एग्जाम रिजल्ट फोबिया से निजात पाने के 5 सरल तरीके

परीक्षाओं को लेकर सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि हर किसी को परीक्षा के बाद कितने नंबर आयेंगे इस बात की चिंता रहती है.

Created On: Mar 21, 2018 12:25 IST
Modified On: Mar 23, 2018 12:26 IST
5 ways to get rid of exam result blues
5 ways to get rid of exam result blues

परीक्षाओं को लेकर सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि हर किसी को परीक्षा के बाद कितने नंबर आयेंगे इस बात की चिंता रहती है. यह चिंता कभी कभी अवसाद तथा फोबिया का रूप ले लेती है. वस्तुतः परीक्षा के बाद नंबर को लेकर चिंतित होना एक  सामान्य प्रक्रिया तथा मानवीय स्वभाव है लेकिन हमें इस दौरान बहुत सावधानी बरतनी चाहिए तथा चिंता छोड़ किसी अन्य चीज में मन लगाना  चाहिए. आगे कुछ उक्तियाँ दी गयी हैं जिनपर अमल कर आप इस चिंता से मुक्ति पा सकते हैं.

चीजों को बहुत गंभीरता से न लें  

सबसे महत्वपूर्ण बात है परीक्षा में किए गए गलतियों से सीखना न कि उसके लिए पश्चाताप कर रोना या फिर चिंतित होना.इसलिए अगर आपने गलती की है, तो कोई बात नहीं लेकिन वैसी गलती पुनः भविष्य में नहीं करने का दृढ़ संकल्प लें.इसके अतिरिक्त हमेशा सकारात्मक सोंच रखें. आप यह सोचकर की जो बीत गयी वो बात गयी अब आगे की तैयारी करें. आप अपना पास्ट तो नहीं बदल सकते लेकिन  फ्यूचर तो आपके हाथ में है. अतः हमेशा एनर्जेटिक रहकर अपना भविष्य बनाने की कोशिश करते रहें.

भविष्य की योजनाओं का खाका खींचें

इस दौरान आप अपने भविष्य में 5 से लेकर 10 वर्ष तक क्या कर सकते हैं या क्या करने की योजना है ?आदि का एक विस्तृत विवरण तैयार करें. यदि आप इतिहास में रूचि रखते हैं तो उससे सबंधित आप क्या काम कर सकते हैं ? इसी तरह साइंस या बिजनेस से जुड़े किस काम को करने में आपकी रूचि है ? इसे बेहतर तरीके से जानकर उस पर अमल करना शुरू कर दें.वैसे तो ये काम जीवन में कभी भी किया जा सकता है लेकिन इस दौरान इसका कुछ अलग ही महत्व होता.

अपरंपरागत विकल्पों का चयन करें

अगर कोई चीज या स्ट्रीम आपको बहुत अच्छा लगता है तो अपने कम्फर्ट जोन से बाहर निकलकर उस क्षेत्र में अपना करियर बनाने की सोंचे. ज्यादातर छात्र पारंपरिक स्ट्रीम्स जैसे इंजीनियरिंग या मेडिकल आदि का ही चयन करते हैं. आप इससे आगे की सोंच रखते हुए इनसे कुछ अलग अ पारम्परिक लिक का चयन कर अपने करियर और जीवन में बदलाव महसूस करें.

किसी प्रोफेशनल की मदद लें

अगर करियर का चयन करने में उलझन आ रही है तो आप किसी प्रोफेशनल करिअर एक्सपर्ट की सहायता ले सकते हैं. वो आपकी योग्यता को देखते हुए एक निश्चित कोर्स तथा कॉलेज में एडमिशन लेने की सलाह देगा. इससे आपके साथ साथ आपके माता पिता को भी राहत मिलेगी.

अपनी तुलना किसी अन्य स्टूडेंट्स से हरगिज नहीं करें

अपने किसी ब्रिलिएंट दोस्त या रिश्तेदार की तुलना अपने आप से कभी नहीं करें. हर किसी की अपनी विशेषताएं होती है. इस दुनिया में दो आदमी बिलकुल एक समान कभी नहीं हो सकते हैं. आप कभी भी अपने आप को एक भीड़ का हिस्सा न मानें. आपकी अपनी प्रतिभा है जिसके बल पर आप किसी अन्य क्षेत्र में उम्दा प्रदर्शन कर सकते हैं.

निष्कर्ष

वस्तुतः परीक्षा में आये नंबरों का जीवन की कठिनता तथा उसके मार्ग में आने वाली कठिनाइयों से कोई लेना देना नहीं होता और ना ही इनके बल पर जीवन की समस्याओं का समाधान संभव है. एकेडमिक रूप से आगे बढ़ने के लिए अच्छे नंबर जरुरी हैं लेकिन जीवन में वही सब कुछ नहीं है. इसलिए इस विषय पर चिंतन न करते हुए करियर में आगे की राह तलाशें.

Jagran Play
रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें एक लाख रुपए तक कैश
ludo_expresssnakes_ladderLudo miniCricket smash
ludo_expresssnakes_ladderLudo miniCricket smash

Related Categories

Comment (0)

Post Comment

1 + 8 =
Post
Disclaimer: Comments will be moderated by Jagranjosh editorial team. Comments that are abusive, personal, incendiary or irrelevant will not be published. Please use a genuine email ID and provide your name, to avoid rejection.