Search

संघर्ष के दिनों में भी आशावादी रहने के लिए जरुरी टिप्स

तो आप इन दिनों अपनी सफलता को लेकर क्या महसूस कर रहे हैं? आप सफल हो चुके हैं या सफलता पाने के लिए अभी और सघर्ष करना बाकी हैं.

Nov 17, 2017 19:20 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon

तो आप इन दिनों अपनी सफलता को लेकर क्या महसूस कर रहे हैं? आप सफल हो चुके हैं या सफलता पाने के लिए अभी और सघर्ष करना बाकी हैं. आम तौर पर एक आदमी को सफल तभी माना जाता है जब वह ढेर सारे धन का मालिक बन जाता है और शान शौकत से अपना जीवन व्यतीत करने लगता है.

लेकिन सफलता के ये मानक हर किसी पर लागू नहीं होते क्योकि प्रत्येक व्यक्ति अपनी सफलता के मानक खुद तय करता है. जैसे कि एक वर्किंग प्रोफेशनल अपने प्रमोशन और सैलरी हाइक को अपनी सफलता का मानक मानता हैं जबकि एक बिज़नेस मैन अपने बिज़नेस का ज्यादा से ज्यादा विस्तार करके खुद को सफल समझता है.

अपने अपने मानकों को पूरा करने के लिए लोग दिन रात कठिन परिश्रम और संघर्ष करते हैं. इस संघर्ष के दौरान कई ऐसे पल आते हैं जहाँ वो खुद को एक असफल प्रोफेशनल या व्यक्ति  समझने लगते हैं जो कि उनको निरुत्साहित करने के लिए पर्याप्त होता है.

खैर, अगर आप भी इस समय ऐसा ही कुछ महसूस कर रहें हैं जो आपको लगातार निरुत्साहित कर रहा है, तो सफलता के कुछ लक्षणों की मदद से आप असफलता की भावना को दूर कर सकते हैं.

इस लेख में, हमने सफलता के कुछ ऐसे लक्षणों को गहराई से समझाया है जो आपको संघर्ष के दिनों में भी खुश और मोटीवेटेड रख सकते हैं.

लर्निंग

किसी क्षेत्र में सफलता के लिए कुछ कौशल, जानकारी और अनुभव की आवश्यक्ता होती है जिसे लगातार सीखते रहने से ही हासिल किया जा सकता है. कभी कभी सही समय पर सफलता न मिलने पर वर्किंग प्रोफेशनल निराश हो जाते हैं. यह निराशा उनमे कुछ नया सीखने की ललक को खत्म कर देती है जो उनकी संभावित सफलता में बाधा का काम काम करती हैं. इसलिए यदि आपको सही समय पर सफलता न मिले तो ये समझें कि वास्तव में आपको अभी और सीखने की जरुरत हैं. यह आपकी सीखने की प्रवृति को बढ़ाएगा जो आपकी सफलता के लिए बेहद जरुरी है. 

धीरे धीरे सुधार करना

वर्किंग प्रोफेशनल्स को उनके कार्यक्षेत्र मे उनके प्रदर्शन से ही आँका जाता है. जब वो अपने वर्क परफॉरमेंस से अपने बॉस या एम्प्लायर को प्रभावित कर लेते हैं तब उन्हें प्रमोशन या सैलरी हाईक दिया जाता है. लेकिन ज्यादातर प्रोफेशनल्स अपनी खराब परफॉरमेंस के कारण सैलरी हाईक या प्रमोशन पाने में असफल होते हैं तो उम्मीद ही छोड़ देते हैं. ये उनमें तनाव की स्थिति पैदा करता है जो उनको अपनी परफॉरमेंस सुधारने की दिशा में सोचने से रोकता है. अगर यह इम्प्रूव हो रही है तो ये आपकी सफलता का संकेत हैं.   

सराहना (Appreciation)

कभी कभी अच्छे वर्क परफॉरमेंस के बावजूद भी प्रोफेशनल्स को सही समय पर सफलता नहीं मिल पाती जो उनको तनाव ग्रस्त कर देती है. तनाव उनकी वर्क परफॉरमेंस को प्रभावित करने लगता है जिससे वे सफलता से दूर होने लगते हैं. इसलिए जब भी टाइम पर सफलता न मिलने के कारण आप तनाव महसूस करें तो यह याद करने का प्रयास करें कि आपकी वर्क परफॉरमेंस को कब कब सराहा गया था. यह आपको और प्रसंशा पाने के लिए प्रेरित करेगा जो कि आपकी सफलता को सुनिश्चित कर सकता है.

करियर ग्रोथ

अक्सर लम्बे समय तक सैलरी ग्रोथ या प्रमोशन न पाने से प्रोफेशनल परेशान होने लगते हैं यह परेशानी न केवल उनकी प्रोफेशनल लाइफ को प्रभावित करती है बल्कि उनके व्यतिगत जीवन को भी अस्त व्यस्त कर देती है. जो अक्सर उनके समग्र व्यतित्व और जीवन को बुरी तरह से प्रभावित करती है. इसलिए सही समय पर सफलता न मिलने पर ये सोचें कि आपने अब तक कितना विकास किया है ? इसके लिए आप अपनी पांच साल पहले की सैलरी और पद की तुलना वर्तमान की सैलरी और पद से कर सकते हैं. इससे आपको अपनी सफलता का अंदाजा होगा जो आपको संतुस्ट और खुश रख सकता है.        

निष्कर्ष

वैसे तो असफलता किसी को भी निराश और निष्क्रिय कर सकती है पर जीवन में हुए बदलाव के संकेत की सहायता से इस निराशा और निष्क्रियता से बचा जा सकता है. इस लेख में हमने उन संकेतों को समझाने का प्रयास किया है जो आपको निराशा और निष्क्रियता से बचा सकते है.

Related Stories