G20: पीएम मोदी ने भारत के G20 प्रेसीडेंसी के लोगो, थीम और वेबसाइट को किया लांच, जानें इसके बारें में

India's G20 Presidency: पीएम मोदी ने ने मंगलवार को भारत के G20 प्रेसीडेंसी की वेबसाइट, लोगो और थीम को लांच किया है. वर्ष 2023 की G20 प्रेसीडेंसी भारत को मिली है. जानें लोगो, थीम और वेबसाइट के बारें में 

पीएम मोदी ने भारत के G20 प्रेसीडेंसी के लोगो, थीम और वेबसाइट को किया लांच
पीएम मोदी ने भारत के G20 प्रेसीडेंसी के लोगो, थीम और वेबसाइट को किया लांच

India's G20 Presidency: पीएम मोदी ने ने मंगलवार को भारत के G20 प्रेसीडेंसी की वेबसाइट, लोगो और थीम को लांच किया है. वर्ष 2023 की G20 प्रेसीडेंसी भारत को मिली है जिसके लिए पीएम मोदी ने इस होस्ट इवेंट की थीम, वेबसाइट आदि को लांच किया. G20 2023 का थीम 'वसुधैव कुटुम्बकम्' पर आधारित है.

भारत 1 दिसंबर को G20 की प्रेसीडेंसी, G20 के मौजूदा अध्यक्ष  इंडोनेशिया से ग्रहण करेगा. भारत की प्रेसीडेंसी 1 दिसंबर 2022 से शुरू होकर 30 नवम्बर 2023 तक जारी रहेगी. अपनी G20 प्रेसीडेंसी के दौरान, भारत देश भर में कई स्थानों पर 32 विभिन्न क्षेत्रों में लगभग 200 बैठकों की अध्यक्षता करेगा.

2023, G20 इवेंट का लोगो:

  •  G20 का लोगो भारत के नेशनल फ्लैग से प्रेरित है, जिसमें केसरिया, सफेद और हरा रंग शामिल है.
  • इस लोगो में भारत के नेशनल फ्लावर 'कमल' (Lutus) को अर्थ प्लेनेट के साथ दर्शाया गया है जो चुनौतियों के बीच विकास को दर्शाता है.    
  •   G20 लोगो के नीचे देवनागरी लिपि में "भारत" लिखा है. जो पृथ्वी जीवन के प्रति भारत के ग्रह-समर्थक दृष्टिकोण को दर्शाता है.
  • लोगो में कमल की सात पंखुड़ियाँ का भी अलग महत्व हैं जो सात महाद्वीपों का प्रतिनिधित्व करते हैं. साथ ही यह संगीत के सात स्वरों की संख्या को भी दर्शाता है.

G20 इवेंट का थीम:

  • भारत की प्रेसीडेंसी में होने वाले 2023 के G20 इवेंट का थीम 'वसुधैव कुटुम्बकम्' (Vasudhaiva Kutumbakam) या 'वन अर्थ वन फैमिली वन फ्यूचर' (One Earth One Family One Future) है. जो महा उपनिषद के प्राचीन संस्कृत पाठ से लिया गया है. 
  • यह थीम मुख्य रूप से जीवन के मूल्य को दर्शाता है जिसमें मानव, पशु, पौधे और सूक्ष्मजीव शामिल है. साथ ही यह थीम पृथ्वी और ब्रह्मांड में उनके परस्पर संबंध को बताता है.  

G20 वेबसाइट:

  • भारत के G20 प्रेसीडेंसी की वेबसाइट www.g20.in को भी पीएम मोदी ने लांच किया. भारत के 1 दिसंबर 2022 को G20 की  प्रेसीडेंसी ग्रहण करते ही यह वेबसाइट www.g20.org पर माइग्रेट हो जाएगी. इस वेबसाइट में नागरिकों के लिए अपने सुझाव देने के लिए एक अनुभाग को भी शामिल किया गया है.
  • मोबाइल ऐप "G20 India": वेबसाइट के अलावा, एंड्रॉइड और आईओएस दोनों प्लेटफॉर्म पर एक मोबाइल ऐप "G20 India" भी जारी किया गया है.

पीएम मोदी के भाषण की मुख्य बातें:

वेबसाइट लॉन्चिंग के दौरान पीएम मोदी ने कहा कि एक बेहतर भविष्य और समान उद्देश्य के लिए पूरी दुनिया को एक साथ लाने के दृष्टिकोण पर काम कर रहा है.
पीएम मोदी ने कहा कि  भारत का प्रयास होगा कि आज, दुनिया सामूहिक नेतृत्व की ओर बड़ी आशा के साथ देख रही है, चाहे वह G-7, G-77 या UNGA हो. इस स्थिति में G20 के प्रेसीडेंस के रूप में भारत की भूमिका बहुत महत्वपूर्ण हो जाती है.    

उन्होंने कहा कि ग्लोबल साउथ के सभी देशों के साथ मिलकर हम G20 प्रेसीडेंसी का खाका तैयार करेंगे, जो दशकों से विकास के पथ पर भारत के साथी रहे हैं.

G20 के बारें में:

G20 दुनिया के प्रमुख विकसित और विकासशील अर्थव्यवस्थाओं का एक अंतर-सरकारी मंच है जो ग्लोबल जीडीपी के 85 प्रतिशत का प्रतिनिधित्व करता है. G20 19 देशों और यूरोपियन यूनियन शामिल है. इसकी स्थापना वर्ष 1999 में की गई थी.    

 G-20 के सदस्य देशों में ऑस्ट्रेलिया, अर्जेंटीना, ब्राज़ील, कनाडा, चीन, फ्राँस, जर्मनी, भारत, इंडोनेशिया, इटली, जापान, मेक्सिको, रूस, सऊदी अरब, दक्षिण अफ्रीका, साउथ कोरिया, तुर्की, यूनाइटेड किंगडम, यूएसए और यूरोपियन यूनियन शामिल है.

इसे भी पढ़े

क्लाइमेट चेंज पर COP-27 कांफ्रेंस मिस्र में शुरू, जानें क्या है भारत का एजेंडा?

Take Weekly Tests on app for exam prep and compete with others. Download Current Affairs and GK app

एग्जाम की तैयारी के लिए ऐप पर वीकली टेस्ट लें और दूसरों के साथ प्रतिस्पर्धा करें। डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप

AndroidIOS
Read the latest Current Affairs updates and download the Monthly Current Affairs PDF for UPSC, SSC, Banking and all Govt & State level Competitive exams here.
Jagran Play
खेलें हर किस्म के रोमांच से भरपूर गेम्स सिर्फ़ जागरण प्ले पर
Jagran PlayJagran PlayJagran PlayJagran Play