Search

नए वर्कप्लेस पर घुलने मिलने के 5 सटीक तरीके

एक तरह से नए कार्य-स्थल पर नयी नौकरी प्रारंभ करना जिसमे नयी चुनौती होती है जीवन में एक कठिन बदलाव की स्थिति की ओर इंगित करता है.

Aug 14, 2019 15:55 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon
New Workplace: 5 ways to gel in like a pro
New Workplace: 5 ways to gel in like a pro

एक तरह से नए कार्य-स्थल पर नयी नौकरी प्रारंभ करना जिसमे नयी चुनौती होती है जीवन में एक कठिन बदलाव की स्थिति की ओर इंगित करता है. यह आपके जीवन का एक चुनौतीपूर्ण समय हो सकता है. लेकिन चुनौतियों और कठिनाइयों के चक्कर में इस बदलाव में अवरोध उत्पन्न करना कोई अच्छी बात नहीं है. इसीलिए हमने यहाँ कुछ युक्तियों दी हैं, जो आपको इस परिवर्तन के समय मदद करेगा.

1. ग्रहणशील बनिए

नए वातावरण में काम करना  उतना मुश्किल नहीं है जितना कि दिखाई देता है. जब आप गुलाब की डाली को किसी दुसरे गुलाब के पौधे में रोपते हैं, वह वहां फिर से उग जाती है वैसे ही आप नयी जगह व्यवस्थित हो जायेंगे. आपको कुछ समय में ये लग जाएगा कि यह आपके सह कर्मचारी,  प्रबंधक या जूनियर हों, कोई भी आपको नुकसान पहुंचाने के इरादे से नहीं आ रहा है, तो आप काम करने के लिए एक सुखद व्यक्तित्व रखें और उन बदलावों को ग्रहण करें जिन्हें आप देख रहे हैं.

2. खुद को चिंता मुक्त रखें

डर कभी निराधार नहीं होता है. इसकी एक मजबूत नींव होती है जो किसी व्यक्ति के दिमाग में हमेशा रहता है. अपने डर को अपने रास्ते में बाधा नहीं बनने दें. यदि आपके पास अतीत की कोई नकारात्मक स्मृति या अनुभव है, तो इसे दूर करने का प्रयास करें और इसे नए कार्यस्थल से संबद्ध न करें. एक आधारहीन संदेह आपके एक संभावित उज्ज्वल भविष्य की शुरुआत को कमजोर कर सकता है. इसीलिए खुद अपने डर से लड़ें और आगे बढ़ें.

3. दूसरों की परवाह करें

अपने परिवार के सदस्यों या दोस्तों से बात करें और उन कारणों को साझा करें जो आपको परेशानी दे रहे हैं. यदि आपको ये लग रहा है कि आप अपने डर से बाहर नहीं निकल पायेंगे तो अपने प्रियजनों की सहायता लें. अपने भीतर के भय को साझा करना अक्सर उन पर काबू पाने में मदद करता है. ज्यादातर मामलों में मनोवैज्ञानिक कहते हैं कि जब लोग किसी के साथ अपनी भावनाओं को व्यक्त करते हैं तो लोग अपने बाधाओं से ऊपर उठते हैं. आप कार्यस्थल या प्रोफेशनल सर्कल में अपने प्रशिक्षक  की सहायता भी ले सकते हैं.

4. यथार्थवादी अपेक्षाएं रखें

सभी जीवित प्राणियों (यह पौधे, जानवर या मनुष्य हो) में बदलाव के लिए खुद को  समायोजित करने की क्षमता होती है. इसलिए जब आप अपनी नौकरी बदलने और नए परिवार का हिस्सा बनने का निर्णय लेते हैं, तो अवास्तविक उम्मीदें न पालें कि लोग आपसे राजा या रानी की तरह व्यवहार करेंगे, जैसे ही दुनिया के सभी क्षेत्रों की मिट्टी समान नहीं है, वनस्पति भी अलग है; इसी प्रकार सभी कार्यस्थल एक से  नहीं होते हैं. आप नए कार्यस्थल की संस्कृति को समझें और तदनुसार खुद को समायोजित करें.

5. परिवर्तन के बारे में सकारात्मक सोचें

अज्ञात संदेह के रास्ते में सबसे बड़ी चुनौती आपका निराशावाद है. कार्यस्थल में शामिल होने से पहले ही दिमाग में एक छवि बना लेना, आपकी उत्पादकता को कम कर देगा. आप उन पहलुओं को ढूंढने पर ध्यान केंद्रित करेंगे जिनमे आपको परेशानी पहुंचाने की संभावना है. सकारात्मक चीजों को देखने के बजाय, आप कमियों पर ध्यान केंद्रित करेंगे. इसीलिए पहले चरण में, सकारात्मक विचार विकसित करना आरंभ करें जो आपको नए कार्यस्थल में सुचारू रूप से घुलने मिलने में मदद करेंगे. खुद को आत्म-आश्वासन दें कि प्रस्ताव पत्र को स्वीकार करने निर्णय सही था. जब आप कार्यालय में अच्छे से शामिल हो जाएंगे  तो आप एक अच्छा करियर का विकास कर सकेंगे.

Related Stories