जानिए CAT, MAT और CMAT एग्जाम्स में ये हैं प्रमुख अंतर

अगर हम किसी टॉप MBA एजुकेशनल इंस्टीटयूट में एडमिशन लेने के लिए विभिन्न एंट्रेंस एग्जाम्स देना चाहते हैं तो हमें देश के प्रमुख एंट्रेंस एग्जाम्स जैसेकि, CAT, MAT और CMAT एग्जाम्स के बीच प्रमुख अंतरों के बारे में जानकारी हासिल करनी चाहिए ताकि हम बेहतरीन एग्जाम्स प्रिपरेशन कर सकें.

 

Created On: Sep 4, 2019 18:21 IST
What are the differences between CAT MAT and CMAT
What are the differences between CAT MAT and CMAT

भारत में अधिकतर ग्रेजुएट स्टूडेंट्स MBA प्रोग्राम करना चाहते हैं क्योंकि हमारे देश में किसी टॉप IIM या एजुकेशनल इंस्टीटयूट से MBA कोर्स पूरा करते ही जॉब सीकर कैंडिडेट्स को देश की बड़ी कंपनियों और मल्टी नेशनल कंपनियों (MNCs) से काफी अच्छी सैलरी का प्लेसमेंट ऑफर मिलता है. लेकिन हमारे देश में किसी भी तरह का मैनेजमेंट कोर्स करने के लिए MBA कैंडिडेट्स को मैनेजमेंट एंट्रेंस एग्जाम देना पड़ता है. स्टूडेंट्स के लिए सबसे कठिन काम मैनेजमेंट एंट्रेंस एग्जाम देना ही होता है. भारत में सर्वाधिक प्रचलित मैनेजमेंट एंट्रेंस एग्जाम CAT, CMAT, MAT, XAT, IIFT, SNAP हैं. विभिन्न मैनेजमेंट इंस्टीट्यूट अलग अलग मैनेजमेंट एंट्रेंस एग्जाम के आधार पर अपने इंस्टीटयूट में स्टूडेंट्स को विभिन्न MBA कोर्सेज में एडमिशन देते हैं और कुछ मैनेजमेंट इंस्टीट्यूट्स अपने एंट्रेंस एग्जाम भी आयोजित करते हैं.

कॉमन एडमिशन टेस्ट अर्थात CAT देश के सबसे लोकप्रिय और प्रतिष्ठित मैनेजमेंट एंट्रेंस एग्जाम्स में से एक है. CAT इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट द्वारा आयोजित किया जाता है. किसी टॉप IIM में एडमिशन लेने के इच्छुक कैंडिडेट्स की बढ़ती संख्या के कारण CAT एग्जाम में कॉम्पिटीशन लेवल बहुत हाई हो गया है. टॉप 10 बी स्कूल्स में एडमिशन के लिए स्टूडेंट्स को CAT एग्जाम में 99 + परसेंट मार्क्स हासिल करने पड़ते हैं. इसलिए CAT एग्जाम को क्रैक करना स्टूडेंट्स के लिए एक कठिन चुनौती है. लेकिन आत्मविश्वास और लगातार मेहनत के बूते पर इस एग्जाम को क्रैक किया जा सकता है. यदि कोई स्टूडेंट CAT एग्जाम क्लियर करने में सफल नहीं होता है तो इसका मतलब यह हरगिज नहीं है कि उसे किसी टॉप बी स्कूल में एडमिशन नहीं मिल सकता है. कई अन्य लोकप्रिय MBA एंट्रेंस एग्जाम्स भी हैं जिनके आधार पर स्टूडेंट्स किसी अच्छे बी स्कूल्स में एडमिशन लेने में सफल हो सकते हैं. इन MBA एंट्रेंस एग्जाम्स में हासिल मार्क्स के आधार पर अधिकतर बी स्कूल्स विभिन्न MBA कोर्सेज में अपने यहां स्टूडेंट्स को एडमिशन देते हैं.

आइये भारत के तीन मुख्य MBA एग्जाम्स के विषय में जानते हैं तथा यह भी जानते हैं कि ये एग्जाम्स किस तरह डिफिकल्टी लेवल पर एक दूसरे से अलग हैं?.....

CAT, MAT और CMAT एग्जाम्स के डिफिकल्टी लेवल में मुख्य अंतर

MBA entrance difficulty level exam

फिगर : मैनेजमेंट  एग्जाम्स में डिफिकल्टी लेवल

यह बात सबको पता है कि CAT एग्जाम को क्रैक करना काफी मुश्किल है तथा इसके प्रश्नों का डिफिकल्टी लेवल अन्य एग्जाम्स के बनिस्पत बहुत हाई है. CAT की तुलना में CMAT तथा MAT एग्जाम क्वालीफाई करना बहुत आसान है. इन एग्जाम्स का आयोजन मैनेजमेंट स्टूडेंट्स के स्ट्रेस को कम करने के उद्देश्य से किया गया था. MAT एंट्रेंस एग्जाम का आयोजन साल में 4 बार किया जाता है और इससे स्टूडेंट्स को टियर बी लेवल के बिजनेस मैनेजमेंट स्कूल्स में एडमिशन लेने का मौका मिलता है.

MBA एंट्रेंस एग्जाम - बेसिक फॉर्मेट

विभिन्न मैनेजमेंट एग्जाम्स के विषय में जानने से पहले हम इन तीनों एग्जाम्स के बेसिक फॉर्मेट को बारी-बारी समझते हैं. आइये आगे पढ़ें:

CAT 2019: कॉमन एडमिशन टेस्ट या CAT

IIMs, FMS, MDI, IIT, NITIE, IIT, SP JAIN जैसे प्रीमियम इंस्टीट्यूट सहित भारत के टॉप बी स्कूल्स में इस एग्जाम के जरिये स्टूडेंट्स को एडमिशन मिलता है. इस एग्जाम को क्रैक करने के लिए इसके रिटन एग्जाम में अच्छा स्कोर करने के बाद स्टूडेंट्स को ग्रुप डिस्कशन, एस्से कॉम्पीटिशन और पर्सनल इंटरव्यू में शामिल होकर उसे क्लियर करना होता है. जो कैंडिडेट्स इन सभी राउंड्स में सफल होते हैं, उन्हें एडमिशन मिल जाता है.

लेटेस्ट ट्रेंड्स के मुताबिक CAT एग्जाम एग्जाम पैटर्न निम्न-प्रस्तुत है:

इस एग्जाम में कुल तीन सेक्शन्स होते हैं :

  1. क्वांटिटेटिव एप्टीट्यूड(क्यूए, 34 प्रश्न)
  2. डाटा इंटरप्रिटेशन और लॉजिकल रीजनिंग (डीआईएलआर, 32 प्रश्न) और
  3. वर्बल एबिलिटी और रीडिंग कम्प्रिहेंशन (वीएआरसी, 34 प्रश्न)

CMAT 2019: कॉमन मैनेजमेंट एप्टीट्यूड टेस्ट

यह एक और नेशनल लेवल का MBA एंट्रेंस एग्जाम है जिसे AICTE द्वारा ऑनलाइन (कंप्यूटर बेस्ड टेस्ट) आयोजित किया जाता है. यह एग्जाम उन स्टूडेंट्स के लिए बहुत अच्छा है जो महाराष्ट्र राज्य में रहते हैं क्योंकि डायरेक्टरेट ऑफ़ टेक्निकल एजुकेशन (DTE), महाराष्ट्र JBIMS और मुंबई/ पुणे के अन्य टॉप इंस्टीट्यूट्स तथा टॉप कॉलेज में एडमिशन देने के लिए महारष्ट्र CMAT और MAHCET एग्जाम्स के बेस्ट स्कोर को मान्यता देता है. इसके लिए स्टूडेंट्स को नेशनल लेवल का MBA एंट्रेंस एग्जाम देने के साथ ही DTE महाराष्ट्र की CAP (सेंट्रलाइज्ड एडमिशन प्रोसेस) के साथ रजिस्ट्रेशन करवाना होता  है. हालांकि, महाराष्ट्र राज्य के बाहर के स्टूडेंट्स भी यह एग्जाम दे सकते हैं क्योंकि बाहरी स्टूडेंट्स पर यह एग्जाम देने के लिए कोई रोक नहीं है.

MAT 2019: मैनेजमेंट एप्टीट्यूड टेस्ट

MBA MAT

MAT AIMA (ऑल इंडिया मैनेजमेंट एसोसिएशन) द्वारा आयोजित किया जाता है और इसे MHRD, गवर्नमेंट ऑफ इंडिया द्वारा नेशनल लेवल के एंट्रेंस एग्जाम के तौर पर मान्यता प्राप्त है. यह एग्जाम साल में 4 बार आयोजित किया जाता है.

इस एग्जाम में पूछे जाने वाले प्रश्नों का लेवल बहुत कठिन नहीं होता है. CAT एग्जाम में एवरेज स्कोर करने वाले स्टूडेंट्स MAT एग्जाम्स में 80 प्रतिशत तक स्कोर कर सकते हैं. लेकिन स्टूडेंट्स को AICTE द्वारा अनुमोदित क्राइस्ट कॉलेज इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट, बैंगलोर, IMS (गाजियाबाद) और BIMTECH (नोएडा) जैसे टॉप सेकंड  टियर बी-स्कूलों में सीट हासिल करने के लिए 95 प्रतिशत से अधिक स्कोर करने की आवश्यकता होती है. इसका एग्जाम पैटर्न लगभग CAT एग्जाम की तरह ही है. MAT एग्जाम में जनरल अवेयरनेस का एक अतिरिक्त सेक्शन होता है. हालांकि प्रत्येक खंड को पास करना अनिवार्य है, फिर भी जनरल अवेयरनेस सेक्शन के स्कोर को प्रतिशत की गणना करते समय काउंट नहीं किया जाता है.

CAT, MAT, और CMAT के बीच प्रमुख अंतर

बेसिक

CAT

CMAT

MAT

सेक्शंस की संख्या

 

तीन

चार

पांच

कुल समय

 

180 मिनट

180 मिनट

150 मिनट

प्रश्नों की संख्या

 

100

100 (प्रत्येक सेक्शन से 25)

200 (प्रत्येक सेक्शन से 40)

कुल पेपर्स

 

1

1

1

टेस्ट सेंटर

 

कैंडिडेट्स अपनी इच्छा से 4 शहरों का चुनाव कर सकते हैं 

कैंडिडेट्स अपनी इच्छा से 3 शहरों का चुनाव कर सकते हैं 

कैंडिडेट्स अपनी इच्छा से 3 शहरों का चुनाव कर सकते हैं 

डिफिकल्टी लेवल   

हाई

मॉडरेट

मॉडरेट

मार्किंग स्कीम

 

सही उत्तर : +3

गलत उत्तर :

-1

सही उत्तर : +4

गलत उत्तर:

 -1

सही उत्तर : +1

गलत उत्तर: -.25

हरेक साल कितनी बार होते हैं ये एग्जाम्स   

साल में एक बार

साल में एक बार

साल में चार बार

अप्लाई कैसे करें

 

ऑनलाइन अप्लिकेशन

www.aicte-cmat.in

https://www.aima.in/

प्रमुख कॉलेज

 

सभी IIMs, IITs, FMS, MDI, IMT

JBIMS, K.J. Somaiya, GIM

क्राइस्ट कॉलेज इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट, IMS, BIMTECH  (नोएडा)

 

सेक्शन वाइज़ तुलना

Section Wise Comparision

निष्कर्ष

हमें उम्मीद है कि हमारे इस आर्टिकल से स्टूडेंट्स स्पष्ट रूप से CAT, MAT तथा CMAT एग्जाम्स के बीच प्रमुख अंतर के विषय में जान पाएंगे. स्टूडेंट्स अपनी रूचि तथा योग्यता के मुताबिक इनमें से किसी भी एग्जाम की तैयारी करके MBA करने के अपने सपने को पूरा कर सकते हैं. MBA एंट्रेंस एग्जाम से जुड़े अन्य अपडेट्स के लिए www.jagranjosh.com के MBA सेक्शन पर  रेगुलरली विजिट करते रहें.

Cat Percentile Predictor 2021

Related Stories

Comment (0)

Post Comment

0 + 0 =
Post
Disclaimer: Comments will be moderated by Jagranjosh editorial team. Comments that are abusive, personal, incendiary or irrelevant will not be published. Please use a genuine email ID and provide your name, to avoid rejection.