भारत ने किया अग्नि V मिसाइल का सफ़ल परीक्षण, 5,000 किमी दूर के लक्ष्य को भेदने में सक्षम है यह मिसाइल

अग्नि V मिसाइल, जिसने कल शाम 7.50 बजे उड़ान भरी, वह वारहेड वजन सहित मानक विन्यास की थी.

Strategic Forces Command conducts Agni V trial, hits target 5,000 km away
Strategic Forces Command conducts Agni V trial, hits target 5,000 km away

नई पीढ़ी की अग्नि-प्राइम मिसाइल के जून, 2021 में सफल परीक्षण के बाद, गत बुधवार शाम को अग्नि V मिसाइल का सफल परीक्षण किया गया जोकि रात के संचालन मोड में था. यह अग्नि V मिसाइल आदर्श उड़ान प्रक्षेपवक्र ले रही थी और केवल 15 मिनट में ही इसने अपने लक्ष्य को मार गिराया था.

सामरिक बल कमान ने किया अग्नि V का सफल परीक्षण

भारतीय सेना की सामरिक बल कमान (SFC) ने बुधवार शाम को ओडिशा के APJ अब्दुल कलाम द्वीप से अग्नि V बैलिस्टिक मिसाइल का पहला सफल उपयोगकर्ता परीक्षण किया है, ताकि निर्धारित समय के भीतर 5000 किमी दूर के अपने लक्ष्य तक पहुंचने वाली इस मिसाइल के साथ रात के संचालन को क्रियान्वित किया जा सके.

इस मिसाइल, जिसे रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (DRDO) के टेलीमेट्री और रडार जहाजों द्वारा ट्रैक किया गया था, ने निर्धारित मापदंडों के अनुसार सही उड़ान प्रक्षेपवक्र लिया और केवल 15 से 18 मिनट के भीतर अपने लक्ष्य को हिट कर दिया.

भारतीय सेना की इस उपलब्धि के बारे में जागरूक लोगों के अनुसार, अग्नि V मिसाइल, जिसने कल शाम 7.50 बजे उड़ान भरी, वह वारहेड वजन सहित मानक विन्यास की थी. इस मिसाइल ने निर्धारित संभावना पर त्रुटि रहित वार किया जिससे इसके निर्माता और उपयोगकर्ता, दोनों ही पूरी तरह संतुष्ट हुए. इस कल रात के परीक्षण के पीछे का मकसद यह परीक्षण करना था कि उपयोगकर्ता, SFC, दिन और रात के संचालन मोड में इस मिसाइल/ हथियार का सफल प्रयोग कर सकता है या नहीं. यह समझा जाता है कि, यह मिसाइल पूरी तरह से विकसित है और आवश्यकता पड़ने पर, आगे के परीक्षण के लिए SFC के लिए उपलब्ध है. यह अग्नि V मिसाइल उन्नत मार्गदर्शन प्रणाली के साथ सतह से सतह पर मार करने वाली तीन स्तरीय ठोस ईंधन वाली मिसाइल है.

भारत की अग्नि श्रृंखला की मिसाइल के बारे में अन्य जरुरी जानकारी

पहले DRDO द्वारा 28 जून, 2021 को ओडिशा से 1000 से 2000 किलोमीटर के बीच की दूरी के साथ नई पीढ़ी की अग्नि प्राइम मिसाइल का सफलतापूर्वक परीक्षण करने के बाद, इस अग्नि V का परीक्षण किया गया है.

यह मिसाइलों की अग्नि श्रृंखला भारत के परमाणु त्रय का हिस्सा है, जिसमें राफेल और यहां तक ​​कि मिराज 2000 H जैसे लड़ाकू विमानों के माध्यम से हवा से और INS अरिहंत जैसी बैलिस्टिक मिसाइल पनडुब्बियों से समुद्र से परमाणु हथियार पहुंचाने की क्षमता और सामर्थ्य है.

चीनी बॉर्डर के निकट इंडियन आर्मी द्वारा तैनात पिनाका और स्मर्च ​​रॉकेट सिस्टम के बारे में जरुर पढ़ें यहां

अब भारत द्वारा अपनी दूसरी बैलिस्टिक मिसाइल पनडुब्बी INS को अपने कार्यदल में शामिल करने की उम्मीद जताई जा रही है.

अरिघाट में अपनी स्वतंत्रता के 75 वर्ष के दौरान, डेवलपर्स समुद्र में लॉन्च की गई बैलिस्टिक मिसाइल पर भी काम कर रहे हैं, जिसकी रेंज अग्नि V मिसाइल के समान है. इन 5000 किमी रेंज की मिसाइल ले जाने वाली परमाणु पनडुब्बी के साथ, भारतीय परमाणु त्रय द्वारा इस सीमा तक अपने लक्ष्य को भेदने की उम्मीद जताई गई है और जब तक कि भारत सरकार एशिया में सुरक्षा परिदृश्य बिगड़ने की स्थिति में, इससे अधिक लंबी दूरी तक जाने का फैसला नहीं करती है, इन मिसाइल डेवलपर्स/ निर्माताओं को अपनी ओर से यह भरोसा है कि, वे 5000 किमी की सीमा से कहीं आगे तक अपनी मिसाइल क्षमता को बढ़ा सकते हैं.

कोंकण शक्ति अभ्यास: भारत और UK करेंगे उच्च स्तरीय आदान-प्रदान का चरण शुरू

Take Weekly Tests on app for exam prep and compete with others. Download Current Affairs and GK app

एग्जाम की तैयारी के लिए ऐप पर वीकली टेस्ट लें और दूसरों के साथ प्रतिस्पर्धा करें। डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप

AndroidIOS
Read the latest Current Affairs updates and download the Monthly Current Affairs PDF for UPSC, SSC, Banking and all Govt & State level Competitive exams here.
Jagran Play
खेलें हर किस्म के रोमांच से भरपूर गेम्स सिर्फ़ जागरण प्ले पर
Jagran PlayJagran PlayJagran PlayJagran Play