Search

चीनी अर्थव्यवस्था के बारे में 16 महत्वपूर्ण तथ्यों पर एक नजर

वर्तमान में नॉमिनल जीडीपी के आधार पर चीनी अर्थव्यवस्था दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है. चीन, दुनिया का सबसे बड़ा विदेशी मुद्रा भंडार धारक भी है. चीनी अर्थव्यवस्था के बारे में ऐसे ही कुछ महत्वपूर्ण तथ्य जानने के लिए यह लेख पढ़ें.
Jun 19, 2020 17:26 IST
facebook Iconfacebook Iconfacebook Icon
Facts about Chinese Economy
Facts about Chinese Economy

हम जानते हैं कि चीन को 1949 में आजादी मिली और भारत को 1947 में आजादी मिली  लेकिन फिर भी दोनों देशों में अर्थव्यवस्था के कई क्षेत्रों में कई बड़े अंतर हैं.
चीनी अर्थव्यवस्था की सबसे बड़ी ताकत इसका विनिर्माण क्षेत्र और विशाल मध्यम वर्ग की मौजूदगी है.चीन को लोहे के पर्दे वाली अर्थव्यवस्था कहा जाता है. चीनी अर्थव्यवस्था के बारे में प्रामाणिक तथ्य लाना बहुत कठिन है.

इस लेख में हमने विश्व बैंक, आईएमएफ और ओईसीडी आदि जैसे अंतर्राष्ट्रीय संस्थानों से चीनी अर्थव्यवस्था के बारे में कुछ प्रामाणिक तथ्य प्राप्त किए हैं

1. चीन की जीडीपी का आकार (दुनिया में दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था): US$ 14.140 ट्रिलियन (नॉमिनल, 2019) और US$ 27.307 ट्रिलियन (पीपीपी; 2019) है.

2. चीन की प्रति व्यक्ति आय: US$ 10,099 (नाममात्र; 2019) और US$ 19,50 (पीपीपी; 2019)

3. चीनी जनसंख्या का आकार: 1,394,015,977 (2020) दुनिया में सबसे अधिक आबादी वाला देश

4. बेरोजगारी दर: 4.3% (2020), 10.6% युवा बेरोजगारी (2019)

क्या भारत चीन के उत्पादों का बहिष्कार कर सकने की स्थिति में है?

5. चीन में गरीबी अनुपात: चीन ने 1978 के बाद से लगभग 800 मिलियन लोगों को गरीबी से बाहर निकाला है. यह दुनिया में एक अनोखी उपलब्धि है. इसकी प्रति व्यक्ति जीडीपी 1978 के US$ 155 से 49 गुना बढ़कर 2014 में यूएस $ 7,590, और 2019 में यूएस $ 10,099 हो गयी है. चीन में 24% आबादी आज भी $ 5.50 / दिन के नीचे जीवनयापन करती है.

6. चीन ने 1978 से 2014 तक प्रति वर्ष औसतन 10% तक जीडीपी वृद्धि हासिल की है.

7.चीन में निजी क्षेत्र, तेज विकास दर और रोजगार का मुख्य कारक है.सन 2010 से 2012 तक चीन की जीडीपी में निजी क्षेत्र का योगदान लगभग 66% से 75% के बीच रहा है.

8. चीन के कुल निर्यात में निजी क्षेत्र का योगदान लगभग 90% का है. चीन का कुल  निर्यात 2019 में US$ 2.5 ट्रिलियन के आसपास था.

9. चीन के मुख्य निर्यात साझेदार हैं;

i. अमेरिका 19.25%

ii. यूरोपियन यूनियन 16.43%

iii. आसियान  12.83%

iv. हांगकांग 12.16%

v. जापान 5.91%

vi. साउथ कोरिया 4.37%

vii. इंडिया 3.08%

viii. रूस 2.64%

x. अन्य 23.33%

10. चीनी अर्थव्यवस्था में क्षेत्रवार योगदान (2017)

I. कृषि: 7.9%

Ii. उद्योग : 40.5%

iii. सेवा : 51.6%

11. चीन के राष्ट्रीय सांख्यिकी ब्यूरो के अनुसार; तृतीयक क्षेत्र रोजगार का सबसे बड़ा स्रोत (36.1%) है, इसके बाद कृषि में 33% और उद्योग में 30.3% है.

12. चीन, ग्रीनहाउस गैसों का सबसे बड़ा उत्सर्जक है: - चीन ने 9.3 गीगा मीट्रिक टन कार्बन डाइऑक्साइड का उत्पादन किया जो दुनिया में कुल CO2 उत्सर्जन का लगभग 28% है. इसके बाद यूएसए और भारत का स्थान है.

biggest-co2-emitters-world-2020

13. चीन दुनिया का सबसे बड़ा निर्यातक और व्यापारिक वस्तुओं का दूसरा सबसे बड़ा आयातक:- सन 2010 के बाद से चीन दुनिया का सबसे बड़ा निर्यातक और व्यापारिक वस्तुओं का दूसरा सबसे बड़ा आयातक है. यह वाणिज्यिक सेवाओं (Merchandise Goods) का 5वां सबसे बड़ा निर्यातक और तीसरा सबसे बड़ा आयातक देश है.

चीन के व्यापारिक निर्यात में 94% योगदान निर्मित सामान, 3.2% कृषि उत्पाद और 2.7% ईंधन और खनन उत्पाद का योगदान हैं.

15. चीन 2018 और 2019 में दूसरा सबसे बड़ा एफडीआई प्राप्त करने वाला देश था. इसे 2018 में 235 बिलियन अमेरिकी डॉलर और 2019 में 156 बिलियन अमेरिकी डॉलर का एफडीआई प्राप्त हुआ था. यूएसए 2019 में 261 बिलियन अमेरिकी डॉलर के साथ शीर्ष स्थान पर था. (स्रोत: OECD रिपोर्ट)

fdi-china-2019-world

16. चीन, दुनिया में सबसे बड़ा विदेशी मुद्रा भंडार धारक देश: चीन का विदेशी मुद्रा भंडार मई 2020 में US $ 3,101,692 मिलियन (3.1 ट्रिलियन डॉलर) था. इसके बाद जापान और स्विट्जरलैंड का स्थान आता है.

ये थे चीनी अर्थव्यवस्था के बारे में कुछ महत्वपूर्ण तथ्य. हम आशा करते हैं कि ये तथ्य प्रतियोगी परीक्षाओं जैसे UPSC / PSC/CDS आदि के लिए बहुत महत्वपूर्ण सिद्द होंगे.

विदेशी मुद्रा भंडार: अर्थ, संरचना, उद्येध्य और लाभ

भारत में प्रमुख चीनी कंपनियों की सूची