यूपी बोर्ड के स्कूलों में छात्रों को मिलेगी वोकेशनल ट्रेनिंग, सरकार ने लिया फैसला

अब यूपी बोर्ड के स्कूलों में छात्रों को उनकी रूचि के अनुसार किसी एक विषय पर ट्रेनिंग दी जाएगी I इस ट्रेनिंग का उद्देश्य छात्रों को रोजगार पाने योग्य बनाना है I आइये जानें इसके बारे में मुख्य बातें -

vocational training in schools
vocational training in schools


यूपी सरकार ने फैसला किया है कि, अब यूपी बोर्ड के सभी स्कूलों में छात्रों को पढाई के साथ व्यावसायिक शिक्षा की ट्रेनिंग भी दी जाएगी इसका उद्देश्य छात्रों को रोजगार पाने योग्य बनाना हैI ये ट्रेनिंग कक्षा 9 से 12 तक के छात्रों को दी जाएगी और इसमें छात्रों को उनकी रूचि के अनुसार किसी एक विषय पर व्यावसायिक पाठ्यक्रम की ट्रेनिंग दी जाएगी, जिससे भविष्य में राज्य में आने वाली कंपनियों में युवाओं को रोजगार मिल सके I 

विभिन्न मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने इस विषय पर एक प्रस्ताव तैयार किया है जिसके बाद यूपी के स्कूलों में आपको एक बड़ा परिवर्तन देखने को मिलेगा I रिपोर्ट्स के अनुसार, इस योजना के पहले चरण में करीब 150 स्कूल सम्मिलित किये जायेंगे, जिसमें हर जिले से  कोई 2 स्कूल लिए जायेंगे, विभाग द्वारा पहले चरण के स्कूलों का चयन किया जा चुका है I इन स्कूलों में व्यावसायिक विषयों के कई आप्शन छात्रों के समक्ष रखें जाएँगे और छात्र अपनी पसंद के अनुसार उनमें से किसी एक विषय का चयन करेंगे I

उल्लेखित है, नई शिक्षा नीति में कहा गया है कि स्कूल स्तर से ही छात्रों को उनकी अभिरुचि के अनुसार किसी एक व्यावसायिक विषय की शिक्षा दी जानी चाहिए ताकि आगे चल कर छात्रों के सामने रोजगार पाने में समस्या न हो I उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद के स्कूलों में लाखों की संख्या में छात्र पढ़ते हैं और यदि इस प्रकार की ट्रेनिंग उन छात्रों को दी जाती है तो बड़ी संख्या में छात्रों में व्यावसायिक कौशल का निर्माण होगा और प्रदेश की एक बड़ी आबादी को इससे लाभ होगाI 

 आईटी, रिटेल तथा अन्य  पाठ्यक्रम किये गए शामिल -

रोजगार की आवश्कताओं को देखते हुए सरकार ने शुरू में इसमें 8 सेक्टरों का चुनाव किया गया है और हर सेक्टर से 2-2 पाठ्यक्रम लिए जाएंगे अर्थात 16 पाठ्यक्रमों का चयन किया जायेगा I सामान्यत छात्र ये ट्रेनिंग आईटीआई या इंटर पास होने के बाद करते हैं I लेकिन भविष्य की संभावनाओं को देखते हुए उन्हें ये ट्रेनिंग अब स्कूल लेवल पर ही करवा दी जाएगी I इसमें एग्रीकल्चर, गार्डनिंग, ऊर्जा में इलेक्ट्रिकल, टेकनीशियन, आईटी में जूनियर डेटा ऑपरेटर, सॉफ्टवेयर डेवलपर, टेक्सटाइल में सिलाई मशीन ऑपरेटर, ब्यूटी थेरेपिस्ट, फॉर व्हीलर सर्विस असिस्टेंट, फिटनेस ट्रेनर, फिजिकल एजुकेशन असिस्टेंट, स्टोर असिस्टेंट जैसे अन्य पदों की छात्रों को ट्रेनिंग दी जाएगी I  ये ट्रेनिंग 12 महीने की होगी I जो छात्र ट्रेनिंग पूरी कर लेंगे उन्हें इसका सर्टिफिकेट भी दिया जायेगा, जिसे छात्र भविष्य में सम्बंधित कंम्पनी में कार्य करने के लिए प्रयोग कर पाएंगे I 

Related Categories

Jagran Play
खेलें हर किस्म के रोमांच से भरपूर गेम्स सिर्फ़ जागरण प्ले पर
Jagran PlayJagran PlayJagran PlayJagran Play

Related Stories