Jagran Josh Logo

दुनिया के 10 सबसे प्राचीन यंत्र कौन से हैं

23-AUG-2017 10:15
    World’s Ancient Gadgets

    वैसे तो हम जानते हैं की कैसे आधुनिक तकनीको ने लोगों की दैनिक जीवन-शैली को आधुनिक और उन्नत बनाने मे अहम् भूमिका निभाई है। लेकिन क्या हम जानते हैं की सैकड़ों साल पहले भी मनुष्य तकनिकी रूप से सक्षम थाl इतिहास और पुरातात्विक निष्कर्षों से यह पता चलता है की मनुष्यों को हमेशा से ही तकनीक और प्रौद्योगिकी आकर्षित करता रहा है। हम यहाँ सामान्य जानकारी के लिए दुनिया के 10 सबसे प्राचीन यंत्रो के नाम दे रहे हैं।

    दुनिया के 10 सबसे प्राचीन यंत्र

    1. एंटीकाइथेरे तंत्र (Antikythera mechanism)

    Antikythera Mechanism

    Source: Wikipedia

    ऐसा माना जाता है की इसे 2000 साल पहले बनाया गया था और यह एक प्राचीन यूनानी एनालॉग कंप्यूटर है, जिसका इस्तेमाल खगोलीय स्थिति जानने के लिए, ज्योतिष सम्बंधित उद्देश्यों के लिए तथा ग्रहणों की भविष्यवाणी के लिए किया जाता था।

    2. दी कोसो आर्टिफ़ैक्ट (The Coso Artifact)

    The Coso Artifact

    Source: Wikipedia

    यह खोजकर्ताओं द्वारा दावा किया गया है की यह यंत्र कठोर मिट्टी या चट्टान के एक गांठ में घिरा हुआ स्पार्क प्लग है तथा यह यात्रा 5,00,000 साल पहले बनायीं गयी थी जब मनुष्यों को विद्युत प्रवाह के बारे में पता भी नहीं था l यद्यपि इसकी उत्पत्ति पर तीन प्रस्तुतियां हैं: पहला या तो इसे बहुत बुद्धिमान प्राचीन सभ्यता जैसे अटलांटिस द्वारा बनाई गई हो; दूसरा या तो यह भविष्य से आया है ; और तीसरा एलियन मूल का है। 

    विश्व के दस अतुलनीय पुस्तकालय

    3. बेगोंग पाइप्स (Baigong Pipes)

    Baigong Pipes

    Source: 4.bp.blogspot.com

    यह चीन के सफेद पहाड़ी पर स्तिथ एक श्रृंखलाबद्ध नलिका (Pipe) है। यह डिलिंगा पाइप के नाम से भी जाना जाता है। सबसे दिलचस्प बात यह है की इसके आस-पास किसी भी सभ्यताओं के साक्ष नहीं मिले हैं, अर्थात जिस कारण से ये बनाये गये होंगे वह अभी भी अज्ञात है। हालांकि, ये एक समान आकार के हैं तथा यह खारे पानी वाले झील के नज़दीकी नजदीक स्थित है।

    4. प्राचीन बलुआ पत्थर का बना सिलिओफोन (Xylophone)

    Xylophone

    Source: gajitz.com

    यह बलुआ पत्थर का बना जेलोंफोन (Xylophone) है जिसका निर्माण नव पाषाण युग (8000-2500 ईसा पूर्व) में हुआ था। इससे यह पता चलता है की मनुष्य और संगीत का सम्बन्ध सदियों से है।   

    7 वैज्ञानिक अविष्कार जो हजारों साल पहले भारतीय ऋषियों द्वारा किए गए थे

    5. रोमन डोडेकेड्रा (Roman Dodecahedra)

    Roman Dodecahedra

     Source: Wikipedia

    यह ज्यामितीय आकार के साथ बारह सपाट चेहरे वाला कांस्य या पत्थर का बना खोखला वस्तु है। वैसे अभी तक यह पता नहीं लगा पाया गया है की ये है क्या लेकिन सबसे स्वीकृत सिद्धांतों में से एक यह है कि रोमन डोडेकेड्रा एक मापने वाला उपकरण है जिसका इस्तेमाल सटीक रूप से युद्ध के मैदान पर एक सीमा मापने के लिये किया जाता था।

    6. आधुनिक हवाई जहाज़ के आकार वाली मूर्ति (Figurine of Mystery Airplanes)

    Mystery Aeroplne

    Source: s-media-cache-ak0.pinimg.com

    पक्षियों को आकाश में उड़ते देख, मानव जाति का सपना भी उड़ने का रहा है। कोलंबिया में खोदाई के दौरान पुरातत्वविदों को 1000 साल पुराना मूर्तियों मिली थी, ये मूर्तियां माना जाता है कि ये कबींबा के नाम पर एक जनजाति द्वारा बनाया गया था। इन मूर्तियों बनावट आधुनिक हवाई जहाज़ जैसा है अर्थात पूंछ, लैंडिंग गियर और पंख।

     10 दुर्लभ परंपराएं जो आज भी आधुनिक भारत में प्रचलित हैं

    7. फाईस्टोस डिस्क (The Phaistos Disc)

    Phaistos Discs

    Source: www.crystalinks.com

    यह क्रेते द्वीप पर मिनोआन पैलेस के फाइनोस से निकाल दिया गया मिट्टी का एक डिस्क है, जो संभवतया मध्य या उत्तर मिनोअन कांस्य युग (दूसरी सहस्राब्दी बीसी)  से जुड़ा हुआ है। इस डिस्क पर मनुष्यो, जानवरो, हथियार नुमा और पौधो का चित्र अंकित हैl  

    8. बीजान्टिन टैब्लेट (Byzantine Tablet)

    Byzantine Tablet

     Source: www.hurriyetdailynews.com

    बोस्फोरस के यूरोपीय किनारे पर एक बंदरगाह स्थल की खुदाई करने वाले तुर्की पुरातत्वविदों ने एक 1,200 साल पुरानी लकड़ी की वस्तु का पता लगाया है और उन्होंने ये  दावा किया की  टैबलेट प्राचीन कंप्यूटर है। यह टैबलेट पांच पटरियों से मिलकर बना है और प्रत्येक पटरियों में मोम की लेप की गयी थी। ऐसा माना जाता है कि ये टेबलेट आविष्कार या मूल्यांकन की पत्री के लिए उपयोग जाता होगा।

    जानें विश्व की 10 सबसे महंगी किताबें कौन सी हैं

    9. बगदाद की बैटरी (Baghdad Battery)

    Baghdad Battery

     Source: www.theironskeptic.com

    यह प्राचीन यंत्रो में से सबसे अनोखा यंत्र है। यह तीन कलाकृतियों का एक समूह है जो सिरेमिक बर्तन, एक धातु की नाली और छड़ से मिलकर बना है। कुछ शोधकर्ताओं द्वारा यह अनुमान लगाया गया था कि यह वस्तु एक गैल्वेनिक कोशिका के रूप में कार्य करता होगा, संभवतः इलेक्ट्रोपलेटिंग के लिए इस्तेमाल किया जाता होगा या किसी प्रकार की इलेक्ट्रोथेरेपी; लेकिन इस समय सीमा में इलेक्ट्रोगिल्डेड जैसी वस्तू की खोज हुई नहीं थी।

    10. द्रोपा पत्थर (Dropa Stones)

    Dropa Stones

    Source: 3.bp.blogspot.com

    इसकी खोज हिमालय के पर्वतो में खुदाई के दौरान एक कब्र स्थल में मिला था।पत्थर वास्तव में एक फुट चौड़ी चक्र है जिसके मध्य में एक छेद है। वैज्ञानिकों का मानना है की यह चक्र 12,000 साल पुराना है।

    उपरोक्त प्राचीन यंत्रो से लगता है की जिस प्रकार आधुनिक यंत्र हमारे लिए उपयोगी हैं उसी प्रकार प्राचीन संस्कृतियों के ये सारे यंत्र उपयोगी रहे होंगे।

    मानव इतिहास के 10 सबसे नायाब और मूल्यवान सिक्के

    DISCLAIMER: JPL and its affiliates shall have no liability for any views, thoughts and comments expressed on this article.

    Latest Videos

    Register to get FREE updates

      All Fields Mandatory
    • (Ex:9123456789)
    • Please Select Your Interest
    • Please specify

    • ajax-loader
    • A verifcation code has been sent to
      your mobile number

      Please enter the verification code below

    Newsletter Signup
    Follow us on
    This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK