कॉलेज स्टूडेंट्स स्ट्रेस से बचने के लिए जरुर फ़ॉलो करें ये टिप्स

अपने मनचाहे कॉलेज में एडमिशन लेने के बाद अक्सर कई स्टूडेंट्स स्ट्रेस का शिकार हो जाते हैं क्योंकि अपने कॉलेज के दिनों में उन्हें अपने एकेडमिक और करियर गोल्स हासिल करने के लिए बहुत ज्यादा मेहनत और संघर्ष करना पड़ता है. इस आर्टिकल में पढ़ें स्ट्रेस से बचने के लिए कुछ विशेष टिप्स.

Created On: Apr 17, 2020 17:47 IST
7 ways college students can manage stress effectively
7 ways college students can manage stress effectively

कॉलेज में सिर्फ मौजमस्ती, आजादी, दोस्त, पार्टीज और मटरगश्ती के अलावा भी स्टूडेंट्स पर काफी जिम्मेदारियों का भार भी आ जाता है जैसेकि, एकेडमिक प्रेशर, एक्स्ट्रा क्लासेज, इंटर्नशिप, सेल्फ-फाइनेंस मैनेजमेंट, पार्ट-टाइम जॉब, स्टडी नोट्स तैयार करना, एक्स्ट्रा करीकुलर एक्टिविटीज़, पीर प्रेशर और कॉलेज/ हॉस्टल लाइफ में प्रॉपर बैलेंस मेंटेन रखना. कॉलेज के बहुत से स्टूडेंट्स अपनी लाइफ में आये इस बड़े बदलाव के लिए बिलकुल तैयार नहीं होते हैं और स्ट्रेस या तनाव के शिकार हो जाते हैं.

कॉलेज के स्टूडेंट्स को अपने कॉलेज के दिनों में शुरू से ही अपनी पढ़ाई के साथ इन सभी नई जिम्मेदारियों को एक-साथ निभाना पड़ता है और यह सब उनके लिए बहुत चुनौतीपूर्ण और स्ट्रेसफ़ुल होता है. कॉलेज स्टूडेंट्स के स्ट्रेस का प्रमुख कारण अपनी सभी जिम्मेदारियों को बखूबी निभाते हुए अपने ग्रेड्स को मेरिट लेवल पर बनाये रखने की चुनौती होता है. कॉलेज स्टूडेंट्स के लिए अपने बेहतरीन ग्रेड्स बनाये रखने की चुनौती के साथ ही अपनी सभी नई जिम्मेदारियों से बचना शायद नामुमकिन है. हालांकि, कॉलेज स्टूडेंट्स अपने स्ट्रेस को कारगर तरीके से जरुर मैनेज कर सकते हैं. कॉलेज के दिनों में स्ट्रेस से निपटने के लिए हम इस आर्टिकल में सभी कॉलेज स्टूडेंट्स के लिए कुछ कारगर और सरल टिप्स पेश कर रहे हैं जिन्हें पढ़कर अगर वे फ़ॉलो करेंगे तो अवश्य ही स्ट्रेस से पूरी तरह छुटकारा पा लेंगे. आइये आगे पढ़ें: 

रोज़ाना का एक्शन प्लान बनाएं

कॉलेज स्टूडेंट्स के स्ट्रेस का एक बड़ा कारण यह होता है कि वे काफी कम समय में बहुत से काम करना चाहते हैं. अन्य शब्दों में, आप जितना काम हैंडल कर सकते हैं, उससे कहीं ज्यादा काम आप एक दिन में करना चाहते हैं. ऐसी किसी स्थिति से बचने के लिए आपके लिए यह अच्छा रहेगा कि आप अपने पूरे दिन का एक्शन प्लान पहले से बड़े व्यवस्थित तरीके से बना लें. एक दैनिक या साप्ताहिक कैलंडर बनाएं जिसमें वरीयता के आधार पर आपके सभी कामों की लिस्ट समाविष्ट हो. यह लिस्ट तैयार करते समय इस बात का पूरा ध्यान रखें कि प्रत्येक काम को पूरा करने में आपको कितना समय लग सकता है?...इन कामों को सबमिट करने की तारीखें या डेडलाइन्स का भी उल्लेख अपने कैलंडर में करें और फिर, उसके अनुरूप ही अपनी योजना बना कर अपने सभी कार्य निपटाएं.

कॉलेज स्टूडेंट्स के सुकून और बैलेंस्ड लाइफ के लिए जरुरी हैं ये स्ट्रेस बस्टर्स

आपके गोल्स सटीक और छोटे-छोटे होने चाहिए

अपने लिए एक्शन प्लान-कैलंडर बनाते समय आपके लिए यह अत्यावश्यक है कि आप अपने लिए वास्तविक लक्ष्य निर्धारित करें. आपके गोल्स सटीक और छोटे-छोटे होने चाहिए. ओवरस्मार्ट बनने की कोशिश न करें और अपने ऊपर जरूरत से ज्यादा कार्य पूरे करने का भार मत लें. अपने बड़े कामों को छोटे-छोटे और आसानी से प्राप्त किये जा सकने वाले लक्ष्यों में बांट लें. इस बात का भी पूरा ध्यान रखें कि हमेशा आप अपने बनाए हुए कार्य शेड्यूल का पालन नहीं कर सकते हैं. जो काम आप कर रहे हों, केवल उसी पर ध्यान दें और अगला काम शुरू करने से पहले अपने मौजूदा काम को अवश्य खत्म करें.

एक्सरसाइज को अपने डेली रूटीन में जरुर करें शामिल

कॉलेज लाइफ के साथ ही काफी जिम्मेदारियां भी आ जाती हैं. आपका दिमाग हमेशा यही सोचता रहता है कि, ‘अब आगे क्या होगा?’ लेकिन, आप बिना थके काफी कुछ कर सकते हैं. स्ट्रेस को दूर भगाने के लिए किसी किस्म की शारीरिक कसरत बहुत फायदेमंद होती है. इसलिए, आप एक्सरसाइज को पाने डेली रूटीन में जरुर शामिल करें. आप कोई स्पोर्ट्स टीम ज्वाइन कर सकते हैं या अपने कॉलेज जिम की सदस्यता ले सकते हैं. आप सुबह जॉगिंग कर सकते हैं या फिर, छोटी दौड़ लगा सकते हैं.

हेल्दी और न्यूट्रीशियस डाइट

जब आप अपने घर से दूर कॉलेज हॉस्टल में रहते हैं तो आपको अपनी पसंद के फ़ास्ट फ़ूड आइटम्स खाना बहुत अच्छा लगता है. अधिकांश कॉलेज स्टूडेंट्स रोजाना हेल्दी और न्यूट्रीशियस डाइट नहीं लेते  हैं. आपके लिए यह बहुत जरुरी है कि आप अपने आहार में हरी सब्जियां, फल, अनाज और रेशेदार खाद्य पदार्थ अवश्य खायें. अगर आपको खाना बनाना आता है तो किसी ऐसे घर में किराये पर रहें जहां आप अपने लिए खुद खाना बना सकें. एक अन्य बढ़िया विकल्प टिफिन सर्विस लेना है. अधिकांश मेट्रो सिटीज में आपको टिफिन सर्विस बड़ी आसानी से मिल जाती है.

रोज़ाना अच्छी नींद जरुर लें

कम सोना भी कॉलेज स्टूडेंट्स के बढ़ते हुए स्ट्रेस का एक प्रमुख कारण है. शायद यह कॉलेज स्टूडेंट्स को काफी लुभावना लगे कि अपने दोस्तों के साथ हॉस्टल की छत में रात बातें करते हुए गुजारें या रात भर जाग कर और कॉफ़ी पीते-पीते अगले दिन की परीक्षा की तैयारी करें. लेकिन, लगातार कम सोने से आपको कई स्वास्थ्य संबंधी समस्यायें हो सकती हैं जैसे मोटापा, अवसाद और आपके स्ट्रेस के स्तर का बढ़ जाना. इसके अलावा, रात-रात भर जागने से आपके शरीर की जैविक घड़ी, जो सूर्य की रोशनी के अनुसार काम करती है; इस जैविक घड़ी पर भी काफी बुरा असर पड़ता है. कॉलेज स्टूडेंट्स के लिए यह बहुत जरुरी है की वे रोज़ाना अच्छी नींद जरुर लें.

जानिये कॉलेज स्टूडेंट्स के लिए पीअर प्रेशर से निपटने के कुछ असरदार टिप्स यहां

दोस्त और फैमिली मेंबर्स दूर भगाते हैं आपका स्ट्रेस

कॉलेज लाइफ में कई अनकही चुनौतियां आती हैं और अगर इन चुनौतियों, चिंताओं और समस्याओं को कोई बांटने वाला हो तो इससे बढ़िया बात और क्या हो सकती है? आपके परिवार और दोस्तों से अच्छा सलाहकार और कौन हो सकता है? अपने प्रियजनों से बात करने पर आपको काफी भावनात्मक मदद मिलती है और आप अपनी निराशा तथा स्ट्रेस को दूर भगा कर तनावमुक्त हो जाते हैं.

स्ट्रेस दूर करने के लिए एंटरटेनमेंट भी हैं जरुरी

चाहे आपका वर्क-शेड्यूल कितन भी व्यस्त क्यों न हो?...आप कुछ समय एंटरटेनमेंट के लिए अवश्य निकालें. अपनी हॉबी या किसी अन्य पसंदीदा कार्य के लिए प्रत्येक सप्ताह कुछ घंटे अवश्य निकालें. जिन कामों या  हॉबी को करने से आपको शांति और सुकून मिलता हो, वे हॉबी या काम अवश्य करें. वीकेंड पर अपने दोस्तों से मिलें. मौजमस्ती करने पर भी आप अपने स्ट्रेस को दूर भगा कर स्ट्रेस- फ्री हो सकते हैं. 

ध्यान रखें कि,

जीवन में किसी भी अन्य समस्या की तरह ही स्ट्रेस से भी आसानी से छुटकारा पाया जा सकता है. लेकिन, आपको इसके लिए अपनी तरफ से पूरी कोशिश करनी होगी. अन्यथा आपका स्ट्रेस बढ़ता ही जायेगा और आपके जीवन के विकास पर अपने काफी घातक प्रभाव डालेगा. याद रखें कि अगर आप अपने स्टूडेंट्स जीवन में ही स्ट्रेस से निपटना सीख लेते हैं तो यह आपके पेशेवर जीवन में भी काफी फायदेमंद साबित होगा.

स्ट्रेस मैनेजमेंट: कॉलेज स्टूडेंट्स के लिए कारगर तरीके

जॉब, इंटरव्यू, करियर, कॉलेज, एजुकेशनल इंस्टीट्यूट्स, एकेडेमिक और पेशेवर कोर्सेज के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करने और लेटेस्ट आर्टिकल पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट www.jagranjosh.com पर विजिट कर सकते हैं.

Related Categories

Comment (0)

Post Comment

9 + 1 =
Post
Disclaimer: Comments will be moderated by Jagranjosh editorial team. Comments that are abusive, personal, incendiary or irrelevant will not be published. Please use a genuine email ID and provide your name, to avoid rejection.