Search

12वीं पास स्टूडेंट्स के लिए टॉप मैनेजमेंट कोर्सेज और करियर स्कोप

बहुत बार अपनी 12वीं क्लास पास करने के बाद स्टूडेंट्स को यह समझ में नहीं आता है कि वे आगे ग्रेजुएशन लेवल पर कौन-सा कोर्स लें?.....या फिर, क्या वे कोई ऐसा डिग्री/ डिप्लोमा कोर्स कर सकते हैं जिससे उन्हें कोई अच्छी जॉब मिल सके. इस आर्टिकल में हम आपके लिए भारत में उपलब्ध टॉप मैनेजमेंट कोर्सेज की चर्चा कर रहे हैं ताकि आप मैनेजमेंट की फील्ड में मनचाहा करियर शुरू कर सकें.

May 22, 2020 20:24 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon
Management Courses for 12th Pass Students to get Great Career Options
Management Courses for 12th Pass Students to get Great Career Options

आजकल दुनिया के अन्य सभी विकसित देशों की तरह ही भारत में भी फ्रेश ग्रेजुएट्स/ यंग प्रोफेशनल्स मैनेजमेंट की विभिन्न फ़ील्ड्स में कोई सूटेबल जॉब प्रोफाइल ज्वाइन करना चाहते हैं. दरअसल, आपको मैनेजर के तौर पर भारत में काफी आकर्षक सैलरी पैकेज मिलता है. इसी तरह, प्रत्येक कंपनी या दफ्तर में मैनेजर की पोस्ट के साथ कई अधिकार और जिम्मेदारियां जुड़े होते हैं जो आपकी कंपनी या दफ्तर में आपकी पोजीशन को बहुत अहम बना देते हैं. प्रत्येक कंपनी या दफ्तर की वर्क स्ट्रेटेजीज के मुताबिक मैनेजर्स संबद्ध ऑर्गनाइजेशन में सम्पूर्ण कामकाज को सुव्यवस्थित करते हैं ताकि उनकी कंपनी या दफ्तर अपने बिजनेस गोल्स निरंतर हासिल कर सके. अगर आप भी अपनी कंपनी या दफ्तर में किसी टीम के हेड बनकर लोगों से बिजनेस टारगेट्स पूरे करवाने में सक्षम हैं तो फिर यह करियर आपके लिए बहुत सूटेबल साबित होगा. आइये इस आर्टिकल में आगे भारत में उपलब्ध टॉप मैनेजमेंट कोर्सेज और करियर स्कोप के बारे में महत्त्वपूर्ण जानकारी हासिल करें:

12वीं पास स्टूडेंट्स के लिए मैनेजमेंट कोर्सेज करने के हैं अनेक लाभ

एक स्टूडेंट होने के नाते आपके मन में यह सवाल जरुर आ सकता है कि आखिर अपनी 12वीं अच्छे/ काफी अच्छे मार्क्स के साथ पास करने के बाद हम कोई मैनेजमेंट कोर्स ही क्यों करें? इसके पीछे कुछ महत्वपूर्ण कारण हैं जिन पर आपको एक बार गौर जरुर कर लेना चाहिए. आइये पढ़ें ये प्रमुख कारण:  

  • भारत में BBA, MBA या अन्य कोई मैनेजमेंट कोर्स करने के बाद आप किसी भी कंपनी या दफ्तर में मैनेजर की पोस्ट ज्वाइन कर सकते हैं.
  • मैनेजमेंट ग्रेजुएट्स अगर अपना कोई कारोबार या स्टार्टअप शुरू करें तो उन्हें अपनी एजुकेशनल डिग्री से फायदा मिलता है.
  • कुछ टॉप IIMs और यूनिवर्सिटीज़ को छोड़कर हमारे देश के विभिन्न कॉलेज और यूनिवर्सिटीज़ में स्टूडेंट्स को आसानी से किसी मैनेजमेंट डिग्री/ डिप्लोमा कोर्स में एडमिशन मिल जाता है.
  • अगर आप मैनेजमेंट में कोई डिग्री या डिप्लोमा कोर्स कर लेते हैं तो संबद्ध फील्ड में MBA या स्पेशलाइजेशन करना आपके लिए आसान हो जाता है.
  • आपके बिजनेस, एडमिनिस्ट्रेशन और मैनेजमेंट से संबंधित स्किल्स निखर जाते हैं जिस कारण आप जीवन के किसी भी क्षेत्र में कामयाबी हासिल कर सकते हैं.

भारत में टॉप मैनेजमेंट कोर्सेज में एडमिशन लेने के लिए एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया

हमारे देश में किसी मान्यताप्राप्त एजुकेशनल बोर्ड से 12वीं पास स्टूडेंट्स देश के विभिन्न एजुकेशनल/ मैनेजमेंट इंस्टीट्यूशन्स, कॉलेजों और यूनिवर्सिटीज़ से मैनेजमेंट के विभिन्न डिग्री और डिप्लोमा कोर्सेज कर सकते हैं.

इंडियन स्टूडेंट्स के लिए उपलब्ध टॉप डिग्री/ डिप्लोमा मैनेजमेंट कोर्सेज

भारत में स्टूडेंट्स के लिए मैनेजमेंट की विभिन्न फ़ील्ड्स से संबंधित विभिन्न डिग्री/ डिप्लोमा कोर्सेज निम्नलिखित हैं:

डिप्लोमा लेवल

  • डिप्लोमा – बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन

ग्रेजुएशन लेवल

  • बैचलर – बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन
  • बैचलर + डिप्लोमा (स्पेशलाइजेशन) – बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन
  • बैचलर – बिजनेस मैनेजमेंट
  • बैचलर ऑफ़ आर्ट्स – मैनेजमेंट
  • बैचलर ऑफ़ कॉमर्स – मैनेजमेंट
  • बैचलर ऑफ़ साइंस – मैनेजमेंट
  • बीबीए + एमबीए
  • CRISIL ग्लोबल रिसर्च एंड एनालिटिक्स
  • ICICI सिक्योरिटीज़
  • फ़ेडरल बैंक

पोस्ट ग्रेजुएशन लेवल

  • बैचलर – होटल मैनेजमेंट
  • मास्टर ऑफ़ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन
  • पोस्टग्रेजुएशन डिग्री – मैनेजमेंट
  • पोस्टग्रेजुएशन डिग्री – बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन
  • पोस्टग्रेजुएशन डिग्री – बिजनेस मैनेजमेंट  

डॉक्टरेट लेवल

  • एमफिल – मैनेजमेंट
  • पीएचडी – मैनेजमेंट

महत्वपूर्ण नोट: यहां ध्यान देने वाली बात यह है कि भारत के प्रमुख IIMs या यूनिवर्सिटीज़ में एडमिशन लेने से पहले स्टूडेंट्स को CAT, MAT, CMAT, GMAT, XAT, SNAP और NMAT जैसे विभिन्न एंट्रेंस एग्जाम्स पास करने पड़ते हैं.

टॉप इंडियन मैनेजमेंट एजुकेशन इंस्टीट्यूशन्स

अगर हम भारत के ऐसे प्रमुख संस्थानों का जिक्र करें जहां देश की टॉप लेवल की मैनेजमेंट एजुकेशन दी जाती है तो निम्नलिखित संस्थानों के नामों का जिक्र जरुर किया जाना चाहिए:

  • एमिटी स्कूल ऑफ़ मैनेजमेंट, नई दिल्ली
  • मणिपुर इंस्टीट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट स्टडीज़, इम्फाल
  • IPS एकेडमी ऑफ़ स्कूल ऑफ़ मैनेजमेंट, इंदौर, मध्यप्रदेश
  • पर्ल एकेडमी, नई दिल्ली
  • चंडीगढ़ उनिवेरिस्टी, पंजाब
  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट (IIM), अहमदाबाद, कलकत्ता, लखनऊ, बॉम्बे, बैंगलोर आदि
  • इंस्टीट्यूट ऑफ़ होटल मैनेजमेंट, मुंबई
  • टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ़ सोशल साइंसेज, मुंबई
  • IPU यूनिवर्सिटी, दिल्ली

मैनेजमेंट ग्रेजुएट्स के लिए भारत में खास करियर ऑप्शन्स

पूरी दुनिया की तरह ही हमारे देश में भी आजकल मैनेजमेंट ग्रेजुएट्स के लिए कई जॉब प्रोफाइल्स और करियर ऑप्शन्स उपलब्ध हैं और इसका सबसे प्रमुख कारण वास्तव में यह है कि देश-दुनिया के हरेक दफ्तर और कंपनी में एडमिनिस्ट्रेशन और मैनेजमेंट से जुड़े अनेक कार्य होते हैं जो मैनेजमेंट एक्सपर्ट्स ही संतोषजनक तरीके से पूरे कर सकते हैं. देश-दुनिया के प्रमुख मैनेजमेंट करियर ऑप्शन्स/ जॉब प्रोफाइल्स की एक लिस्ट यहां आपके लिए पेश की जा रही है:

  • मटीरियल मैनेजर
  • इंटरनेशनल बिज़नस मैनेजर
  • प्रोजेक्ट मैनेजर
  • प्रोडक्शन मैनेजर
  • इवेंट मैनेजर
  • प्रॉपर्टी मैनेजर
  • फ़ूड एंड होटल मैनेजर
  • हेल्थकेयर मैनेजर
  • मेडिकल रिकार्ड्स मैनेजर
  • बैंक मैनेजर
  • इनफॉर्मेशन सिस्टम्स मैनेजर
  • टूरिज्म एंड ट्रेवल मैनेजर
  • एविएशन मैनेजर
  • रिस्क मैनेजर
  • बिज़नस मैनेजर
  • ह्यूमन रिसोर्स मैनेजर
  • फाइनेंस मैनेजर
  • मार्केटिंग मैनेजर
  • रिटेल मैनेजर

भारत के दफ्तरों में प्रमुख मैनेजमेंट एक्टिविटीज़

जब आप किसी कंपनी या दफ्तर में मैनेजर की पोस्ट ज्वाइन करते हैं तो आप अपने डिपार्टमेंट के मुताबिक अपनी कंपनी या दफ्तर की टॉप मैनेजमेंट और स्टाफ के बीच एक कड़ी का काम करते हैं. आप अपने डिपार्टमेंट के सारे कामकाज की प्लानिंग, एग्जीक्यूशन और इवैल्यूएशन लगातार करते रहते हैं ताकि कॉस्ट कटिंग के साथ-साथ आपकी कंपनी या दफ्तर को लगातार मुनाफा होता रहे या फिर, आपका दफ्तर या कंपनी अपने लक्ष्य हासिल कर सके.

भारत में मैनेजर्स को मिलता है यह सैलरी पैकेज

पूरी दुनिया सहित भारत में भी विभिन्न मैनेजमेंट डिग्री होल्डर कैंडिडेट्स को काफी आकर्षक सैलरी पैकेज ऑफर किए जा रहे हैं. यहां तक कि भारत के टॉप IIMs में अपनी पढ़ाई के दौरान ही स्टूडेंट्स को यूनिवर्सिटी प्लेसमेंट्स के माध्यम से काफी आकर्षक सैलरी पैकेज ऑफर मिलते हैं. हमारे देश में आमतौर पर शुरू में कोई फ्रेश मैनेजमेंट ग्रेजुएट एवरेज 3 – 4 लाख रुपये सालाना के सैलरी पैकेज पर काम करता है लेकिन बढ़ते हुए वर्क एक्सपीरियंस के साथ इन पेशेवरों की अधिकतम सैलरी की कोई सीमा निर्धारित नहीं की जा सकती अर्थात देश के बड़े ब्रांड्स, MNCs और कॉर्पोरेट हाउसेस इन पेशेवरों को 1 -2 करोड़ रुपये या उससे अधिक का सालाना पैकेज भी ऑफर कर रहे हैं. इसी तरह, इन पेशेवरों की एजुकेशनल क्वालिफिकेशन, वर्क स्किल्स, टैलेंट, वर्क एक्सपीरियंस और रिजल्ट ओरिएंटेशन के मुताबिक इनके सैलरी पैकेज में प्रत्येक वर्ष आकर्षक बढ़ोतरी होती रहती है.

मैनेजमेंट: टॉप इंडियन रिक्रूटर्स

अगर आप बहुत अच्छे मार्क्स या मेरिट पोजीशन में ग्रेजुएशन लेवल पर किसी प्रसिद्ध इंस्टीट्यूट से मैनेजमेंट की डिग्री हासिल कर लेते हैं तो आप विभिन्न मैनेजरियल पोजीशन्स के लिए भारत के निम्नलिखित टॉप रिक्रूटर्स के पास अप्लाई कर सकते हैं:

  • अशोक लेलैंड लिमिटेड
  • कल्पतरु लिमिटेड
  • अलाइड डिजिटल सर्विसेज लिमिटेड
  • जेनपैक्ट
  • स्मार्ट क्यूब
  • CRISIL ग्लोबल रिसर्च एंड एनालिटिक्स
  • ICICI सिक्योरिटीज़
  • फ़ेडरल बैंक
  • राणे ग्रुप
  • HCL इन्फो सिस्टम्स लिमिटेड

जॉब, इंटरव्यू, करियर, कॉलेज, एजुकेशनल इंस्टीट्यूट्स, एकेडेमिक और पेशेवर कोर्सेज के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करने और लेटेस्ट आर्टिकल पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट www.jagranjosh.com पर विजिट कर सकते हैं.

अन्य महत्त्वपूर्ण लिंक

12वीं पास स्टूडेंट्स करें मैनेजमेंट कोर्सेज, मिलेंगे रोज़गार के बेहतरीन ऑप्शन्स

जानिए कैसे बनें एक सफल ब्रांड मैनेजर ?

देश सेवा के लिए बनाएं डिजास्टर मैनेजमेंट में करियर

Related Stories