1. Home
  2. Hindi
  3. Indian Railway: जानें भारत में कहां है Diamond Crossing, जहां एक ही जगह चार दिशाओं से आती हैं ट्रेनें

Indian Railway: जानें भारत में कहां है Diamond Crossing, जहां एक ही जगह चार दिशाओं से आती हैं ट्रेनें

Indian Railway: आपने भारतीय रेलवे में सफर के दौरान विभिन्न प्रकार की क्रॉसिंग देखी होंगी। आज हम आपको इस लेख के माध्यम से डायमंड क्रासिंग के बारे में बताने जा रहे हैं, जहां चारों दिशाओं से एक ही जगह पर ट्रेने आती हैं। 

Indian Railway:  जानें भारत में कहां है Diamond Crossing, जहां एक ही जगह चार दिशाओं से आती हैं ट्रेनें
Indian Railway: जानें भारत में कहां है Diamond Crossing, जहां एक ही जगह चार दिशाओं से आती हैं ट्रेनें

Indian Railway: आपने भारतीय रेल में सफर के दौरान कई बार एक पटरी से दूसरी पटरी को जुड़ते हुए देखा होगा। वहीं, शायद ही कहीं देखा होगा, जब एक पटरी दूसरी पटरी को क्रॉस करते हुए गुजर जाए। वहीं, क्या आपको पता है कि भारत में एक  जगह ऐसी भी है जहां एक ही जगह पर एक नहीं, दो नहीं बल्कि चारों दिशाओं से  ट्रेने आती हैं। इस जगह पर ट्रेनों का संचालन इस तरह से किया जाता है कि ये आपस में बिना टकराए सुरक्षित निकल जाए। इसके लिए हर एक ट्रेन का अलग-अलग समय निर्धारित किया जाता है। तो आइये भारतीय रेलवे की इस अनोखी रेलवे क्रॉसिंग के बारे में जानते हैं। 



डायमंड क्रॉसिंग है नाम

रेलवे की इस अनोखी क्रॉसिंग को डायमंड क्रॉसिंग कहा जाता है। क्योंकि, यहां चारों दिशाओं से ट्रेनें आती हैं। ऐसे में यहां एक ही जगह पर चार पटरियां क्रॉस हो रही हैं, जिस वजह से यहां पर डायमंड का आकार बनता है, इसलिए इस क्रॉसिंग का नाम डायमंड क्रॉसिंग पड़ गया है। यहां एक ही जगह खड़े होकर रेलवे के चार ट्रैक दिखाई देते हैं। 

 

नागपुर में है डायमंड क्रॉसिंग

भारत में डायमंड क्रासिंग सिर्फ महाराष्ट्र के नागपुर में देखने को मिलती हैं। यह नागपुर में संप्रिती नगर स्थित मोहन नगर में है। वैसे तो यह 24 घंटे खुली रहती है, लेकिन यहां अधिक देर रूकने नहीं दिया जाता है। क्योंकि, यहां आसपास का हिस्सा रेलवे का अंदर आता है। साथ ही सुरक्षा के लिहाज से ट्रैक के पास खड़े नहीं हो सकते हैं। हालांकि, देश के विभिन्न हिस्सों से सैलानी यहां डायमंड क्रॉसिंग को देखने के लिए पहुंचते हैं। 

 

कहां-कहां से आती हैं ट्रेनें

 

चार दिशाओं से आ रहे ट्रैक पर अलग-अलग ट्रेनों के रूट तय हैं। यहां पूर्व दिशा में गोंदिया से एक ट्रेक आता है, जो कि हावड़ा-राउकेला-रायपुर लाइन है। वहीं, एक ट्रैक दक्षिण भारत से आता है और एक ट्रैक दिल्ली से आता है, जो कि उत्तर दिशा से आ रहा है। इसी जगह पर पश्चिमी मुंबई से भी एक ट्रैक आकर मिल रहा है। ऐसे में यहां एक ही जगह पर चार दिशाओं से ट्रैक आकर मिलते हैं। हालांकि, एक ही समय पर दो ट्रेनों का क्रॉस करना संभव नहीं है। इसलिए क्रॉसिंग पर ट्रेनों के गुजरने का समय अलग-अलग है। 

 

पढ़ेंः जानें कौन से हैं भारत के 7 सबसे लंबे रेलवे प्लेटफॉर्म ?