Jagran Josh Logo

ब्रांड मैनेजमेंट के क्षेत्र में करियर ग्रोथ का बेहतर स्कोप

Dec 14, 2017 16:22 IST
    Better Scope of Career Growth in Brand Management
    Better Scope of Career Growth in Brand Management

    आज के प्रतिस्पर्धात्मक युग में प्रत्येक कंपनी अपने उत्पाद को दूसरे कंपनी के उत्पाद से बेहतर बताने में लगी हुई हैं. कंपनियां ऐसा करके अपने उत्पाद की ब्रिकी में बढ़ोतरी करती हैं.कंपनियों को ऐसा करने के लिए उन्हें एक अच्छे ब्रांड मैनेजर की जरूरत होती है. एक अच्छा ब्रांड मैनेजर कंपनी के उत्पाद को आम लोगों तक एवं बाजार में सहज रूप से पहुंचाने में अहम भूमिका निभाता है. एक अच्छा ब्रांड मैनेजर बनने के लिए आज  के  समय में कई ब्रांड मैनेजमेंट कोर्स मौजूद हैं. इन कोर्स को करने के बाद आप बहुत बढ़िया पैकेज और ब्रांडेड  कंपनियों में नौकरी पा सकते हैं. आजकल अधिकांश कंपनियों में ‘जो दिखता है, वही बिकता है’  का सिद्धांत ज्यादा अपनाया जा रहा  है. इसलिए हर कंपनी अपने उत्पाद के प्रोमोशन के लिए एक विशेष टीम रखती है. ताकि उनकी मदद से वह अपने खरीददारों तक अपनी पहुंच आसानी से बना पाए. चलिए ब्रांड मैनेजमेंट से जुड़ी कुछ विशेष बातों पर प्रकाश डालते हैं.

    बढ़ती प्रतियोगिता की वजह से इसकी डिमांड अधिक है

    ब्रांड मैनेजमेंट से संबंधित प्रोफेशनल पाठ्यक्रमों की मांग छात्रों के बीच दिनोंदिनबढ़ बढ़ती ही जा रही है. इससे यह साफ स्पष्ट होता है कि इस पाठ्यक्रम से जुड़े अवसरों की भरमार है. कई शिक्षण संस्थानों ने अपने मैनेजमेंट पाठ्यक्रमों में ब्रांड मैनेजमेंट के पाठ्यक्रम को विशेष रूप से शामिल किया है. इससे स्टूडेंट्स को इसके महत्व  के बारे में बड़ी आसानी से समझाया जा   सकता है.

    ब्रांड मैनेजमेंट से जुड़े मुख्य कोर्स

    ब्रांड मैनेजमेंट के क्षेत्र में किये जाने वाले महत्वपूर्ण कोर्स हैं - मार्केट रिसर्च, एनालिसिस ऑफ मार्केटिंग ट्रेंड, कज्यूमर डिमांड, ब्रांड लॉन्च एंड यूएसपी, ब्रांड रिसर्च, ब्रांड प्रमोशन और डिस्ट्रिब्यूशन हैं. इन कोर्स को करने के बाद आप इन सभी क्षेत्रों में बेहतर जॉब की तलाश कर सकते हैं.
      
    एकेडेमिक क्वालिफिकेशन

    ब्रांड मैनेजर बनने के लिए आपके पास ब्रांड मैनेजमेंट या मैनेजमेंट में डिग्री या डिप्लोमा की डिग्री का होना जरूरी है. आजकल देश के कई संस्थानों में इसके लिए अलग-अलग कोर्स चलाये जा रहे हैं. इंडियन इंस्टीटय़ूट ऑफ मैनेजमेंट (आईआईएम) में अभी ब्रांड मैनेजमेंट स्पेशलाइजेशन में दो वर्षीय डिग्री नहीं है, लेकिन आईआईएम तिरुचिरापल्ली में एक वर्षीय पोस्ट ग्रेजुएट सर्टिफिकेट इन ब्रांड एंड एडवर्टाइजिंग मैनेजमेंट का कोर्स कराया जा रहा है. 

    शॉर्ट टर्म कोर्स भी किया जा सकता है

    यदि आप इसका फुल टाइम रेगुलर कोर्स करने में असमर्थ हैं,तो आपके पास ब्रांड मैनेजमेंट कोर्स करने के लिए शॉर्ट टर्म कोर्स का भी विकल्प है. मौजूदा समय में आईआईएम अहमदाबाद, बेंगलुरू, इंदौर और कोलकाता में शॉर्ट टर्म कोर्स कराये जाते हैं तथा सर्टिफिकेट दिए जाते है. आजकल तो कई प्राइवेट संस्थान भी अपने यहां ब्रांड मैनेजमेंट स्पेशलाइजेशन में बैचलर, पीजी डिप्लोमा और एडवांस्ड पीजी डिप्लोमा जैसे कोर्स करा रहे हैं. गौर तलब है कि देशभर के अधिकांश संस्थानों में मैनेजमेंट के लिए एमबीए कोर्स करने वाले सभी छात्रों को अनिवार्य रूप से एक पेपर के रूप में ब्रांड मैनेजमेंट भी पढ़ाया जाता है.

    क्रिएटिविटी एक आवश्यक शर्त है

    यदि आप एक सफल ब्रांड मैनेजर बनने की चाह रखते हैं तो इसके लिए आपका क्रिएटिव माइंड का होना बेहद जरूरी है. इस फील्ड में नए तरीके का आइडिया काफी मायने रखता है. इन आइडिया के जरिये ही ब्रांड प्रमोशन के नए तरीके निकाले जाते हैं. इस क्षेत्र में आइडिया तब ही ज्यादा कारगर होते हैं, जब उनके साथ क्रिएटिविटी भी हो. इसके अतिरिक्त आपके पास मार्केट रिसर्च, एनालिसिस, सेल्स और प्रोडक्ट के प्रमोशन की प्लानिंग जैसी स्किल का होना भी अति आवश्यक है.

    लुभावना पैकेज

    प्रत्येक अलग अलग कम्पनियों में ब्रांड मैनेजर की सैलरी अलग अलग होती है. औसतन एक ब्रांड मैनेजर को जॉब के शुरूआत में 30 हजार रुपये तक की सैलरी ऑफर होती है, जो समय,अनुभव और मैनेजर के काम के परफेक्टनेस के आधार पर बढ़ता रहता है. भारत में अब भी नई कंपनियों के लिए काफी संभावनाएं हैं और एफडीआई के जरिए उन्हें आकर्षित करने की लगातार कोशिशें की जा रही हैं. ऐसे में विदेशी कंपनियों के आने पर ब्रांड मैनेजरों के वेतन में वृद्धि बहुत स्वाभाविक है.

    ब्रांड मैनेजर के लिए आवश्यक स्किल्स

    एक बेहतर और सफल ब्रांड मैनेजर बनने के लिए मैनेजर में कुछ प्रोफेशनल गुणों  का होना जरूरी है. जैसे बतौर ब्रांड मैनेजर आपके पास अच्छी कम्यूनिकेशन स्किल होनी चाहिए. दरअसल ब्रांड से जुड़े लोगों का काम अपने प्रोडक्ट की छवि को मार्केट में बेहतर दिखाना होता है. यह काम बिना कम्यूनिकेशन स्किल के संभव नहीं है. इसी तरह तेज-तर्रार दिमाग का होना भी एक आवश्यक शर्त है. यह व्यवसाय  मार्केट रिसर्च और प्रतिद्वंद्वी कंपनियों से स्वयं को बेहतर साबित करने की कोशिश पर ही केंद्रित है. इसलिए सतर्क दिमाग और लॉजिकल सोच के जरिये काम को संभावित अंजाम तक पहुँचाने की कला भी आनी चाहिए.

    भविष्य में नौकरी के आसार

    ब्रांड मैनेजमेंट कोर्स करने के बाद आप एक ब्रांड मैनेजर या प्रोडक्ट मैनेजर के रूप में मल्टीनेशनल कंपनियों में नौकरी पा सकते हैं.यहां आपकी प्रतिभा और काम के अनुरूप ही आपको समय -समय पर प्रमोशन भी मिलता है. इस कोर्स को करने के बाद विदेशों में भी काम मिलने की संभावना बढ़ जाती है. दूसरे देश में भारत की तुलना में सैलरी अधिक मिलती है.

    अतः अगर आप एक तेज तर्रार् दिमाग रखते हैं और क्रिएटिविटी आपके खून में है,तो अवश्य ब्रैंड मैनेजमेंट के क्षेत्र में अपना करियर बनाने की सोच सकते हैं तथा जीवन में सफलता प्राप्त कर सकते हैं.

    Latest Videos

    Register to get FREE updates

      All Fields Mandatory
    • (Ex:9123456789)
    • Please Select Your Interest
    • Please specify

    • By clicking on Submit button, you agree to our terms of use
      ajax-loader
    • A verifcation code has been sent to
      your mobile number

      Please enter the verification code below

    Newsletter Signup
    Follow us on
    This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK
    X

    Register to view Complete PDF