Search

भारत और वियतनाम की सेनाओं ने पहला संयुक्त सैन्याभ्यास किया

इस युद्ध अभ्यास में संयुक्त राष्ट्र शांति मिशन के नियमों के अनुरूप सीमा की चौकसी और घुसपैठ, दंगा होने पर शांति बनाने को लेकर अपनाई जाने वाली रणनीति को जानने और समझने का मौका मिलेगा.

Jan 30, 2018 10:21 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon

भारत और वियतनाम की सेनाओं ने 29 जनवरी 2018 को मध्यप्रदेश के जबलपुर में संयुक्त सैन्याभ्यास में हिस्सा लिया. यह संयुक्त सैन्याभ्यास छह दिनों तक चलेगा. इस अभ्यास को ‘विनबैक्स’ नाम दिया गया है.

पृष्ठभूमि:

•    यह दोनों देशों के बीच बढ़ते रक्षा सहयोग का परिचायक है.

•    यह दोनों देशों के बीच होने वाला पहला संयुक्त सैन्य अभ्यास हैं.

•    भारत और वियतनाम रक्षा सहयोग को और मजबूत करने के तौर तरीकों पर काम कर रहे हैं.

•    वियतनाम के प्रधानमंत्री गुयेन शुआन फुक पिछले सप्ताह भारत-आसियान मैत्री रजत जयंती शिखर सम्मेलन और गणतंत्र दिवस समारोह में शामिल होने के लिये यहां थे.

•    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपने वियतनाम के समकक्ष के साथ हुई द्विपक्षीय वार्ता के दौरान रक्षा और सुरक्षा सहयोग का मुद्दा प्रमुखता से उठा था.

CA eBook


•    नौवहन क्षेत्र में मुख्य रूप से ध्यान केंद्रित करते हुये दोनों देशों के बीच रक्षा सहयोग में हाल के दिनों में खासी बढ़ोतरी देखने को मिली है.

•    इस दौरान दोनों देशों के सैन्य अधिकारी अपने अनुभवों को साझा करेंगे.

•    इस संयुक्त युद्धाभ्यास में भारतीय सेना तथा वियतनाम पिपुल्स आर्मी की ओर से 15 सैन्य अधिकारी शामिल होंगे.

•    इस युद्ध अभ्यास में संयुक्त राष्ट्र शांति मिशन के नियमों के अनुरूप सीमा की चौकसी और घुसपैठ, दंगा होने पर शांति बनाने को लेकर अपनाई जाने वाली रणनीति को जानने और समझने का मौका मिलेगा.

•    इस युद्ध अभ्यास से दोनों देशों की ऐतिहासिक, सांस्कृतिक एवं द्विपक्षीय संबंधों को प्रगाढ़ बनाने में मदद मिलेगी.

यह भी पढ़ें: रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने असाल्ट राइफलों एवं कार्बाइन की खरीद को मंजूरी दी

 

Download our Current Affairs & GK app For exam preparation

डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप एग्जाम की तैयारी के लिए

AndroidIOS