भारत की महत्वपूर्ण अंतर्राष्ट्रीय जल संधियों की सूची

अंतर्राष्ट्रीय जल संधि एक या एक से अधिक देशों के बीच नदी के जल के उपयोग तथा सहयोग और सूचना विनिमय के लिए तटस्थ विशेषज्ञ के मध्यस्थता में किया गया एक समझौते को कहते हैं। इस लेख में हमने भारत की महत्वपूर्ण अंतर्राष्ट्रीय जल संधियों की सूची दिया है जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है।
Mar 21, 2018 16:25 IST
    List of Important International Water treaties of India in Hindi

    अंतर्राष्ट्रीय जल संधि एक या एक से अधिक देशों के बीच नदी के जल के उपयोग तथा सहयोग और सूचना विनिमय के लिए तटस्थ विशेषज्ञ के मध्यस्थता में किया गया एक समझौते को कहते हैं। इस तरह के समझौते  सदभावना पर आधारित होते है। यह नदी के पानी के उपयोग पर अधिकारों और दायित्वों को तय और सीमांकित करता है।

    भारत की महत्वपूर्ण अंतर्राष्ट्रीय जल संधियां

    1. सिंधु जल संधि

    (a) यह पानी के वितरण के लिए भारत और पाकिस्तान के बीच हुई एक संधि है जिसको विश्व बैंक (तत्कालीन पुनर्निर्माण और विकास हेतु अंतरराष्ट्रीय बैंक) के मध्यस्थता में भारत के प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू और पाकिस्तान के राष्ट्रपति अयूब खान द्वारा पाकिस्तान के कराची शहर में 19 सितंबर, 1960 हस्ताक्षर किया गया था।

    (b) इस सन्धि के अनुसार, तीन "पूर्वी" नदियों ब्यास, रावी और सतलुज — का नियंत्रण भारत को, तथा तीन "पश्चिमी" नदियों सिंधु, चिनाब और झेलम — का नियंत्रण पाकिस्तान को दिया गया।

    (c) संधि के कार्यान्वयन और प्रबंधन के लिए द्विपक्षीय एक स्थायी सिंधु आयोग (Permanent Indus Commission) की स्थापना की गयी जो पानी के बंटवारे से उत्पन्न विवादों पर निष्पक्ष निर्णय दे।

    2. भारत-बांग्लादेश संधि

    (a) गंगा नदी के जल को साझा करने के लिए भारतीय प्रधान मंत्री एच.डी देवगौड़ा और बांग्लादेशी प्रधान मंत्री शेख हसीना वाजेद ने 12 दिसंबर 1996 को एक संधि पर हस्ताक्षर किया था जिसको भारत-बांग्लादेश जल संधि के नाम से जाना जाता है।

    (b) इस के अनुसार कार्यान्वयन और प्रबंधन के लिए एक संयुक्त नदी आयोग (जेआरसी) का गठन किया गया।

    भौगोलिक चिन्‍ह या संकेत (जीआई) क्या है और यह ट्रेडमार्क से कैसे अलग है?

    3. भारत-नेपाल संधि

    (a) यह संधि भारत और नेपाल के बीच फरवरी, 1996 हस्ताक्षर किया गया था जिसको महाकाली संधि नाम से भी जाना जाता है।

    (b) महाकाली नदी पर पंचेश्वर बहुउद्देश्यीय परियोजना इस संधि का केंद्रस्थ है।

    4. भारत-चीन सहयोग

    ब्रह्मपुत्र नदी पर वर्षा, जल स्तर जैसे जल विज्ञान संबंधी जानकारी साझा करने के लिए भारत और चीन के बीच समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किया गया है।

    5. भारत-भूटान सहयोग

    भारत और भूटान दोनों ही देशों में बहने वाली उभयनिष्‍ठ नदियां और उन पर पूर्वानुमानित नेटवर्क के लिए योजना की प्रगति की समीक्षा करने के लिए 1979 में एक संयुक्त विशेषज्ञ दल (जॉइंट एक्सपर्ट टीम- जेईटी) का गठन किया गया गया था।

    उपरोक्त संधियों में सिंधु जल संधि विश्व की सबसे उदार जल संधियों में से एक है क्यूंकि यह संधि भारत-पाकिस्तान के तीन युद्धों और द्विपक्षीय संबंधों में निरंतर तनाव होने के बावजूद आज भी वैसे ही पालन किया जा रहा जिस तरह से पहले किया जाता था।

    सौर प्रणाली और उसके ग्रहों के बारे में महत्वपूर्ण तथ्यों की सूची

    Loading...

    Register to get FREE updates

      All Fields Mandatory
    • (Ex:9123456789)
    • Please Select Your Interest
    • Please specify

    • ajax-loader
    • A verifcation code has been sent to
      your mobile number

      Please enter the verification code below

    Loading...
    Loading...