Search

BPSC प्रीलिम्स परीक्षा 2018 का परिणाम घोषित, ऐसे करें मुख्य परीक्षा की तैयारी

BPSC प्रीलिम्स 2018 का परिणाम 23 फरवरी 2019 को घोषित हो चुका है। इस लेख में हम BPSC मुख्य परीक्षा 2018 के लिए कुछ महत्वपूर्ण टिप्स और रणनीति प्रदान कर रहे हैं ताकि उम्मीदवार अपनी सफलता की संभावनाओं को बढ़ाने के लिए अच्छे तरीके से तैयारी कर सकें।

Feb 25, 2019 09:51 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon

BPSC मुख्य परीक्षा 2018 जल्द ही आयोजित की जाएगी क्योंकि BPSC प्रारंभिक परीक्षा का परिणाम 23 फरवरी 2019 को घोषित किया जा चुका है। इस साल BPSC प्रारंभिक परीक्षा 16 दिसंबर 2018 को आयोजित की गई थी। उम्मीदवार, जिन्होंने BPSC प्रारंभिक परीक्षा को पास किया है, BPSC मुख्य परीक्षा 2018 में शामिल होंगे। BPSC मुख्य परीक्षा 2018 में कड़ी प्रतिस्पर्धा होगी। मुख्य परीक्षा 900 अंकों की है। यदि कोई उम्मीदवार BPSC मुख्य परीक्षा उत्तीर्ण करता है तो उसे साक्षात्कार के लिए बुलाया जाता है जो 120 अंकों का होता है। इसलिए, मेरिट 1020 अंकों में से तैयार की जाती है।

BPSC Mains Exam 2018: Exam Pattern and Syllabus

BPSC मुख्य परीक्षा 2018 में सामान्य हिंदी का पेपर क्वालीफाइंग होगा। इसके अलावा, जनरल स्टडीज पेपर 1 और जनरल स्टडीज पेपर 2 होंगे। ये दोनों पेपर 300 अंकों के होंगे। एक ऑप्शनल पेपर होता है जिसे उम्मीदवार को आवेदन पत्र भरते समय चुनना होता है। ऑप्शनल पेपर 300 अंकों का होता है।

BPSC मुख्य परीक्षा 2018 का पैटर्न यहां दिया गया है:

परीक्षा का चरण

पेपर का नाम

कुल अंक

अवधि

 

मुख्य परीक्षा

(सब्जेक्टिव)

सामान्य हिंदी (क्वालीफाइंग)

100

तीन घंटे

सामान्य अध्ययन पेपर 1

300

तीन घंटे

सामान्य अध्ययन पेपर 2

300

तीन घंटे

ऑप्शनल पेपर

300

तीन घंटे

Interview: BPSC Topper SDM Rahul Sinha (Rank 92)

BPSC मुख्य परीक्षा 2018 के लिए कुछ सामान्य टिप्स:

BPSC मुख्य परीक्षा 2018 में उपस्थित होने जा रहे उम्मीदवारों के लिए यहां कुछ टिप्स और ट्रिक्स दिए गए हैं:

  • उम्मीदवारों को पहले BPSC मुख्य परीक्षा का पूरा सिलेबस पढ़ना और समझना चाहिए।
  • उन्हें परीक्षा में पूछे गए प्रश्नों की प्रकृति, गुणवत्ता और कठिनाई स्तर को समझने के लिए BPSC मुख्य परीक्षा के पिछले वर्ष के प्रश्न पत्रों को देखना चाहिए।
  • अपने आप को परीक्षा से परिचित करने के लिए उन्हें नियमित आधार पर पिछले वर्ष के प्रश्नपत्रों का अभ्यास करना चाहिए।
  • उन्हें BPSC मुख्य परीक्षा के सिलेबस के आधार पर नोट्स बनाने चाहिए और इसे नियमित रूप से रिवाइज करना चाहिए।
  • उम्मीदवारों को केवल मानक किताबों को पढ़ना चाहिए।
  • उम्मीदवारों को समाचार पत्र पढ़ने की आदत विकसित करनी चाहिए। उन्हें मासिक रूप से प्रकाशित करंट अफेयर्स को भी पढ़ना चाहिए।
  • उम्मीदवारों को सलाह दी जाती है कि वे बिहार के इतिहास, भूगोल, संस्कृति, भाषाओं, मेलों और त्योहारों पर एक व्यापक नोट तैयार करें।
  • उम्मीदवारों को उत्तर लिखने की गति बरक़रार रखने के लिए उत्तर लिखने का अभ्यास करते रहना चाहिए।
  • उन्हें खुद को नियमित टेस्ट सीरीज के लिए नामांकित करना चाहिए। निरंतर अभ्यास उन्हें परीक्षा के लिए तैयार रखता है।
  • उम्मीदवारों को रिवाइज करने के लिए पर्याप्त समय के साथ एक समय सारिणी विकसित करनी चाहिए।
  • उन्हें बिहार, भारत और विश्व के मानचित्रों को अपने साथ रखना चाहिए। उम्मीदवारों के लिए मानचित्र एक नियमित आदत होनी चाहिए क्योंकि परीक्षा में इससे संबंधित कई प्रश्न पूछे जाते हैं।
  • उम्मीदवारों को प्रतियोगिता दर्पन जैसी पत्रिकाओं और स्टेट GK पर एक अच्छी किताब को पढ़ना चाहिए।
  • अपने समय का सबसे अच्छे तरीके से उपयोग करने के लिए उन्हें टीवी और मोबाइल फोन से खुद को दूर रखना चाहिए।

Salary and Promotion of DSP in BPSC

GS पेपर 1 और 2 की तैयारी के लिए टिप्स

NCERT की पुस्तकें पढ़ें (कक्षा 6 से 12): NCERT की पुस्तकें PCS परीक्षा के छात्रों के लिए एक वरदान होती हैं। उम्मीदवारों को इन पुस्तकों की सामग्री की अच्छी जानकारी होनी चाहिए क्योंकि ये पुस्तकें BPSC मुख्य परीक्षा के पाठ्यक्रम को बहुत अच्छी तरह से कवर करती हैं।

सामान्य विज्ञान की अच्छी पुस्तकों को पढ़ें: NCERT की पुस्तकों के अलावा उम्मीदवारों को सामान्य विज्ञान की अच्छी पुस्तकों को पढ़ना चाहिए। ल्यूसेंट प्रकाशन की पुस्तक इसके लिए उपयोगी है। अरिहंत प्रकाशन द्वारा प्रकाशित पुस्तक “Encyclopedia of General Science for General Competitions” भी एक उपयोगी पुस्तक है।

इतिहास की मानक पुस्तकों का अध्ययन करें: BPSC मुख्य परीक्षा 2018 में इतिहास एक महत्वपूर्ण विषय है। तैयारी के लिए अच्छी पुस्तकें रखना हमेशा वांछनीय होता है। इस विषय के प्रश्न बिहार और भारत के इतिहास के साथ-साथ भारतीय स्वतंत्रता संग्राम पर केंद्रित होंगे। प्रश्न कला और संस्कृति से भी पूछे जाते हैं। उम्मीदवारों को इन सभी विषयों को अच्छी तरह से तैयार करना चाहिए। यहां कुछ महत्वपूर्ण पुस्तकों की सूची दी गई है जिन्हें तैयारी के लिए संदर्भित किया जाना चाहिए।

शीर्षक

लेखक

विशेषताएँ

History of Bihar

Nripendra Kumar Srivastava

इस पुस्तक में राज्य के इतिहास के सभी विषयों की अच्छी कवरेज है। राज्य के आंदोलनों, क्रांतियों और परंपराओं को इस पुस्तक में पढ़ा जा सकता है।

History of Medieval India

Satish Chandra

यह पुस्तक भारत के मध्यकालीन इतिहास के अध्ययन के लिए एक मानक पुस्तक है। विषयों का व्यापक कवरेज है और तथ्यों को सरल भाषा में प्रस्तुत किया गया है।

India's struggle for Independence

Bipin Chandra

इस पुस्तक के बिना भारत के स्वतंत्रता संग्राम का अच्छी तरह से अध्ययन नहीं किया जा सकता है। स्वतंत्रता संग्राम के सभी पहलुओं को अच्छी तरह से समझाया गया है। यह पुस्तक कॉन्सेप्चुअल क्लैरिटी के लिए अच्छी है।

History of modern India

Bipin Chandra

भारत का आधुनिक इतिहास; अतीत में देश की क्रांति, स्वतंत्रता संग्राम, सामाजिक और आर्थिक स्थिति का मिश्रण है। इस पुस्तक में इन सभी का वर्णन अच्छी तरह से किया गया है।

Art and Culture

Nitin Singhaniya

इस पुस्तक में कला और संस्कृति का विवरण व्यापक रूप में है। देश की कला, संस्कृति, सांस्कृतिक भिन्नता और सांस्कृतिक मिश्रण को विस्तार से बताया गया है।

Art and culture of Bihar

Jhunu Bagohi

इस पुस्तक में राज्य की कला और संस्कृति का विस्तृत विवरण है। लोक नृत्य, संगीत, त्योहार, भाषाएं इस पुस्तक का हिस्सा हैं।

Salary and Promotion of SDM in BPSC

अर्थशास्त्र की तैयारी इस तरह करें:BPSC मुख्य परीक्षा 2018 में अर्थशास्त्र हमेशा महत्वपूर्ण रहा है। इस विषय से कई प्रश्न पूछे जाते हैं। इस विषय के लिए छात्रों को हमेशा अच्छी पुस्तकों की आवश्यकता होती है। अर्थशास्त्र की तैयारी के लिए छात्रों को निम्नलिखित पुस्तकों का उल्लेख करना चाहिए:

  • रमेश सिंह द्वारा Indian Economy भारत की अर्थव्यवस्था पर एक व्यापक पुस्तक है। इस पुस्तक में सभी टॉपिक्स को शामिल किया गया है। यह पुस्तक UPSC के उम्मीदवारों द्वारा भी संदर्भित किया जाता है।
  • सिन्हा, नाज़िम और अहमद द्वारा Economy of Bihar, BPSC मुख्य परीक्षा के उम्मीदवारों के लिए "must read" होनी चाहिए। यदि उम्मीदवार इस पुस्तक को पढ़ते हैं तो राज्य की अर्थव्यवस्था से आने वाले प्रश्नों का उत्तर अच्छी तरह से दिया जा सकता है।
  • भारत का आर्थिक सर्वेक्षण भी उम्मीदवारों को पढ़ना चाहिए। यह आर्थिक नीतियों में वर्तमान परिवर्तन या नई नीतियों की शुरूआत पर आधारित सवालों के जवाब देने में उम्मीदवारों की मदद कर सकता है।
  • भारत और बिहार के बजट को उम्मीदवारों द्वारा पढ़ा जाना चाहिए। यह उन्हें बजट विषयों पर आधारित प्रश्नों के उत्तर देने में सक्षम बनाता है।

BPSC Top Posts

भारतीय राजव्यवस्था और लोक प्रशासन: BPSC मुख्य परीक्षा 2018 के छात्रों को इन विषयों के लिए मानक पुस्तकों की आवश्यकता होती है। इन विषयों के लिए मानक पुस्तकें निम्नलिखित हैं:

  • एम लक्ष्मीकांत द्वारा Indian polity भारतीय राजनीति के लिए मानक पुस्तक है। यह पुस्तक राजव्यवस्था की तैयारी के लिए पर्याप्त है। यह पुस्तक इतनी प्रामाणिक है कि UPSC के सभी उम्मीदवार अपनी तैयारी के दौरान इसका उल्लेख करते हैं। इस पुस्तक को एम लक्ष्मीकांत की एक अन्य पुस्तक 'लोक प्रशासन और प्रबंधन' के साथ पढ़ा जाना चाहिए।
  • पी.एम. बख्शी द्वारा Constitution of India (पॉकेट एडिशन) को भी BPSC मुख्य परीक्षा के उम्मीदवारों द्वारा संदर्भित किया जाना चाहिए। भारतीय संविधान से संबंधित सभी विवरण को जानने के लिए यह एक उपयोगी पुस्तक है। परीक्षा में आर्टिकल्स, सेक्शन्स आदि पर आधारित प्रश्न भी पूछे जाते हैं।
  • डी डी बसु द्वारा Introduction to the Constitution of India कॉन्सेप्चुअल क्लैरिटी के लिए अच्छी है। इस पुस्तक में उम्मीदवारों के लिए पर्याप्त अध्ययन सामग्री हैं।

इन विषयों को भूलें: BPSC मुख्य परीक्षा 2018 में, इन विषयों से भी प्रश्न पूछे जाएंगे: एडमिनिस्ट्रेटिव एथिक्स, जनरल साइंस एंड टेक्नोलॉजी, भूगोल और भूविज्ञान। इन विषयों के लिए उम्मीदवारों को खुद को तैयार रखना चाहिए। प्रश्न विश्लेषणात्मक होंगे। नीचे दी गई तालिका में, पुस्तकों की एक सूची दी गई है जो इन विषयों की तैयारी करने में उम्मीदवारों की मदद करेगी।

विषय

पुस्तक

लेखक

विशेषताएँ

 

एडमिनिस्ट्रेटिव एथिक्स

Ethics, Integrity and Aptitude

Nanda Kishore and Santhosh Ajmera

यह पुस्तक उन सभी नैतिक सिद्धांतों और आचार संहिता को जानने में उम्मीदवारों का मार्गदर्शन करती है जो प्रशासन के अंग होते हैं।

Lexicon for Ethics, Integrity & Aptitude

Niraj Kumar

उम्मीदवार इस पुस्तक से शब्दावली, कॉन्सेप्ट्स और प्रमुख नैतिक मूल्यों को जान सकते हैं। यह एक प्रकार की हैंडबुक है जो परीक्षा के दृष्टिकोण से महत्वपूर्ण है।

जनरल साइंस एंड टेक्नोलॉजी

Science and Technology in India

Kalpana Rajaram

इस पुस्तक में सामान्य विज्ञान के कॉन्सेप्ट्स हैं। विज्ञान की सभी शाखाओं से संबंधित पर्याप्त अध्ययन सामग्री हैं। अभ्यास के लिए भी प्रश्न हैं।

 

भूगोल और भूविज्ञान

India and World Geography

Majid Hussain

इस पुस्तक की मदद से भारत और विश्व के भूगोल को अच्छी तरह से समझा जा सकता है। यह पुस्तक सामग्री, चित्रण, स्पष्टीकरण और परीक्षा से संबंधित सामग्री के मामले में बहुत अच्छी है। यह पुस्तक UPSC के उम्मीदवारों द्वारा भी संदर्भित किया जाता है।

Geography of Bihar

M. S. Pandey and P. Dayal

यह पुस्तक राज्य की भौगोलिक विशेषताओं से सुसज्जित है। विभिन्न भौगोलिक संरचना, नदियों, पहाड़ों, कृषि और अन्य संबंधित विषयों को इस पुस्तक में अच्छी तरह से समझाया गया है।

Environment and Geology

Ojha

यह पुस्तक पर्यावरण और पारिस्थितिकी के लिए एक मानक पुस्तक है। अध्ययन सामग्री को पाठकों के लिए बहुत अच्छी तरह से समझाया गया है।

उम्मीदवारों को एटलस से परिचित होना चाहिए। एक अच्छे एटलस की हमेशा आवश्यकता होती है और ऑक्सफोर्ड स्कूल एटलस ऐसा ही एक एटलस है।

अब उम्मीदवारों के लिए सभी संसाधन उपलब्ध हैं, चाहे वह किताबें हों या अन्य अध्ययन सामग्री। उन्हें अध्ययन की एक ठोस योजना बनानी चाहिए और अपनी तैयारी शुरू करनी चाहिए। इन सभी युक्तियों और अध्ययन के तरीकों का पालन करते हुए उम्मीदवार वह हासिल कर सकते हैं जो वे हासिल करना चाहते हैं।

Related Stories