पोलिटिकल साइंस ग्रेजुएट्स के लिए ये हैं विशेष करियर ऑप्शन्स

अगर आपने पोलिटिकल साइंस में अपनी ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल की है तो यहां हम आपके लिए कुछ ऐसे करियर ऑप्शन्स का जिक्र कर रहे हैं जो आपके भविष्य को उज्जवल बना सकते हैं.

Created On: Jul 1, 2020 17:59 IST
Career Opportunities after graduating in political science
Career Opportunities after graduating in political science

आर्ट्स स्ट्रीम के बहुत से स्टूडेंट्स अक्सर अपने कॉलेज में पोलिटिकल साइंस (ऑनर्स) में ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल करते हैं या फिर, बैचलर ऑफ़ आर्ट्स (पास कोर्स) में पोलिटिकल साइंस को एक मुख्य विषय के तौर पर पढ़ते हैं और जब उन्हें अपनी ग्रेजुएशन की डिग्री मिल जाती है तो बहुत बार ऐसे स्टूडेंट्स कुछ कंफ्यूज हो जाते हैं कि अब वे आगे क्या करें?.......हायर स्टडीज़ या नौकरी. हायर स्टडीज के लिए तो वे बड़ी आसानी से पोलिटिकल साइंस में पोस्ट ग्रेजुएशन, एमफिल और फिर पीएचडी की डिग्री हासिल कर सकते हैं लेकिन. जब कोई सूटेबल करियर ऑप्शन चुनने की बात आती है तो ये स्टूडेंट्स समझ नहीं पाते कि आखिर अपने लिए ऐसी कौन-सी करियर लाइन चुनें जिसमें आकर्षक सैलरी पैकेज के साथ ही मान-सम्मान भी मिले. इस आर्टिकल में हम आपके लिए पोलिटिकल साइंस से जुड़े कुछ विशेष करियर ऑप्शन्स का समुचित विवरण पेश कर रहे हैं. आइये आगे पढ़ें यह आर्टिकल:

पोलिटिकल साइंस का परिचय

पोलिटिकल साइंस या राजनीति विज्ञान एक ऐसा विज्ञान है जो स्थानीय, राज्य, राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर सरकारों के व्यवहार और राजनीतिक सिद्धांतों पर केंद्रित होता है. यह विषय सार्वजनिक जीवन के सभी हिस्सों जैसे संस्थानों, प्रथाओं और संबंधों की समझ को विकसित करने के साथ ही नागरिकता को बढ़ावा देने वाली इन्क्वायरी के तरीकों से भी संबद्ध है. अगर इस क्षेत्र में आप अपना करियर शुरू करने के इच्छुक हैं तो आपके लिए नीचे कुछ करियर विकल्प दिए जा रहे हैं. पोलिटिकल साइंस में ग्रेजुएशन की डिग्री प्राप्त करने के बाद आप इनमें से अपने लिए कोई अच्छा करियर ऑप्शन चुन सकते हैं. लेकिन, आइये पहले पोलिटिकल साइंस में ग्रेजुएशन की डिग्री प्राप्त करने का महत्व समझते हैं.

पोलिटिकल साइंस में ग्रेजुएशन करने के बाद आपका स्किल सेट कुछ इस तरह से बढ़ेगा

  • पोलिटिकल साइंस के छात्रों के रिसर्च और लेखन कौशल काफी विकसित हो जाते हैं क्योंकि उन्हें अक्सर राजनीतिक क्षेत्रों के कई विषयों पर आर्टिकल लिखने पड़ते हैं.
  • वे तर्कसंगत बहस करने और वास्तविक फैक्ट्स के साथ अपने तर्कों का समर्थन करने में माहिर होते हैं.
  • वे प्रेजेंटेशन देने और बड़े पैमाने पर जनता को संबोधित करने में भी काफी अच्छे होते हैं.
  • उनका विश्लेषणात्मक कौशल काफी बढ़िया होता है. यह कौशल उनमें विभिन्न नीतिगत पहलों की खोज करने के साथ-साथ सरकार के कार्यों के असर पर विचार करते समय विकसित होता है.
  • वे गहन सोच-विचार करने में भी काफी निपुण होते हैं और उनके लिए यह गहन सोच-विचार का गुण राजनीतिक दलों का मूल्यांकन करने और नेतृत्व परिवर्तनों के प्रभावों का मूल्यांकन करने के लिए बहुत महत्वपूर्ण होता है.
  • यह कोर्स उन्हें निश्चित रूप से यह सिखाता है कि शक्ति कैसे प्राप्त की जाती है? अभियान कैसे चलाए जाते हैं और सार्वजनिक राय को कैसे प्रभावित किया जा सकता है?

पोलिटिकल साइंस में ग्रेजुएशन की डिग्री प्राप्त करने के बाद आपके लिए मौजूद करियर ऑप्शन्स

पोलिटिकल साइंटिस्ट

एक पोलिटिकल साइंटिस्ट के रूप में आप सरकार और समाज की संरचना और कार्यप्रणाली से संबद्ध कार्य करेंगे और विभिन्न राजनीतिक समस्याओं के समाधान खोजने के सैद्धांतिक और व्यावहारिक तरीके तलाशेंगे. अधिकांश पोलिटिकल साइंटिस्ट्स विश्वविद्यालयों में प्रोफेसरों के रूप में काम करते हैं, जहां वे अपने रिसर्च वर्क के साथ ही अपने विभिन्न आर्टिकल्स और रिसर्च कार्यों को पब्लिश करवाते हैं. उन्हें अक्सर राजनीतिक दल राजनीतिक अभियानों की व्यवस्था और समन्वय करने के काम सौंपते हैं. पोलिटिकल साइंटिस्ट्स के सबसे बड़े गुणों में से एक गुण यह है कि वे पूरी तरह निष्पक्ष हों, क्योंकि उन्हें अक्सर अपने व्यक्तिगत पूर्वाग्रहों और पूर्वधारणाओं को अलग करना होगा और विभिन्न राजनीतिक समस्याओं का सटीक और निष्पक्ष समाधान तलाशना होगा. आप निर्णय और निष्कर्ष भी दे सकते हैं, लेकिन वे निर्णय और निष्कर्ष तथ्यों पर आधारित हों और सबूत एवं तर्क द्वारा भी समर्थित हों. अध्ययन के इस क्षेत्र में सरकार की औपचारिक संस्थानों के अलावा विभिन्न विषय शामिल होते हैं. पोलिटिकल साइंस में जनमत, पार्टियों और अर्थशास्त्र जैसे विषयों के अलावा औपचारिक कानून का भी अध्ययन किया जाता है. एक विज्ञान के रूप में पोलिटिक्स का अध्ययन अपने शिक्षण क्षेत्र में सुव्यवस्थित, उद्देश्यपूर्ण और निष्पक्ष होने का प्रयास करना है. 

राजनीतिक सलाहकार

एक राजनीतिक सलाहकार के रूप में आप जिस उम्मीदवार के लिए कार्य कर रहे हैं, उनके लिए आप अपने कोर्स से प्राप्त किये गये ज्ञान और स्किल्स का इस्तेमाल करते हैं. इन कामों में मतदाताओं को प्रभावित करने के साथ ही अपने दल के राजनीतिक अभियानों के लिए समर्थन हासिल करना शामिल है. आप अपने राजनीतिक उम्मीदवार को एक ब्रांड के रूप में बदलने के लिए ज़िम्मेदार होंगे और विपक्ष द्वारा उनकी ब्रांड इमेज को पहुंचाये गए किसी भी नुकसान को भी आपको ठीक करना होगा. आप अपने उम्मीदवार के लिए मीडिया कवरेज को प्रभावित करने का प्रयास करने के लिए भी जिम्मेदार होंगे. उदाहरण के लिए, आप अपने उम्मीदवार के पिछले कामों के संबंध में सकारात्मक और उनके फेवर में  ब्योरे देंगे. आप मतदाताओं के समूहों का सर्वेक्षण भी कर सकते हैं और उनके विचारों के आधार पर अलग-अलग उम्मीदवारों के प्रति उनकी प्रतिक्रिया जानने की कोशिश कर सकते हैं. इसी तरह, आप एक पब्लिक इंटरेस्ट ग्रुप के लिए भी काम कर सकते हैं जिसमें आप अपने इंटरेस्ट ग्रुप को उनके मिशन के मुताबिक कार्य-नीतियां तैयार करने में मदद कर सकते हैं.

डिप्लोमेट

कूटनीति या डिप्लोमेसी विभिन्न देशों के बीच संबंधों की देखरेख करती है. अपने देश को सुरक्षित रखने के लिए डिप्लोमेसी में गठबंधन, संधियां और समझौते करते समय बड़ी चतुराई के साथ बातचीत करने की कला भी शामिल होती है. एक डिप्लोमेट का काम बड़ी जिम्मेदारी वाला होता है और इसलिए उन्हें वास्तव में बहुत अधिक शक्तियां सौंपी जाती हैं. यदि आप अपने देश के लिए एक डिप्लोमेट बनना चाहते हैं तो आपको दुनिया भर में कहीं भी, किसी भी कार्यक्रम में भाग लेने के लिए तुरंत मिले नोटिस पर जाने के लिए तैयार रहना होगा. एक डिप्लोमेट के तौर पर आप सिर्फ दुनिया भर में अपने देश का प्रतिनिधित्व ही नहीं करते हैं, बल्कि स्थानीय सरकार के साथ बातचीत करने के लिए भी जिम्मेदार हैं ताकि जरूरत पड़ने पर आप अपनी सरकार के हित सुरक्षित रखने के लिए विभिन्न टेक्ट्स और स्किल्स का समुचित इस्तेमाल करें. अगर आप अपने देश के राजदूत हैं तो आपसे पूरी दुनिया के सामने एक आदर्श नागरिक होने की अपेक्षा की जाएगी. इसके अलावा, आपको जिस देश में भेजा जा रहा है, उस देश में बोली जाने वाली विदेशी भाषा में आपको दक्षता हासिल करनी होगी. यह गुण एक डिप्लोमेट के रूप में आपकी सफलता के लिए एक अभिन्न अंग साबित हो सकता है.

पॉलिसी एनालिस्ट

पोलिटिकल साइंस की डिग्री प्राप्त करने के बाद, आप एक पॉलिसी एनालिस्ट के रूप में आसानी से नौकरी प्राप्त कर सकते हैं. एक पॉलिसी एनालिस्ट की भूमिका में अपने काम में पोलिटिकल साइंस की डिग्री प्राप्त करते समय प्राप्त हुए स्किल्स का स्वाभाविक उपयोग करना शामिल होता है क्योंकि जो काम वे करते हैं उन कामों में, सार्वजनिक नीति बनाने की प्रक्रिया और विभिन्न नीतियों को लागू करने में आने वाली परेशानियों का अध्ययन करना शामिल होता है. आप सार्वजनिक नीति के बारे में विभिन्न प्रपोजल्स की प्रकृति और इफ़ेक्ट के बारे में बयान तैयार करने के लिए जिम्मेदार होंगे और इन सभी कामों के लिए आपके पास बेहतरीन क्रिटिकल थिंकिंग, राइटिंग और रिसर्च स्किल्स होने चाहियें जो आप अपना कोर्स करने के दौरान ही सीख लेते हैं. एक पॉलिसी एनालिस्ट के रूप में, आप एक अच्छी थीसिस तैयार करने और किसी विशेष नीतिगत पहल के पक्ष में या उसके खिलाफ प्रेरक तर्क पेश करने के लिए भी जिम्मेदार होंगे.

बजट एनालिस्ट

एक बजट एनालिस्ट के रूप में, आप एक प्रभावी बजट योजना बनाने और उस बजट में विवेकपूर्ण खर्च सुनिश्चित करने के लिए जिम्मेदार होंगे. आप विभिन्न बजट प्रपोजल्स की समीक्षा करेंगे और यह निर्धारित करने के लिए डेटा विश्लेषण भी करेंगे कि फंडिंग या धन का सही आवंटन हो रहा है या नहीं? एक बजट एनालिस्ट के रूप में, आपके पास किसी भी उद्योग के सामाजिक और राजनीतिक कारकों के साथ ही उसके लक्षित वर्गों की अच्छी जानकारी रखने के अलावा, बेहतरीन मैथमेटिकल जानकारी और गंभीर रूप से सोचने की क्षमता अवश्य होनी चाहिए. आपको बजट और व्यय के संबंध में सभी कानूनी नियमों के बारे में अच्छी जानकारी होनी चाहिए और इसके साथ ही उम्दा लेखन कौशल और उत्कृष्ट संचार क्षमता भी आपके पास होनी चाहिए. बजट एनालिस्ट का काम कंपनी के फाइनेंस का प्रबंध करना और अपनी कंपनी को लाभ पहुंचाने के साथ ही तेजी से अपनी कंपनी का विकास करना होता है.

उम्मीद है कि पोलिटिकल साइंस में अपनी ग्रेजुएशन की डिग्री प्राप्त करने के बाद उक्त करियर के अवसर आपको अपने लिए कोई बेहतरीन करियर अपनाने में मदद करेंगे. हालांकि, एक पोलिटिकल साइंस ग्रेजुएट होने पर आपके पास उक्त करियर अवसरों के अलावा भी अन्य कई कार्यक्षेत्र मौजूद हैं. उक्त करियर ऑप्शन्स आजकल सबसे लोकप्रिय और बड़े पैमाने पर चयनित करियर ऑप्शन्स हैं. लेकिन इससे पहले कि आप अपने लिए कोई भी करियर चुनें, यह बहुत महत्वपूर्ण है कि आप पहले अपनी पसंद के पेशे को समझें और फिर उसके आधार पर ही अपने लिए संभावित करियर ऑप्शन्स की तलाश करें.

जॉब, इंटरव्यू, करियर, कॉलेज, एजुकेशनल इंस्टीट्यूट्स, एकेडेमिक और पेशेवर कोर्सेज के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करने और लेटेस्ट आर्टिकल पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट www.jagranjosh.com पर विजिट कर सकते हैं.

अन्य महत्त्वपूर्ण लिंक

ई- पीजी पाठशाला में है सभी पोस्टग्रेजुएट कोर्सेज का कंटेंट

फ्रेश ग्रेजुएट्स के लिए ये हैं कुछ उम्दा जॉब ऑप्शन्स

इग्नू के ये एकेडमिक कोर्सेज हैं स्टूडेंट्स के लिए परफेक्ट चॉएस  

Comment ()

Related Categories

    Post Comment

    6 + 3 =
    Post

    Comments