दादा साहेब फाल्के अवार्ड क्या है और किसे दिया जाता है?

दादा साहेब फाल्के अवॉर्ड भारतीय सिनेमा में सबसे बड़ा सम्मान माना जाता है. क्या आपने कभी सोचा है कि दादा साहेब फाल्के अवार्ड क्यों दिया जाता है, इसका नाम दादा साहेब फाल्के जी के नाम पर क्यों रखा गया, कौन इस अवार्ड को देता है और कब इत्यादि. आइये इस लेख के माध्यम से अध्ययन करते हैं.
Oct 17, 2018 14:04 IST
    What is Dadasaheb Phalke Award and to whom it is given?

    दादा साहेब फाल्के एक अवॉर्ड जाना-माना प्रतिष्ठित अवार्ड है. आपने इसके बारे में सुना ही होगा. परन्तु क्या आप जानते हैं कि यह किसे और क्यों दिया जाता है. इसका नाम दादासाहेब फाल्के ही क्यों पड़ा? आइये इस लेख के माध्यम से अध्ययन करते हैं.

    दादा साहेब फाल्के अवार्ड क्या है?

    दादा साहेब फाल्के अवॉर्ड भारतीय सिनेमा में सबसे बड़ा सम्मान माना जाता है. ये सम्मान फिल्म उद्योग में अपना विशेष योगदान देने वाली फिल्मी दुनिया से जुड़ी हस्तियों को दिया जाता है.

    दादा साहेब फाल्के कौन थे?

    दादा साहेब फाल्के का जन्म 30 अप्रैल 1870 में एक मराठी परिवार में हुआ था और उन्होंने पढ़ाई नासिक से की थी.

    क्या आप जानते हैं कि दादा साहेब फाल्के का पूरा नाम धुंडीराज गोविंद फाल्के था.

    उन्होंने सर जेजे स्कूल ऑफ आर्ट, मुंबई में नाटक और फोटोग्राफी की ट्रेनिंग ली थी.

    इसके बाद वे जर्मनी चले गए और वहां उन्होंने फिल्मों को बनाना सीखा.

    जब वे भारत लौटे तो उन्होंने पहली साइलेंट फिल्म राजा हरिश्चंद्र बनाई और पूरे देश को एक नया सपना दिया. इस फिल्म को पहली पूर्णत: लम्बी भारतीय फीचर फिल्म कहा जाता है. ये ही बॉलीवुड के नाम से जाना जाता है.

    रैमन मैग्सेसे पुरस्कार को जीतने वाले भारतीय

    इस अवार्ड का नाम दादा साहेब फाल्के ही क्यों पड़ा?

    ये अवार्ड भारत सरकार की ओर से दिया जाने वाला एक वार्षिक पुरस्कार है, जो भारतीय सिनेमा में किसी विशेष व्यक्ति को उसके आजीवन योगदान के लिए दिया जाता है.

    दादा साहेब फाल्के अवार्ड की स्थापना वर्ष 1969 में भारतीय सिनेमा के पितामह दादा साहेब फाल्के की सौंवी जयंती के अवसर पर की गई थी.

    भारत में दादा साहेब फाल्के अवार्ड 'लाइफ टाईम अचीवमेंट अवार्ड' के रूप में दिया जाने वाला फिल्म क्षेत्र का सबसे प्रतिष्ठित अवार्ड है.

    दादा साहेब फाल्के अवार्ड किसे दिया जाता है और इसका चयन कौन करता है?

    सूचना और प्रसारण मंत्रालय राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार समारोह के मौके पर दादासाहेब फाल्के पुरस्कार देता है.

    यह पुरस्कार भारतीय सिनेमा के संवर्धन और विकास में उल्लेखनीय योगदान करने के लिए दिया जाता है.

    प्रतिष्ठित व्यक्तियों की एक समिति की सिफारिशों पर यह पुरस्कार प्रदान किया जाता है.

    भारत सरकार की ओर से, इस पुरस्कार में दस लाख रुपये नकद, स्वर्ण कमल और शॉल प्रदान किया जाता है.

    ‘दादा साहेब फाल्के अकेडमी’के द्वारा भी दादा साहेब फाल्के के नाम पर तीन पुरस्कार दिए जाते हैं, जो कि इस प्रकार हैं: फाल्के रत्न अवार्ड, फाल्के कल्पतरु अवार्ड और दादा साहेब फाल्के अकेडमी अवार्ड्स.

    क्या आप जानते हैं कि वर्ष 2006 में मुंबई हाई कोर्ट ने फिल्म महोत्सव निदेशालय को निर्देश दिया कि वह इस सम्मान के लिए बिना सेंसर की हुई फिल्मों पर ही विचार करे. तब फिल्म महोत्सव निदेशालय ने सर्वोच न्यायालय में चुनौती दी और फैसला फिल्म महोत्सव निदेशालय के पक्ष में रहा. उस वर्ष पुरस्कार की घोषणा वर्ष 2008 के मध्य में की गई थी क्योंकि अदालती फैसले में देरी होने की कारण. इस प्रकार 2007 के अवार्ड की घोषणा सितम्बर, 2009 में की गई और इसी प्रकार वर्ष 2008 के अवार्ड की घोषणा 19 जनवरी, 2010 में हुई तथा वर्ष 2009 के अवार्ड की घोषणा 9 सितम्बर, 2010 को की गई.

    साथ ही हम आपको बता दें कि वर्ष 2008 में दादा साहेब फाल्के अवार्ड कर्नाटक के वी. के मूर्ति को प्रदान किया गया था और वह इस पुरस्कार को पाने वाले पहले सिनेमैटोग्राफर थे.

    16 फरवरी 1944 को देश के इस नवयुग निर्माता निर्देशक का देहांत हो गया था.

    सबसे पहले दादा साहेब फाल्के अवार्ड किसको मिला और कब?

    सबसे पहला दादा साहेब फाल्के सम्मान अभिनेत्री देविका रानी को वर्ष 1969 में दिया गया था.

    साहित्य अकादमी पुरस्कार: तथ्यों पर एक नजर

    दादासाहेब फाल्के अवार्ड की सूची

    वर्ष

    नाम

    फिल्म इंडस्ट्री

    2017

    विनोद खन्ना

    हिन्दी

    2016

    कसिनाथुनी विश्वनाथ

    तेलुगू

    2015

    मनोज कुमार

    हिन्दी

    2014

    शशि कपूर

    हिन्दी

    2013

    गुलजार

    हिन्दी

    2012

    प्राण

    हिन्दी

    2011

    सौमित्र चटर्जी

    बंगाली

    2010

    के. बालचन्दर

    तमिल

    तेलुगू

    2009

    डी. रामानायडू

    तेलुगू

    2008

    वी. के. मूर्ति

    हिन्दी

    2007

    मन्ना डे

    बंगाली

    हिन्दी

    2006

    तपन सिन्हा

    बंगाली

    हिन्दी

    2005

    श्याम बेनेगल

    हिन्दी

    2004

    अडूर गोपालकृष्णन

    मलयालम

    2003

    मृणाल सेन

    बंगाली

    2002

    देव आनन्द

    हिन्दी

    2001

    यश चोपड़ा

    हिन्दी

    2000

    आशा भोसले

    हिन्दी

    मराठी

    1999

    ऋषिकेश मुखर्जी

    हिन्दी

    1998

    बी. आर. चोपड़ा

    हिन्दी

    1997

    कवि प्रदीप

    हिन्दी

    1996

    शिवाजी गणेशन

    तमिल

    1995

    राजकुमार

    कन्नड़

    1994

    दिलीप कुमार

    हिन्दी

    1993

    मजरूह सुल्तानपुरी

    हिन्दी

    1992

    भूपेन हजारिका

    असमिया

    1991

    भालजी पेंढारकर

    मराठी

    1990

    अक्कीनेनी नागेश्वर राव

    तेलुगू

    1989

    लता मंगेशकर

    हिन्दी



    मराठी

    1988

    अशोक कुमार

    हिन्दी

    1987

    राज कपूर

    हिन्दी

    1986

    बी. नागी. रेड्डी

    तेलुगू

    1985

    वी. शांताराम

    हिन्दी

    मराठी

    1984

    सत्यजीत रे

    बंगाली

    1983

    दुर्गा खोटे

    हिन्दी

    मराठी

    1982

    एल. वी. प्रसाद

    हिन्दी

    तमिल

    तेलुगू

    1981

    नौशाद

    हिन्दी

    1980

    पैडी जयराज

    हिन्दी

    तेलुगू

    1979

    सोहराब मोदी

    हिन्दी

    1978

    रायचन्द बोराल

    बंगाली

    हिन्दी

    1977

    नितिन बोस

    बंगाली

    हिन्दी

    1976

    कानन देवी

    बंगाली

    1975

    धीरेन्द्रनाथ गांगुली

    बंगाली

    1974

    बोम्मीरेड्डी नरसिम्हा रेड्डी

    तेलुगू

    1973

    रूबी मयेर्स (सुलोचना)

    हिन्दी

    1972

    पंकज मलिक

    बंगाली एवं हिन्दी

    1971

    पृथ्वीराज कपूर

    हिन्दी

    1970

    बीरेन्द्रनाथ सिरकर

    बंगाली

    1969

    देविका रानी

    हिन्दी

    तो अब आपको ज्ञात हो गया होगा कि दादा साहेब फाल्के अवार्ड क्या है, ये क्यों और किसे दिया जाता है इत्यादि.

    ज्ञानपीठ सम्मान: भारत का सर्वोच्च साहित्यिक सम्मान

    Loading...

    Register to get FREE updates

      All Fields Mandatory
    • (Ex:9123456789)
    • Please Select Your Interest
    • Please specify

    • ajax-loader
    • A verifcation code has been sent to
      your mobile number

      Please enter the verification code below

    Loading...
    Loading...