Search

UP Board Class 10 Mathematics Notes : Trigonometry (Chapter Sixth), Part-IV

Find UP Board class 10th mathematics chapter wise notes for the chapter Trigonometry. Quick notes helps us to revise the whole syllabus in minutes. The revision notes cover all important formulas and concepts given in the chapter.

Jun 29, 2017 15:51 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon

In this article you will get UP Board class 10th mathematics chapter wise notes for the chapter Trigonometry. Trigonometry is one of the most important chapter of UP Board class 10 mathematics. So, students must prepare this chapter thoroughly. The notes provided here will be very helpful for the students who are going to appear in UP Board class 10th mathematics Board exam 2018 and also in the internal exams. In this article we are covering these topic:

कोण (3600 ± θ) के त्रिकोणमितिय अनुपातों के कोण θ के त्रिकोणमितिय अनुपातों में ज्ञात करना:

3600 + θ का कोण बनाने पर परिक्रामी रेखा की वही स्थिति होगी जो कि कोण (+ θ) बनाने पर होती है । क्योंकि (3600 + θ) बनाने पर एक पूरी परिक्रमा हो जाती है इसलिए कोण 3600 + θ के सब त्रिकोणमितीय अनुपात परिमाण और चिन्ह में वही होते है जो कोण θ के है । यदि n पूर्णांक संख्या हो, तो n.3600 + θ के त्रिकोणमितीय अनुपात कोण θ के त्रिकोणमितीय अनुपात के बराबर होते हैं ।

इसी प्रकार (3600 - θ) का कोण बनाने पर परिक्रामी रेखा की वही स्थिति होगी जो कि कोण (- θ) बनाने पर होती है । इसलिए कोण (3600 + θ) के सब त्रिकोणमितीय अनुपात परिमाण और चिन्ह में वही होते हैं जो कोण (- θ) के है । यदि n संख्या हो, तो (n.3600 - θ) के त्रिकोणमितीय अनुपात कोण (- θ) के त्रिकोणमितीय अनुपात के बराबर होते हैं ।

6-5. sin और cos के विभिन्न त्रिकोणमितीय अनुपात के त्रिकोणमितीय पदों में :

कोण θ के पूरक (complementary angle), संपूरक कोण (supplementary angle) आदि कोणों के त्रिकोणमितिय अनुपात कोणों के संगत अनुपातों में व्यक्त करने बाले सुत्र अग्रलिखित हैं :

त्रिकोणमितिय अनुपातों के चिन्हों का ज्ञान निम्न की सहायता से सुगमतापूर्वक प्राप्त हो जाता है:

प्रश्नावली 6 (c)

लघु उत्तरीय प्रश्न

निम्नलिखित के मान ज्ञात कीजिए:

1. tan 1350.                                        2. cos 1350.                                         3. tan 1500.

4. cos 1200.                                        5. sin 19200.                                        6. tan 7650.

7. sin (-11250).                                    8. tan (-5850).                                     9. sin 9000.

10. tan2 4050 + cot2 3150 = 2.

हल सहित उदाहरण (Illustrative Examples):

लघु उत्तरीय प्रश्न:

विस्तृत उत्तरीय प्रश्न :


त्रिकोणमितीय सर्वसमिकाएँ (Trigonometrical Identities) :

एक या अधिक चरों वाले उस समीकरण को सर्वसमिका (identity) कहा जाता है जो कि सम्बन्धित चरों के सभी मानों के लिए संतुष्ट हो जाता हो अर्थात् चर (चरों) के सभी मानों के लिए समीकरण का वाम पक्ष दक्षिण पक्ष के बराबर होता हो|

हल सहित उदाहरण (Illustrative Examples) :

इस तरह हम यह पाते हैं कि दिये हुये समीकरण के केवल दो हल अर्थात् 00 और 450 हैं| अत: यह समीकरण सर्वसमिका नहीं है|

वैकल्पिक विधि: कभी – कभी समीकरण को देखकर ही चर का एक विशेष मान हम ले सकते हैं जिसके लिए समीकरण का प्रत्येक पक्ष परिभाषित होता हो| यहाँ दोनों पक्ष बराबर नहीं हैं| क्योंकि यदि हम दिये हुये समीकरण में ϕ = 300 लें, तो

 

इस तरह, हम यह पाते हैं कि ϕ = 300 पर समीकरण के दोनों पक्ष बराबर नहीं हैं | इससे यह सिद्ध होता है कि दिया हुआ समीकरण सर्वसमिका नहीं है|

लघु उत्तरी प्रश्न :

बताइए कि निम्नलिखित समीकरण सर्वसमिका हैं या नहीं:


UP Board Class 10 Science Notes : Organic compounds, Part-VIII

UP Board Class 10 Mathematics Notes : Trigonometry (Chapter Sixth), Part-II

Related Stories