Search

भारत के विभिन्न राज्य विधानसभाओं एवं विधानपरिषदों की सदस्य संख्या

भारतीय संविधान के अनुसार एक विधानसभा सदस्य एक निश्चित विधानसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं, जिनका चुनाव आम जनता मतदान के द्वारा करती है, जबकि विधानपरिषद के सदस्यों का चुनाव विधानसभा सदस्य, स्थानीय निकाय के प्रतिनिधि, शिक्षक एवं स्नातक मतदान के द्वारा करते हैं|
Sep 8, 2016 10:31 IST
facebook Iconfacebook Iconfacebook Icon

भारतीय संविधान के अनुसार एक विधानसभा सदस्य एक निश्चित विधानसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं, जिनका चुनाव आम जनता मतदान के द्वारा करती है, जबकि विधानपरिषद के सदस्यों का चुनाव विधानसभा सदस्य, स्थानीय निकाय के प्रतिनिधि, शिक्षक एवं स्नातक मतदान के द्वारा करते हैं| वर्तमान समय में विधानसभा सदस्यों की सर्वाधिक संख्या उत्तरप्रदेश (403) में और सबसे कम संख्या पुदुचेरी (30) में है, जबकि विधानपरिषद सदस्यों की सर्वाधिक संख्या उत्तरप्रदेश (100) में और सबसे कम संख्या जम्मू-कश्मीर (36) में है|

भारत के लोकसभा अध्यक्षों की सूची

राज्य सरकार

विधानसभा (निम्न सदन)

विधानपरिषद (उच्च सदन)

सदस्य संख्या 60-500 तक

सदस्य संख्या विधानसभा सदस्यों की कुल संख्या के एक-तिहाई से कम

इसके सदस्य जनता द्वारा सीधे चुने जाते हैं|

इसके 1/3 सदस्य विधानसभा सदस्यों द्वारा, 1/3  सदस्य स्थानीय निकायों के प्रतिनिधियों द्वारा, 1/12 सदस्य शिक्षकों द्वारा एवं 1/12 सदस्य स्नातकों द्वारा चुने जाते हैं|

इसके सदस्यों को MLA कहा जाता है|

इसके सदस्यों को MLC कहा जाता है|

इसके सदस्यों का कार्यकाल 5 वर्ष का होता है|

इसके सदस्यों का कार्यकाल 6 वर्ष का होता है एवं प्रत्येक 2 वर्ष के बाद एक-तिहाई सदस्य अवकाश प्राप्त करते हैं|

इसके संचालनकर्ता को “स्पीकर” कहा जाता है|

इसके संचालनकर्ता को “चेयरमैन” कहा जाता है|

वर्तमान में सभी 29 राज्यों एवं दिल्ली तथा पुदुचेरी में विधानसभा कार्यरत है|

वर्तमान में केवल 7 राज्यों महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, बिहार, कर्नाटक एवं जम्मू-कश्मीर में विधानपरिषद् कार्यरत है|

भारत में उच्च न्यायालय

विभिन्न राज्यों की विधानसभाओं में सदस्य संख्या

क्र. सं.  राज्य/केन्द्रशासित प्रदेश  सदस्य संख्या 
1. उत्तर प्रदेश  403
2. पश्चिम बंगाल   294
3. महाराष्ट्र  288
4. बिहार  243
5. तमिलनाडु 234
6. मध्य प्रदेश 230
7. कर्नाटक  224
8. राजस्थान 200
9. गुजरात  182
10. आंध्र प्रदेश  175
11. ओडिशा   147
12. केरल  140
13. असम  126
14. तेलंगाना  119
15. पंजाब  117
16. छत्तीसगढ़  90
17. हरियाणा  90
18. झारखण्ड  81
19. जम्मू एवं कश्मीर  76*
20. उत्तराखण्ड 70
21. दिल्ली 70
22. हिमाचल प्रदेश  68
23. अरुणाचल प्रदेश  60
24. मणिपुर  60
25. मेघालय  60
26. नागालैंड  60
27. त्रिपुरा  60
28. गोवा  40
29. मिजोरम  40
30. सिक्किम  32
31. पुदुचेरी 30

Source: Election Commission of India

*जम्मू-कश्मीर के संविधान के तहत, पाक अधिकृत क्षेत्र के 24 सीटों को छोड़कर राज्य विधान सभा में सीटों की संख्या 87 है जिसमें से 7 सीटों को जम्मू-कश्मीर के लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम 1957 के तहत अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित किया गया है|

भारतीय राजनीति और शासन: समग्र अध्ययन सामग्री

विभिन्न राज्यों की विधानपरिषदों में सदस्य संख्या

क्र. सं.

राज्य

सदस्य संख्या

1.

उत्तर प्रदेश

100

2.

महाराष्ट्र

78

3.

बिहार

75

4.

कर्नाटक

75

5.

आंध्र प्रदेश

58

6.

तेलंगाना

40

7.

जम्मू-कश्मीर

36

Source: Election Commission of India

भारत में संसदीय प्रणाली