Search

पद्म पुरस्कार: भारत के नागरिक सम्मान

पद्म पुरस्कार भारत के नागरिक सम्मान है, जिन्हें तीन अर्थात पद्म विभूषण, पद्म भूषण और पद्म श्री श्रेणियों में प्रदान किया जाता है। पद्म विभूषण असाधारण और उत्कृष्ट सेवाओं के लिए दिया जाता है । पद्म भूषण उच्च श्रेणी की उत्कृष्ट सेवाओं तथा पद्मश्री किसी क्षेत्र में उत्कृष्ट सेवाओं के लिए प्रदान किया जाता है । इन पुरस्कारों की घोषणा प्रत्येक वर्ष गणतंत्र दिवस के अवसर पर की जाती है।
Mar 22, 2016 15:40 IST
facebook Iconfacebook Iconfacebook Icon

पद्म पुरस्कार भारत के नागरिक सम्मान है, जिन्हें तीन अर्थात पद्म विभूषण, पद्म भूषण और पद्म श्री श्रेणियों में प्रदान किया जाता है। पद्म पुरस्कार वर्ष 1954 में प्रारम्भ किए गए थे। वर्ष 1978, 1979 तथा 1993 से 1997 के दौरान थोड़े से अंतराल को छोड़कर, ये पुरस्कार प्रत्येक वर्ष गणतंत्र दिवस पर घोषित किए जाते हैं| राष्ट्रपति द्वारा मार्च/अप्रैल में राष्ट्रपति भवन में आयोजित किए जाने वाले समारोह में पद्म पुरस्कार प्रदान किए जाते हैं। भारत का सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न है|

पद्म पुरस्कारों से संबन्धित जानकारी :

  1. पद्म विभूषण असाधारण और उत्कृष्ट सेवाओं के लिए दिया जाता है । पद्म भूषण उच्च श्रेणी की  उत्कृष्ट  सेवाओं तथा पद्मश्री किसी क्षेत्र में उत्कृष्ट सेवाओं के लिए प्रदान किया जाता है ।
  2. ये पुरस्कार , कला, सामाजिक कार्य , जन हित के मामलों , विज्ञान एवं इंजीनियरिंग , व्यापार एवं उद्योग , चिकित्सा , साहित्य  तथा शिक्षा , खेल-कूद तथा नागरिक सेवाओं के लिए दिए जाते हैं। 
  3. पद्म पुरस्कारों के लिए चयिनत किए जाने  वाले व्यक्तियों की उपलब्धियों में लोक सेवा का  तत्व होना चाहिए ।यह किसी क्षेत्र में उत्कृष्टता नहीं बल्कि उत्कृष्टता से अधिक होनी चाहिए।
  4. सभी व्यक्ति जाति, व्यवसाय, पद, अथवा लिंग के भेदभाव के बिना इन पुरस्कारों के लिए पात्र होते हैं | तथापि सरकारी कर्मचारी, जिनमें डॉक्टरों तथा वैज्ञानिकों को छोड़कर, सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों में कार्यरत कर्मचारी भी शामिल हैं, इन पुरस्कारों के लिए पात्र नहीं होते हैं|
  5. ये पुरस्कार समान्यतः मरणोपरांत प्रदान नहीं किए जाते हैं। तथापि, अत्यधिक पात्र मामलों पर सरकार मरणोपरांत प्रदान करने पर विचार कर सकती है, यदि सम्मानित किए जाने वाले व्यक्ति का निधन हाल ही अर्थात उस वर्ष के गणतन्त्र दिवस से एक वर्ष पूर्व की अवधि में हुआ हो,जिस पर उक्त पुरस्कार को घोषित किया जाना प्रस्तावित हो|
  6. उच्चतर श्रेणी का पद्म पुरस्कार किसी ऐसे व्यक्ति को ही प्रदान किया जाता है, जिसके मामले में पूर्व पद्म पुरस्कार प्रदान किए जाने के समय से कम से कम पांच वष की अवधि बीत गई हो।तथापि अत्यधिक पात्र मामलों में, पुरस्कार समिति द्वारा इस अवधि में छूट प्रदान की जा सकती है|   
  7. सभी राज्य/संघ राज्य क्षेत्र सरकारों, भारत सरकार के मंत्रालयों व विभागों, भारत रत्न और पद्म विभूषण प्राप्तकर्ताओं तथा उत्कृष्ट संस्थानों से हर वर्ष सिफ़ारिशें आमंत्रित करना एक सामान्य प्रक्रिया है| इनसे तथा मंत्रियों,राज्यों के मुख्यमंत्रियों/राज्यपालों, संसद सदस्य तथा गैर सरकारी व्यक्तियों तथा निकायों आदि जैसे अन्य स्रोतों से भी प्राप्त सिफ़ारिशें पुरस्कार समिति के समक्ष रखी जाती हैं|  
  8. पुरस्कार समिति का गठन प्रतिवर्ष प्रधानमंत्री द्वारा किया जाता है|
  9. नामांकन आमंत्रित करने की तिथि तथा नामांकन/सिफ़ारिश प्राप्त करने की अंतिम तिथि क्रमशः 1 मई तथा 15 सितंबर है। इस अविध के दौरान प्राप्त नामांकनों पर ही विचार किया जाता है।
  10. पद्म पुरस्कार समिति द्वारा की गई सिफ़ारिशें प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति के समक्ष अनुमोदन के लिए रखी जाती हैं|
  11.  एक वर्ष में  प्रदान किए जाने वाले कुल पद्म पुरस्कारों की संख्या (मरणोपरान्त तथा विदेशियों को दिए जाने वाले पुरस्कारों को छोड़कर) 120 से अधिक नहीं होनी चाहिए ।
  12. इस अलंकरण में राष्ट्रपति के हस्ताक्षर और मुहर से जारी की गई एक सनद (प्रमाण-पत्र) तथा तमगा (मेडल) शामिल होता है। प्रत्येक पुरस्कार विजेता के संबंध में संक्षिप्त परिचय वाली एक स्मारिका भी समारोह वाले दिन जारी की जाती है।
  13. पुरस्कार प्राप्तकतार्ओं को तमगा (मेडल) के साथ एक प्रीतिकृति  भी प्रदान की जाती है, जिसे वे अपनी इच्छानुसार किसी भी समारोह/राजकीय समारोहों आदि में पहन सकते हैं।
  14. यह पुरस्कार कोई पदवी नहीं है और इसे पत्र-शीर्षों, निमंत्रण पत्रों, पोस्टरों, पुस्तकों आदि पर पुरस्कार वजेता के नाम के आगे या पीछे उल्लिखित नहीं किया जा सकता है। इसके दुरुपयोग करने पर चूककर्ता को इस पुरस्कार से वंचित कर दिया जाएगा।
  15. इन पुरस्कारों के साथ कोई नकद भत्ता अथवा रेल/हवाई यात्रा आदि के रूप में कोई रियायत प्रदान नहीं की जाती है।

वर्ष 2016 में पद्म पुरस्कार प्राप्त करने वालों की सूची

इस वर्ष राष्ट्रपति ने 112 व्यक्तियों को पद्म पुरस्कारों की स्वीकृति दी है। इस सूची में 10 पद्म विभूषण ,19 पद्म भूषण तथा 83 पद्मश्री पुरस्कार प्राप्त करने वालों के नाम संलग्न हैं। इनमें 19 महिलाएं तथा 10 व्यक्ति विदेशी, एनआरआई, पीआईओ हैं। 

Jagranjosh

पद्म विभूषण (2016)

क्रम संख्या

 

नाम

क्षेत्र

राज्य

1.                  

सुश्री यामिनी कृष्णमूर्ति

कला- शास्त्रीय नृत्य  

दिल्ली

2.                  

श्री रजनीकांत

कला- सिनेमा

तमिलनाडु

3.                  

श्रीमती गिरिजा देवी

कला- शास्त्रीय गायन

पश्चिम बंगाल

4.                  

श्री रामोजी राव

साहित्य एवं शिक्षा- पत्रकारिता

आंध्र प्रदेश

5.                  

डॉ विश्वनाथन शांता

मेडिसिन- ऑनकोलॉजी

तमिलनाडु

6.                  

श्री श्री रविशंकर

अन्य- अध्यात्म

कर्नाटक

7.                  

श्री जगमोहन

लोक मामले

दिल्ली

8.                  

डॉ वासुदेव कलकुंते आत्रे

विज्ञान इंजीनियरिंग

कर्नाटक

9.                  

श्री अविनाश दीक्षित (विदेशी)

साहित्य एवं शिक्षा

अमेरिका

10.              

स्वर्गीय श्री धीरू भाई अंबानी(मरणोपरांत)

व्यापार तथा उद्योग

महाराष्ट्र

पद्म भूषण (2016)

क्रम संख्या

नाम

क्षेत्र

राज्य

11.

श्री अनुपम खेर

कला-सिनेमा

महाराष्ट्र

12.

श्री उदित नारायण झा

कला-पार्श्व गायन

महाराष्ट्र

13.

श्री राम वी सुतार

कला- मूर्तिकला

उत्तर प्रदेश

14.

श्री हिसनाम कन्हाईलाल

कला- थियेटर

मणिपुर

15.

श्री विनोद राय

सिविल सेवा

केरल

16.

डॉ यार्लगद्द लक्ष्मी प्रसाद

साहित्य तथा शिक्षा

आंध्र प्रदेश

17.

प्रोफेसर एन एस रामानुज ततआचार्य

साहित्य तथा शिक्षा

महाराष्ट्र

18.

डॉ बरजिंदर सिंह हमदर्द

साहित्य तथा शिक्षा-पत्रकारिता

पंजाब

19.

प्रोफेसर डी नागेश्वर रेड्डी

मेडिसिन- गैस्ट्रोइंट्रोलाजी

तेंलगाना

20.

स्वामी तेजोमायानंद

अन्य -अध्यात्म

महाराष्ट्र

21.

श्री हाफिज कंट्रैक्टर

अन्य-कृषि

महाराष्ट्र

22.

श्री रवीन्द्र चंद्र भार्गव

लोक मामले

उत्तर प्रदेश

23.

डॉ वेंकट रामाराव अल्ला

विज्ञान तथा इंजीनियरिंग

आंध्र प्रदेश

24.

सुश्री साइना नेहवाल

खेल-बैडमिंटन

तेंलगाना

25.

सुश्री सानिया मिर्जा

खेल-टेनिस

तेंलगाना

26.

सुश्री इंदु जैन

व्यापार तथा उद्योग

दिल्ली

27.

स्वर्गीय स्वामी दयानंद सरस्वती(मरणोपरांत)

अन्य- अध्यात्म

उत्तराखंड

28.

श्री राबर्ट ब्लैकविल (विदेशी)

लोक मामले

अमेरिका

29.

श्री पलोनजी शपूरजी मिस्त्री(एनआरआई /पीआईओ)

व्यापार तथा उद्योग

आयरलैंड