तैयारी के ये स्मार्ट तरीक़े आपको दिलासकते हैं JEE Advance 2018 में टॉप रैंकस

IIT में दाखिला लेना हर एक इंजीनियरिंग करियर से जुड़े छात्र का सपना होता है. JEE Main की परीक्षा अब खत्म हो गई हैं और JEE Advance एग्जाम का वक्त करीब है. इस समय छात्रों को चाहिए की वह परिणाम की प्रतीक्षा बीना किए अब पूरे सकारात्मकता के साथ JEE Advance की तैयारी जारी रखें. तो आइये जानते हैं कुछ ख़ास ऐसे टिप्स जो आपको JEE Advance की परीक्षा को क्रैक करने में बेहद मददगार साबित होंगे.

Created On: Apr 27, 2018 17:14 IST
Modified On: Oct 11, 2018 15:20 IST
JEE Advanced
JEE Advanced

2018 JEE Main एग्जाम के कट-ऑफ पैटर्न का हमने एक विश्लेषण किया है जिसके अंतर्गत इस साल करीबन 1120000 छात्र JEE Main की परीक्षा में उपस्थित हुए थे. जिनमें लगभग 224000 छात्र JEE Advance की परीक्षा के लिए योग्य होंगे. अर्थात छात्रों के लिए यह एक अच्छी ख़बर है कि गत वर्ष की तुलना में इस वर्ष 4000 और छात्रों को  JEE Advance की परीक्षा में उपस्थित होने का मौका मिलेगा. जैसा की हम सभी को पता है Jee main का परिणाम 30 अप्रैल 2018 को घोषित कर दिया जायेगा तथा jee advance की परीक्षा 20 मई 2018 को संचालित की जाएगी.

JEE Main की परीक्षा अब खत्म हो गई हैं और JEE Advance एग्जाम का वक्त करीब है. इस समय छात्रों को चाहिए की वह परिणाम की प्रतीक्षा बीना किए अब पूरे सकारात्मकता के साथ JEE Advance की तैयारी जारी रखें.

छात्रों को इस लक्ष्य के लिए पूरी तरह से तैयार होकर इम्तिहान में उतरने का समय आ गया है. अब परीक्षा में काफी कम दिन बचे हैं और सिलेबस काफी बड़ा है. जाहिर तौर पर आपको इससे जुड़ी तकरीबन सभी चीजें समेटने की भी जरूरत होगी. अगर आप बेहतर रणनीति के साथ और सावधानी बरतते हुए तैयारी करते हैं, तो आपकी कड़ी मेहनत रंग लाएगी.

तो आइये जानते हैं कुछ ख़ास ऐसे टिप्स जो आपको JEE Advance की परीक्षा को क्रैक करने में बेहद मददगार साबित होंगे.

1. सबसे पहले छात्र jee main की answer key के ज़रिए अपने प्रदर्शन का विश्लेषण करें. आपके पास jee main एग्जाम 2018 का प्रश्न पत्र है अब आप CBSE द्वारा जारी किए answer key के मदद से अपने उत्तरों की अच्छी तरह जाँच कर लें. इससे आपको यह आकलन करना आसान होगा की अब आपको jee advance में और कितनी मेहनत की आवश्यकता पड़ेगी. आप किस विषय या टॉपिक में अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं और ऐसे कौन से विषय या टॉपिक है जिसमें आपको और मेहनत की आवश्यकता है.

अर्थात आप खुद इस आकलन की मदद से अपने JEE Advance के पढ़ाई की रणनीति तैयार कर सकते हैं.

अपने लक्ष्य को निर्धारित करें:

सफलता तक पहुँचने के लिए आपका लक्ष्य निर्धारित होना अति आवश्यक है. आपका लक्ष्य ही आपको मंजिल तक पहुँचाने में मदद करता है. अर्थात किसी भी लक्ष्य को पाने के लिए हर किसी को कठिनाइयों के स्तर से गुज़ारना पड़ता है, चाहे वह आपको आपके पेशेवर जीवन में आगे बढ़ने के लिए करना पड़े या अन्य किसी भी लक्ष्य की प्राप्ति के लिए करना पड़े.

इसी प्रकार छात्र अभी से अपने लक्ष्य को अच्छी तरह निर्धारित कर लें. अच्छी तरह से अपने सभी विषयों के वीक एरियाज और स्ट्रोंग एरियाज को जाँच लें तथा अब यह देखें की वीक एरियाज में किस टॉपिक में आपको कहाँ परेशानी का सामना करना पड़ रहा है जैसे की- आपको शायद किसी टॉपिक का कांसेप्ट अच्छी तरह क्लियर न हो, या आपको उन टॉपिक्स के प्रश्नों को हल करने में समय ज्यादा लग रहा हो.... इसी प्रकार अन्य छोटी-छोटी त्रुटियों को पहचान कर आप इन अपने वीक एरियाज में भी अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं.

अपने सिलेबस को अच्छी तरह समझ लें:

JEE Advance की परीक्षा से पहले अच्छी तरह उसके सिलेबस को समझ लें. क्यूंकि jee advance की परीक्षा में पूछे गए प्रश्न उसके सिलेबस पर ही आधारित होते हैं. जब तक आप सिलेबस से अच्छी तरह परिचित नहीं होंगे आपके लिए तैयारी की सही रणनीति बनाना काफी मुश्किल होगा अर्थात कई बार इस कारण छात्र तनाव में भी आ जाते हैं क्यूंकि उन्हें ठीक से पता ही नहीं होता की कब क्या पढ़ना है. छात्र सिलेबस के ज़रिए आसानी से अपने परीक्षा की तैयारी अभी से शुरू कर सकते हैं, यदि आप सिलेबस के अनुसार अपनी तैयारी करते हैं तो आपको पता होगा की आपको किस टॉपिक में कितना पड़ना है और किस टॉपिक को आपको पढ़ने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी. यहाँ हम JEE Advance की परीक्षा के लिए सभी महत्वपूर्ण टॉपिक छात्रों को उपलब्ध करा रहे हैं जो की नीचे अंकित है:

 

JEE Advanced एग्जाम 2018 का सिलेबस – गणित, भौतिक विज्ञान तथा रसायन विज्ञान के लिए

IIT Kanpur ने JEE Advanced एग्जाम 2018 का सिलेबस 6 नवम्बर 2017 को ही उपलद्ध करा दिया था. JEE Advanced की परीक्षा 20 मई 2018 को IIT द्वारा संचालित की जाएगी. अर्थात  लगभग 2,24,000 छात्र JEE Advanced 2018 की परीक्षा में उत्तिर्ण होंगे जोकि पूरी तरह कंप्यूटर बेस्ड टेस्ट होगा तथा इस परीक्षा में वह ही छात्र उत्तिर्ण होने के लिए योग्य हैं जो की JEE Main 2018 में पास होंगे.

JEE Advanced 2018 Chemistry Syllabus

  •  General topics - Concept of atoms and molecules; Dalton’s atomic theory; Mole concept; Chemical formulae; Balanced chemical equations; Calculations (based on mole concept) involving common oxidation-reduction, neutralisation, and displacement reactions; Concentration in terms of mole fraction, molarity, molality and normality
  • Gaseous and liquid states - Absolute scale of temperature, ideal gas equation; Deviation from ideality, van der Waals equation; Kinetic theory of gases, average, root mean square and most probable velocities and their relation with temperature; Law of partial pressures; Vapour pressure; Diffusion of gases

To get the complete Chemistry syllabus, click here

JEE Advanced 2018 Mathematics Syllabus 

Algebra

  • Algebra of complex numbers, addition, multiplication, conjugation, polar representation, properties of modulus and principal argument, triangle inequality, cube roots of unity, geometric interpretations
  • Quadratic equations with real coefficients, relations between roots and coefficients, formation of quadratic equations with given roots, symmetric functions of roots,
  • Arithmetic, geometric and harmonic progressions, arithmetic, geometric  and harmonic means, sums of finite arithmetic and geometric progressions, infinite geometric series, sums of squares and cubes of the first n natural numbers

To get the complete Mathematics syllabus, click here

JEE Advanced 2018 Physics Syllabus

General

  • Units and dimensions, dimensional analysis; least count, significant figures; Methods of measurement and error analysis for physical quantities pertaining to the following experiments: Experiments based on using Vernier calipers and screw gauge (micrometer), Determination of g using simple pendulum, Young’s modulus by Searle’s method, Specific heat of a liquid using calorimeter, focal length of a concave mirror and a convex lens using u-vmethod, Speed of sound using resonance column, Verification of Ohm’s law using voltmeter and ammeter, and specific resistance of the material of a wire using meter bridge and post office box

Mechanics

  • Kinematics in one and two dimensions (Cartesian coordinates only), projectiles; Uniform circular motion; Relative velocity
  • Newton’s laws of motion; Inertial and uniformly accelerated frames of reference; Static and dynamic friction; Kinetic and potential energy; Work and power; Conservation of linear momentum and mechanical energy

To get the complete Physics syllabus, click here

बेस्ट स्टडी मटेरियल के लिए महत्वपूर्ण किताबें:

कई बार छात्र तैयारी के लिए किताबों को चुनने में कंफ्यूज हो जाते हैं. इसलिए, हमने प्रत्येक विषय के लिए महत्वपूर्ण पुस्तकों की सूची नीचे संकलित की है. इन किताबों से छात्रों को पूर्ण पाठ्यक्रम को संशोधित करने और पढ़ाई की सही रणनीति बनाने में मदद मिलेगी.

अर्थात पिछले दो वर्षों के Jee main के पेपर्स के विश्लेषण के अनुसार, जागरण जोश के विशेषज्ञों द्वारा पुस्तकों की एक सूची तैयार की गई है जोकि नीचे अंकित है:

Physics Books:

Concepts of Physics Vol I and II

Problems in General Physics

Objective questions on physics by D.C. Pandey

Aptitude Test Problems in Physics

NCERT

Mathematics Books

R.D. Sharma, 

Math XI & XII

S. L. Loney, Trigonometry 

Tata McGraw Hill (TMH), Complete Mathematics for JEE Advanced

Chemistry Books

NCERT, Chemistry XI, XII

O.P. Tandon, Physical Chemistry

R.C. Mukharjee, Numerical Chemistry

JEE Advance की बेस्ट स्टडी मटेरियल के लिए यहाँ पर क्लिक करें

टाइम मैनेजमेंट पर खास ध्यान दें:

छात्रों की हमेशा यह परेशानी होती है कि उनकी तैयारी तो अच्छी थी लेकिन टाइम कम था या फिर क्वेश्चन पेपर lengthy था. दरअसल परीक्षा में प्रश्नों का छुट जाना या प्रश्नों को हल करने में अधिक समय लगने का एक मात्र कारण यह है कि छात्रों को टाइम मैनेजमेंट की समस्या होती है. इसके लिए छात्रों को सलाह है कि वह अभी से जितने भी टॉपिक्स को पढ़े उन टॉपिक्स पर जितने ज्यादा हो सके प्रश्नों को समय सीमा के अनुसार हल करने की कोशिश करें इससे आपको एग्जाम हॉल में टाइम मैनेज करना ज्यादा आसान होगा.

गत वर्षों के प्रश्न पत्र, मोक पेपर्स तथा सैंपल पेपर्स की प्रैक्टिस:

कई कोचिंग एक्सपर्ट्स तथा JEE Advance टोपर्स के अनुसार, वह छात्र जो प्रैक्टिस पेपर्स, सैंपल पेपर्स तथा jee advance के प्रीवियस ईयर पेपर्स हल करते हैं उनके लिए jee advance का पेपर क्रेक करना ज्यादा आसान होता है.

क्यूंकि जितना आप किसी भी टॉपिक पर प्रश्नों को हल करेंगे उतना ही आपका कांसेप्ट उस पेपर पर क्लियर होता जायेगा तथा साथ ही साथ जैसा की हमने ऊपर बताया था की समय सीमा के अंतर्गत हल करे तो उससे आपका टाइम मैनेजमेंट भी अच्छा होता जायेगा.

तो जितना हो सके उतना मोक पेपर्स तथा गत वर्षों के प्रश्नों को हल करें. इससे आपको यह भी पता चलेगा की एग्जाम में किस तरह के प्रश्न पूछे जाते हैं तथा प्रश्नों के कठिनाई का स्तर भी आपको अच्छी तरह समझ आजायेगा.

शुभकामनाएं!!

Jagran Play
रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें एक लाख रुपए तक कैश
ludo_expresssnakes_ladderLudo miniCricket smash
ludo_expresssnakes_ladderLudo miniCricket smash

Related Categories

    Related Stories

    Comment (0)

    Post Comment

    2 + 8 =
    Post
    Disclaimer: Comments will be moderated by Jagranjosh editorial team. Comments that are abusive, personal, incendiary or irrelevant will not be published. Please use a genuine email ID and provide your name, to avoid rejection.