Search

SSC CHSL और बैंक क्लर्क में से लड़कियों के लिये कौन-सा विकल्प बेहतर है?

इस लेख में, आपको SSC CHSL और बैंक लिपिक जॉब के बीच समानताएं और असमानताएं मिलेंगी| जिसके आधार पर लड़कियों द्वारा कैरियर के रूप में इनमें से किसी एक को चुनने के लिए विचार किया जा सकता है।

Nov 21, 2018 11:02 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon
SSC CHSL vs. bank Clerk
SSC CHSL vs. bank Clerk

दरअसल, किसी के लिए कैरियर का चयन करना विशुद्ध रूप से उसकी अपनी पसंद और वरीयताओं पर निर्भर करता है। तरक्की हासिल करने के लिए कोई भी लक्ष्य बहुत बड़ा नहीं होता है| इन दोनों नौकरियों में कई पहलू समान हैं और कुछ मामलों में ये एक-दूसरे से अलग हैं। इसलिए, उनके बीच न्यायसंगत होना थोडा कठिन है। फिर भी हम निम्नलिखित लेख में इन दोनों के बीच समानताओं और असमानताओं का मूल्यांकन करेंगे।

जब SSC CHSL और बैंक क्लर्क की बात आती है, तो इन श्रेणियों में सभी जॉब प्रोफाइल चुनौतीपूर्ण हैं और साथ ही अच्छे करियर ग्रोथ के अवसर भी प्रदान करती हैं। आम तौर पर, कई उम्मीदवार मानते हैं कि SSC CHSL, बैंक क्लर्क से बेहतर है लेकिन यह हमेशा सच नहीं है और इसके विपरीत कुछ बैंक क्लर्क को बेहतर मानते है। परन्तु इस सन्दर्भ में, जब लड़कियों की बात आती है, तो यह उनके निजी व्यक्तित्व और चुनौती लेने की क्षमता पर निर्भर करता है।

IBPS और SBI दोनों संस्थाएं, हर साल क्लर्क के पद पर बैंकिंग प्रणाली में हजारों उम्मीदवारों की भर्ती करते है| कर्मचारी चयन आयोग विभिन्न केन्द्रीय सरकार के विभागों जैसे केन्द्रीय सचिवालय सेवा, CBI, रेल मंत्रालय / विदेश मामलों / रक्षा मंत्रालय, सीएजी, केंद्रीय सतर्कता आयोग, खुफिया ब्यूरो, आबकारी निरीक्षक, आदि जैसे विभिन्न मंत्रालयों में भर्ती के लिए CHSL परीक्षा का आयोजन करता है। आइये- इस लेख के माध्यम से, SSC CHSL और बैंक परीक्षाओं द्वारा प्रदत्त क्लर्क पदों के मध्य तुलनात्मक अध्ययन पर एक नज़र डालते हैं-

SSC CHSL बनाम बैंक क्लर्क: एक नज़र

नौकरी की सुरक्षा

इन दोनों नौकरियों में जॉब सुरक्षित और निश्चित होती हैं क्योंकि इन दोनों ही परीक्षाओं में चयन के बाद आपको सरकारी विभागों और सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के तहत नियुक्त किया जाता है।

How to Crack SSC CHSL Exam?

 

श्रेणीबद्ध विकास और पदोन्नति

SSC CHSL के तहत क्लर्क पद संबंधित विभागो में शीर्ष स्थान तक पहुंचने का अवसर सामान्यत: प्राप्त नहीं होता है। आपको SSC CHSL के माध्यम से प्राप्त क्लर्क पदों की तरक्की अधिकतम निरीक्षक या उसके समान पदों तक ही की जा सकती है। परन्तु विभागीय पदोन्नति के माध्यम से IAS स्तर का अधिकारी बनना संभव नहीं है। बैंक क्लर्क, बैंकिंग प्रणाली में एक बहुत ही लोकप्रिय प्रवेश परीक्षा होती है। बैंक क्लर्क पद, आपको शाखा प्रबंधक या क्षेत्र प्रबंधक जैसे शीर्ष-स्तरीय पदों तक पहुंचने का अवसर प्रदान करती है। बैंकों में प्रमोशन, SSC CHSL की तुलना में तेज़ होता है क्योंकि बैंक में नियमित समय-अवधि में क्लर्कों को प्रमोट करने की एक स्थिर प्रक्रिया सुनिश्चित हैं। बैंक सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम होते हैं और पूरे देश में अपनी सेवाएं प्रदान करते हैं। इसके अलावा, उन्हें अन्य देशों में अपनी मौजूदगी और संचालन का विस्तार भी करना होता है, जिसके बदले में बैंकिंग कर्मियों की मांग प्रतिवर्ष बढ़ती जा रही है। इससे आंतरिक कर्मचारियों के प्रमोशन की संभावना उत्पन्न होती है, जो लड़कियों के लिए भी एक शानदार अवसर होता है। बैंकों में, क्लर्क और अन्य स्टाफ सदस्यों को लगभग हर 3-4 वर्षों में पदोन्नत किया जाता है|

बिना कोचिंग के SSC CHSL की तैयारी कैसे करें?

दूसरी ओर, SSC CHSL में, यह आपके वरिष्ठ अधिकारी या संबंधित प्राधिकरण के साथ-साथ आपकी सेवावधि पर भी निर्भर करता है। सरकारी विभाग में लड़कियों के लिए आरक्षण का विशेष प्रावधान भी होता है। हालांकि, पदोन्नति को केवल तब ही प्रदान किया जाएगा जब आपका नाम उपलब्ध विभागीय रिक्तियों के अनुसार मेरिट सूची में सम्मिलित होगा।

कार्यालय का समय

SSC CHSL के माध्यम से LDC/ UDC और बैंक क्लर्क के लिए कार्यालय का समय लगभग समान होता हैं जो कि सामान्यत: सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक होता है। हालांकि, बैंकों में काम के बोझ के कारण बैंक क्लर्क अक्सर घर समय पर जाने में असमर्थ होते हैं। SSC क्लर्कों की तुलना में, बैंक क्लर्क में अधिक काम का दबाव होता हैं। इसलिए, वर्तमान समाज और संस्कृति को ध्यान में रखते हुए, किसी भी लड़की के लिए कार्यालय का समय और काम के विभिन्न पहलूओं इत्यादि को भली प्रकार से समझना, उनको अपनी वरीयता को निश्चित करने हेतु बहुत आवश्यक होते है। इस परिप्रेक्ष्य से, SSC CHSL क्लर्क की नौकरी अधिक बेहतर प्रतीत होती है।

वेतनमान

7वें वेतन आयोग के बाद, SSC CHSL क्लर्क का वेतन बैंक क्लर्कों की तुलना में थोड़ा अधिक होता है। हालांकि, वेतन अंतर इतना व्यापक नहीं होता है. जब आप पूरे कैरियर के बारे में सोचते हैं, तो बैंक क्लर्क का पद किसी भी SSC भर्ती की तुलना में अधिक आय प्रदान करता है यदि आप अधिक पैसा कमाना चाहते हैं, तो किसी भी PSB में 10-15 साल के लिए काम करें और प्राइवेट सेक्टर के बैंकों में स्विच करें। SSC CHSL के मामले में इस तरह की छलांग संभव नहीं है क्योंकि SSC CHSL एक सरकारी नौकरी है, जो कि सिर्फ सरकारी विभागों के लिए ही होती है|

SSC CHSL परीक्षा को क्रैक करने की 100 दिन की योजना

काम का दबाव

SSC-CHSL में बैंक क्लर्क के मुकाबले काम का दबाव कम होता है और नौकरी ज्यादा सुगम होती है। बैंक क्लर्क के रूप में, काम का दबाव अधिक होता है क्योंकि वे रोजाना सीधे जनता से संपर्क करते हैं और क्लर्क के काम में सामान्य बैंकिंग, प्रशासनिक कार्य या समय-समय पर वरिष्ठ मैनेजमेंट द्वारा दिए गए अन्य कार्य को करना भी सम्मिलित होता है।

स्थानान्तरण और पोस्टिंग

SSC CHSL में, CSS विभाग को छोड़कर स्थानांतरण ज्यादातर 4-5 साल में होता है। SSC CHSL के माध्यम से चयनित क्लर्क- अधिकतर मेट्रोपॉलिटन शहरों, राज्य की राजधानियों और जिला मुख्यालय में रहता है। बैंक क्लर्क का अमूमन हर 2-5 वर्षों में स्थानान्तरण होता हैं। दोनों संगठनों में ट्रान्सफर वरिष्ठता / पदोन्नति के स्तर पर ही आधारित होता है। बैंक क्लर्क के साथ समस्या ये है कि उन्हें एक ग्रामीण क्षेत्र में तैनात किया जा सकता है जहां उचित सुविधाएं उपलब्ध नहीं होती है। अत: जो लड़कियां ग्रामीण पर्यावरण में खुद को समायोजित कर सकती हैं वे बैंक क्लर्क की नौकरियों में जा सकती हैं।

एक्सपोजर

एक्सपोजर का अर्थ है करियर के विभिन्न पहलुओं और भावी तरक्की के अवसरों को देखना। बैंक क्लर्क SSC CHSL पदों की तुलना में अधिक व्यापक और ज्यादा अनुभव प्रदान करता है।

SSC CHSL परीक्षा में सफलता हेतु पिछले वर्ष के प्रश्न पत्रों की भूमिका

उपरोक्त लेख से, हम यह निष्कर्ष निकाल सकते हैं कि वेतन, सामाजिक स्थिति, नौकरी में संतुष्टि, चुनौतियां और प्रमोशन, SSC CHSL क्लर्क और बैंक क्लर्क दोनों के बीच भिन्न-भिन्न होती हैं। लड़कियां अपनी क्षमता, व्यक्तित्व, प्राथमिकता, और पारिवारिक समर्थन के आधार पर दोनों पदों में से किसी का भी चयन कर सकती हैं।

हम www.jagranjosh.com  पर आशा करते हैं कि उपरोक्त जानकारी आपके सभी प्रश्नों और संदेहों को स्पष्ट करने में सहायक सिद्ध होगी।

शुभकामनाएं!

Related Stories