चेक पर साइन न ही किये जाए और यदि आपको साइन करके कैंसिल चेक देना है तो केवल ऐसी ही कम्पनी या संस्थान में दें जहाँ आपको पूर्ण विश्वास हो .

कैंसिल चेक की ज़रूरत क्यों पड़ती है

 एक सामान्य चेक पर खाताधारक के खाते की सभी ज़रूरी जानकारी लिखी होती है और इस चेक पर जब CANCELLED लिख दिया जाता है तो यह महज़ एक सत्यापन दस्तावेज़ बन जाता है जिससे की यह सिद्ध होता है की आपके द्वारा बैंक की दी गयी सभी जानकरी सही है . 

क्या जानकारी देता है कैंसिल चेक 

जैसा की बताया गया है की कैंसिल चेक अकाउंट वेरीफाई करने का नाम करता है जिसके लिए कैंसिल चेक निम्नलिखित जानकारियां प्रदान करता है . 

  1. खाताधारक का नाम
  2. खाताधारक के बैंक का नाम
  3. खाता संख्या
  4. बैंक का IFSC CODE 
  5. खाताधारक के  हस्ताक्ष

 कहाँ पड़ती है कैंसिल चेक की ज़रूरत 

कैंसिल चेक की ज़रूरत केवल वहां पड़ती है जहाँ फाइनेंस से जुड़ा कोई काम होता हैं . जब कभी कोई व्यक्ति कार, घर या किसी भी अन्य प्रकार का लोन लेता है तो अपना अकाउंट वेरीफाई करवाने के लिए कैंसिल चेक दिया जाता है. इसके अलावा प्रोविडेंट फण्ड से जब ऑफलाइन पैसे निकाले जाते है और म्यूच्यूअल ( mutual ) फण्ड में जब भी निवेश किया जाता है तो कैंसिल चेक का इस्तेमाल होता है .