ब्रह्मांड में ज्ञात आकाशगंगाओं की सूची

मनुष्य की ब्रह्मांड के प्रत्येक छोर तक जाने की जिज्ञासा ने खगोलीय खोज का निर्माण किया है। इसी लालसा को पूर्ण करने के लिए अंतरिक्ष विज्ञान का इस्तेमाल करते-करते ब्रह्मांड से जुड़े कई रहस्यमय खोज की गयी उन्ही में से एक है आकाशगंगाओं की खोज। इस लेख में हमने, ब्रह्मांड में ज्ञात आकाशगंगाओं को सूचीबद्ध किया है जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है।
Dec 18, 2018 17:16 IST
    List of Known Galaxies in the Universe HN

    मनुष्य की ब्रह्मांड के प्रत्येक छोर तक जाने की जिज्ञासा ने खगोलीय खोज का निर्माण किया है। इसी लालसा को पूर्ण करने के लिए अंतरिक्ष विज्ञान का इस्तेमाल करते-करते ब्रह्मांड से जुड़े कई रहस्यमय खोज की गयी उन्ही में से एक है आकाशगंगाओं की खोज। ब्रह्माण्ड में अनगिनत आकाशगंगा हैं और उनमे अनगिनत तारे हैं। पृथ्वी से दूर स्थित अलग-अलग आकाशगंगाओं की रोशनी हम तक लाखों, करोड़ों साल में पहुँचती है। इसीलिए जब हम रात में आसमान को देखते हैं तो हम दरअसल समय की गहराई में झांक रहे होते हैं।

    ब्रह्माण्ड क्या है?

    ब्रह्माण्ड सम्पूर्ण समय और अंतरिक्ष और उसकी अंतर्वस्तु को कहते हैं जिसमे सभी ग्रह, तारे, गैलेक्सिया, गैलेक्सियों के बीच के अंतरिक्ष की अंतर्वस्तु, अपरमाणविक कण, और सारा पदार्थ और सारी ऊर्जा शामिल है।

    ब्रह्मांड में ज्ञात आकाशगंगाओं की सूची

    ब्रह्मांड में ज्ञात आकाशगंगाओं पर नीचे चर्चा की गयी हैं:

    1. एंड्रोमेडा

    यह सर्पिलाकार गैलेक्सी या तारा पुंज है जो पृथ्वी से 2,500,000 प्रकाश वर्ष (1.6×1011 खगोलीय इकाई) दूर एंड्रोमेडा नक्षत्र-मंड़ल में स्थित है। इसे स्पिट्जर स्पेस टेलीस्कोप द्वारा 2006 में पता लगाया गया था।

    नक्षत्र-मंड़ल या तारामंडल (Constellation): एंड्रोमेडा

    2. ब्लैक आई गैलेक्सी

    इस गैलेक्सी या तारा पुंज को मार्च 1779 में एडवर्ड पिगॉट द्वारा खोजा गया था और उसी वर्ष अप्रैल में जोहान एलर्ट बोड द्वारा स्वतंत्र रूप से 1780 में चार्ल्स मेसीयर द्वारा खोजा गया था।

    नक्षत्र-मंड़ल या तारामंडल (Constellation): कोमा बेरेनिसस

    3. बोड गैलेक्सी

    यह उर्स मेजर नक्षत्र में स्थित पृथ्वी से 12 मिलियन प्रकाश वर्ष दूर एक सर्पिल गैलेक्सी या तारा पुंज है। 31 दिसंबर, 1774 को जोहान एलर्ट बोड ने इसकी खोज की थी।

    नक्षत्र-मंड़ल या तारामंडल (Constellation): सप्तर्षि तारामंडल या "अरसा मेजर" (Ursa Major)

    4. कार्टवील गैलेक्सी

    यह लेन्तिकुलर गैलेक्सी या तारा पुंज है जो पृथ्वी से लगभग 500 मिलियन प्रकाश-वर्ष दूर है।

    नक्षत्र-मंड़ल या तारामंडल (Constellation): स्कुल्प्टर

    5. सिगार गैलेक्सी

    यह नक्षत्र "अरसा मेजर" (Ursa Major) में लगभग 12 मिलियन प्रकाश वर्ष दूर एक स्टारबर्स्ट आकाशगंगा है।

    नक्षत्र-मंड़ल या तारामंडल (Constellation): सप्तर्षि तारामंडल को "अरसा मेजर" (Ursa Major)

    अंतरिक्ष मलबा क्या होता है?

    6. धूमकेतु गैलेक्सी

    यह पृथ्वी से 3.2 अरब प्रकाश-वर्ष दूर एबेल 2667 आकाशगंगा समूहों में स्थित एक सर्पिल आकाशगंगा है। इसे हबल स्पेस टेलीस्कॉप द्वारा खोजा गया था।

    नक्षत्र-मंड़ल (Constellation): स्कुल्प्टर

    7. कॉसमॉस रेड्शिफ्त 7

    यह एक उच्च रेडशिफ्ट लाइमैन-अल्फा एमिटर आकाशगंगा है।

    नक्षत्र-मंड़ल (Constellation): सेक्सटन्स

    8. होगस ऑब्जेक्ट

    यह रिंग आकाशगंगा के नाम से जाना जाने वाला प्रकार की एक गैर-विशिष्ट आकाशगंगा है। इसका नाम आर्थर होग के नाम पर रखा गया है जिसने इसे 1950 में खोजा और इसे एक ग्रहीय नेबुला या आठ अरब सितारों के साथ एक असाधारण आकाशगंगा के रूप में पहचाना।

    नक्षत्र-मंड़ल (Constellation): सेर्पें कैपुट

    9. लार्ज मैगेलैनिक क्लाउड

    यह उपग्रहों का गैलेक्सी या तारा पुंज है।

    नक्षत्र-मंड़ल (Constellation): डोराडो/मेन्सा

    10. स्माल मैगेलैनिक क्लाउड

    यह आकाशगंगा के पास एक बौना गैलेक्सी या तारा पुंज  है। यह आकाशगंगा के निकटतम इंटरगैलेक्टिक पड़ोसियों में से एक है और नग्न आंखों के लिए दिखाई देने वाली सबसे दूर की वस्तुओं में से एक है।

    नक्षत्र-मंड़ल (Constellation): तुकाना

    11. मायाल्स ऑब्जेक्ट

    यह उर्स मेजर के नक्षत्र के भीतर 500 मिलियन प्रकाश वर्ष दूर स्थित दो टकराव वाली आकाशगंगाओं का परिणाम है। क्रॉसली परावर्तक का उपयोग करते हुए 13 मार्च 1940 को अमेरिकी खगोलविद निकोलस यू मायाल ने लिक वेधशाला में खोजा था।

    नक्षत्र-मंड़ल (Constellation): सप्तर्षि तारामंडल या "अरसा मेजर" (Ursa Major)

    ब्रह्मांड के 10 ज्ञात सबसे बड़े एक्सोप्लेनेट (Exoplanet)

    12. मिल्की वे

    इसे आकाशगंगा, मिल्की वे, क्षीरमार्ग या मन्दाकिनी भी कहते हैं, जिसमें पृथ्वी और सौर मण्डल स्थित है। आकाशगंगा आकृति में एक सर्पिल (स्पाइरल) गैलेक्सी है, जिसका एक बड़ा केंद्र है और उस से निकलती हुई कई वक्र भुजाएँ। हमारा सौर मण्डल इसकी शिकारी-हन्स भुजा (ओरायन-सिग्नस भुजा) पर स्थित है।

    नक्षत्र-मंड़ल (Constellation): सेजीटेरिअस

    13. पिनव्हील गैलेक्सी

    यह सर्पिल आकाशगंगा है जो पृथ्वी से 21 मिलियन प्रकाश-वर्ष दूर स्थित है।

    नक्षत्र-मंड़ल (Constellation): सप्तर्षि तारामंडल या "अरसा मेजर" (Ursa Major)

    14. सोम्ब्रेरो गैलेक्सी

    यह सर्पिल आकाशगंगा है।

    नक्षत्र-मंड़ल (Constellation): वर्गो

    15. सनफ्लावर गैलेक्सी

    यह कैनेस वेनेटाटी के उत्तरी नक्षत्र में एक सर्पिल आकाशगंगा है। यह पहली बार फ्रांसीसी खगोलविद पियरे मेचैन द्वारा खोजा गया था जिसे बाद में 14 जून, 1779 को उनके सहयोगी चार्ल्स मेसीयर द्वारा सत्यापित किया गया था।

    नक्षत्र-मंड़ल (Constellation): कैन वेनातिकी

    16. टैडपोल गैलेक्सी

    यह  सर्पिल आकाशगंगा है जो उत्तरी नक्षत्र-मंड़ल ड्रैको है और ये पृथ्वी से 420 मिलियन प्रकाश-वर्ष स्थित है।

    नक्षत्र-मंड़ल (Constellation): ड्रैको

    17. व्हर्लपूल गैलेक्सी

    यह एक इंटरैक्टिंग ग्रैंड-डिज़ाइन सर्पिल आकाशगंगा है जो कैने वेनेटाटी  नक्षत्र-मंड़ल में स्थित है और यह सर्पिल आकाशगंगा के रूप में वर्गीकृत होने वाली पहली आकाशगंगा थी।

    नक्षत्र-मंड़ल (Constellation): कैन वेनातिकी

    ब्रह्माण्ड के 10 ज्ञात सबसे खतरनाक क्षुद्रग्रह

    Loading...

    Register to get FREE updates

      All Fields Mandatory
    • (Ex:9123456789)
    • Please Select Your Interest
    • Please specify

    • ajax-loader
    • A verifcation code has been sent to
      your mobile number

      Please enter the verification code below

    Loading...
    Loading...