Independence Day 2022: स्वतंत्रता दिवस के बारे में 10 रोचक तथ्य

Independence Day 2022: 15 अगस्त 1947 को भारत को अंग्रेजों से आज़ादी मिली थी, इसलिए यह दिन बहुत महत्वपूर्ण है, पूरे देश में इस दिन को काफी धूम धाम से मनाया जाता है. इस लेख में हम भारत और आजादी से संबंधित कुछ दिलचस्प एवं रोचक तथ्य प्रस्तुत कर रहें है जिन्हें पढ़कर आपको अपने भारतीय होने पर गर्व होगा.
 Indian Independence Day
Indian Independence Day

Independence Day 2022: हर साल की तरह इस साल भी स्वतंत्रता दिवस धूमधाम, हर्षोल्लास और उत्साह के साथ मनाया जाएगा। ‘आज़ादी का अमृत महोत्सव’ प्रोग्राम की शुरुआत के साथ ही भारत सरकार द्वारा हर एक नागरिक के मन में देश प्रेम जगाने के लिए अनगिनत प्रोग्राम शुरू किए गये हैं. इसके अंतर्गत ही ‘हर घर तिरंगा’ कैंपेन भी चलाया जा रहा है.

हम सब जानते हैं कि भारत "विविधता में एकता" का देश है जहां विभिन्न धर्मों के लोग एक साथ मिल जुलकर रहते है. किसी भी राष्ट्रीय उत्सव का मतलब होता है, ऐसा उत्सव जिसे पूरा देश एक साथ मिलकर मनाता है. भारत के स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर हम भारत और आजादी से संबंधित कुछ दिलचस्प एवं रोचक तथ्य प्रस्तुत कर रहें है.

स्वतंत्रता दिवस के बारे में 10 रोचक तथ्य


1. क्या आप जानते है कि 7 अगस्त 1906 को कलकत्ता के पारसी बागान स्क्वायर (Parsee Bagan Square) में पहली बार राष्ट्रीय ध्वज फहराया गया था. ध्वज लाल, पीला और हरे रंग के क्षैतिज स्ट्रिप्स से बना था जिसके शीर्ष पर लाल पट्टी जिसमें आठ सफेद कमल एक पंक्ति में उतार दिए गए थे. हरी पट्टी के बाईं तरफ एक सफेद सूरज और अर्धचंद्र वही दाहिनी तरफ स्टार या एक तारा था.

2. सबसे अनोखी बात यह है कि, जब भारत को स्वतंत्रता मिली थी 15 अगस्त 1947 में तब उसका कोई राष्ट्रगान नहीं था. हलाकि 1911 में ही रविंद्रनाथ टैगोर ‘जन गण मन’ बंगाली भाषा में लिख चुके थे, लेकिन 1950 में यह हमारे देश का राष्ट्रगान बन पाया था.

3. ऐसा कहा जाता है कि वर्तमान राष्ट्रीय ध्वज का पहला संस्करण 1921 में बेजवाड़ा में पिंगली वेंकय्या द्वारा बनाया गया था. यह दो रंगों से बना था- लाल और हरा जोकि दो प्रमुख समुदायों का प्रतिनिधित्व करता था. गांधीजी ने भारत के शेष समुदायों और राष्ट्र की प्रगति का प्रतीक बनाने के लिए एक सफेद पट्टी पे चरखे को जोड़ने का सुझाव दिया था.

4. 15 अगस्त 1947 को, पूरा देश आजादी के जश्न में डूबा था लेकिन गांधी जी इसमे शामिल नही हो पाए थे, क्योकिं वह इस समय कलकत्ता में हिंदु-मुस्लिम दंगे को रोकने में लगे हुए थे.

Mahatma Gandhi role in Indian Independence

भारत में 15 अगस्त को ही क्यों स्वतंत्रता दिवस मनाया जाता है?

5. हर स्वतंत्रता दिवस पर माननीय प्रधानमंत्री लाल किले से झंडा फहराते हैं लेकिन 1947 में ऐसा नही हुआ था. जवाहरलाल नेहरू जी ने 16 अगस्त को लाल किले से झंडा फहराया था.

6. क्या आपको पता है कि , 15 अगस्त तक भारत और पाकिस्तान के बीच की सीमा रेखा नही थी. यह 17 अगस्त को रेडक्लिफ लाइन के रूप में खींची गई थी. भारत ने स्वतंत्रता प्राप्त करने के बाद 560 रियासतों को भारतीय संघ में शामिल किया था. 2 अन्य, हैदराबाद और जूनागढ़ को भारतीय सेना द्वारा कब्जा कर लिया गया था.

7. भारतीय स्वतंत्रता के बारे में एक और दिलचस्प तथ्य यह है कि भारत की स्वतंत्रता के बाद, पुर्तगाल ने अपने संविधान में संशोधन किया और गोवा को एक पुर्तगाली राज्य के रूप में घोषित किया. भारतीय सैनिकों ने 19 दिसम्बर 1961 को गोवा पर हमला किया और इसे भारत में मिला दिया था.

8. क्या आप जानते हैं कि, भारत ने इतिहास के अपने पिछले 100,000 वर्षों में कभी भी किसी देश पर हमला नहीं किया हैं.

9. 15 अगस्त भारत के अलावा तीन अन्य देशों का भी स्वतंत्रता दिवस हैं. दक्षिण कोरिया जापान से 15 अगस्त, 1945 को आजाद हुआ था. ब्रिटेन से बहरीन 15 अगस्त, 1971 को और फ्रांस से कांगो 15 अगस्त, 1960 को आजाद हुआ था.

10. 15 अगस्त 1947 को 1 रुपया 1 डॉलर के बराबर था और सोने का भाव 88 रुपए 62 पैसे प्रति 10 ग्राम था और तो और 15 अगस्त के दिन ही वीर चक्र को मान्यता दी गई थी. 15 अगस्त 1972 को भारत में डाक पिन जो कि 6 अंको का नंबर होता हैं की शुरूआत की गई थी और 15 अगस्त 1982 को इंदिरा गांधी के भाषण के साथ भारत में टीवी पर रंगीन प्रसारण की शुरूआत हुई थी.

तो ये थें स्वतंत्रता दिवस के बारे में कुछ महत्वपूर्ण और रोचक तथ्य.

जानें पहली बार अंग्रेज कब और क्यों भारत आए थे?

भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के 7 महानायक जिन्होंने आजादी दिलाने में मुख्य भूमिका निभाई

 

 

FAQ

डाक पिन जो कि 6 अंको का नंबर होता हैं की शुरूआत कब की गई थी?

15 अगस्त 1972 को भारत में डाक पिन जो कि 6 अंको का नंबर होता हैं की शुरूआत की गई थी.

भारत में टीवी पर रंगीन प्रसारण की शुरूआत कब हुई थी?

15 अगस्त 1982 को इंदिरा गांधी के भाषण के साथ भारत में टीवी पर रंगीन प्रसारण की शुरूआत हुई थी
Get the latest General Knowledge and Current Affairs from all over India and world for all competitive exams.
Jagran Play
खेलें हर किस्म के रोमांच से भरपूर गेम्स सिर्फ़ जागरण प्ले पर
Jagran PlayJagran PlayJagran PlayJagran Play

Related Categories