Jagran Josh Logo

आप भी ला सकते हैं JEE Advanced में अच्छी रैंक, अगर JEE Main 2018 की परीक्षा के बाद करते हैं यह काम

Apr 19, 2018 18:14 IST
    Must follow these tips after JEE Main to get the good rank in JEE Advanced
    Must follow these tips after JEE Main to get the good rank in JEE Advanced

    केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड(CBSE) द्वारा JEE Main 2018 की ऑनलाइन और ऑफलाइन परीक्षा को  सफलता पूर्वक कंडक्ट कर लिए गया है. कुल 1043739 विद्यार्थियों ने JEE Main 2018 की ऑफलाइन परीक्षा में भाग लिया था. विद्यार्थी JEE Main की उत्तर कुंजी (Answer Key) आधिकारिक वेबसाइट पर 24 अप्रैल से 27 अप्रैल के बीच देख सकते हैं. इसके साथ-साथ विद्यार्थी OMR Response Sheet भी डाउनलोड कर उनके द्वारा JEE Main 2018 की परीक्षा में मार्क किए गये विकल्पों को देख सकते हैं.

    उत्तर कुंजी से अपने विकल्पों को मिलाने के बाद विद्यार्थी अपने मार्क्स का अंदाजा लगा सकते हैं. उदाहरण के लिए अगर किसी विद्यार्थी ने JEE Main 2018 की परीक्षा में कुल 60 प्रश्न अटेम्पट किए हैं. अगर उत्तर कुंजी से मिलाने के बाद 60 प्रश्नों में से केवल 40 प्रश्न ही सही निकलते हैं, तो विद्यार्थी के मार्क्स कुछ इस प्रकार होंगे 40(4) − 20(1) = 140.

    JEE Main की उत्तर कुंजी के किसी भी उत्तर पर संदेह होने पर विद्यार्थियों को 27 अप्रैल में रात 11:59 बजे से पहले challenge डालना पड़ेगा. JEE Main 2018 की परीक्षा में किसी भी प्रश्न पर Challenge डालने के लिए विद्यार्थियों को 1000 रुपए की राशि का भुगतान करना पड़ेगा, किन्तु JAB/CBSE द्वारा challenge स्वीकार किए जाने पर विद्यार्थियों को जमा की गयी राशि वापस कर दी जायेगी.

    क्या हो सकती है JEE Main 2018 की कट-ऑफ? जानें इस लेख में

    JEE Advanced की परीक्षा के लिए भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, कानपुर द्वारा 20 मई की तारीख निर्धारित की गयी है, केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड(CBSE) द्वारा JEE Main 2018 की परीक्षा के परिणाम 30 अप्रैल को घोषित किए जायंगे. आज हम इस लेख में बतायेंगे कि विद्यार्थी JEE Main की परीक्षा के बाद क्या-क्या कर सकते हैं और सबसे बहतरीन विकल्प क्या हो सकता है.

      Related Video: श्री आनंद कुमार से जानें JEE Advanced के एग्जाम प्रेशर को दूर करने के टिप्स

    1. JEE Main की आधिकारिक उत्तर कुंजी का इंतिज़ार:

    विद्यार्थी JEE Main की उत्तर कुंजी (Answer Key) के लिए 24 अप्रैल तक का इंतिज़ार कर सकते हैं और CBSE द्वारा उत्तर कुंजी को उनकी वेबसाइट पर प्रकाशित करने के बाद OMR Response Sheet पर मार्क किए गये उत्तरों को आधिकारिक उत्तर कुंजी से मिला कर अपनी रैंक का अंदाजा लगा सकते हैं तथा अनुमानित रैंक के आधार पर JEE Advanced की तैयारी कर सकते हैं.

    2. अन्य इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षाओं के तैयारी कर सकते हैं:

    अगर विद्यार्थियों को लगता है कि JEE Main 2018  के मार्क्स के आधार पर वो JEE Advanced के लिए क्वालीफाई नहीं कर पायेंगे और ना ही JEE Main 2018  की रैंकिंग के आधार पर उनका दाखिला NITs, IIITs और CFTIs में होगा. तब विद्यार्थियों को अन्य विभिन्न इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षाओं जैसे UPSEE, WBJEE, SRMJEEE और VITEEE इत्यादि को क्रैक करने के लिए हर संभव प्रयास करना चाहिए.

    3. JEE Advanced के लिए तैयारी करनी चाहिए:

    अधिकतर विद्यार्थी JEE Main की परीक्षा देते समय उनके द्वारा किसी प्रश्न को हल करने के बाद प्रश्न पत्र पर सही विकल्प मार्क कर लेते हैं जिससे उन्हें OMR sheet भरते समय आसानी होती है. JEE Main 2018  की परीक्षा के बाद विद्यार्थी प्रश्न पत्र पर उनके द्वारा मार्क किए गये विकल्पों को विभिन्न प्रसिद्ध IIT JEE कोचिंग संस्थानों की उत्तर कुंजी से मिला कर अपने मार्क्स का अंदाजा लगा सकते हैं. कोचिंग संस्थानों में JEE Main का प्रश्न पत्र विषय विशेषज्ञों द्वारा हल किया जाता है इसलिए इसमें त्रुटी होने का बहुत ही कम चांस होता है.

    JEE Main 2018 की ऑनलाइन और ऑफलाइन परीक्षा ख़तम होने के बाद विद्यार्थियों के पास JEE Advanced की तैयारी के लिए करीब 1 महीने का समय शेष रहेगा, किन्तु अगर विद्यार्थी JEE Main की परीक्षा के परिणाम का इंतिज़ार करते हैं तो उनके पास केवल 19 दिन का समय बचेगा जिसमें विद्यार्थियों को JEE Advanced की तैयारी करनी पड़ेगी. इसलिए विद्यार्थियों को अपना समय बर्बाद नहीं करते हुए JEE Advanced 2018 की तैयारी शुरू कर देनी चाहिए.

    निष्कर्ष:

    हमारे अनुसार विद्यार्थियों को आधिकारिक उत्तर कुंजी के चक्कर में अपना कीमती समय बर्बाद नहीं करके विभिन्न IIT JEE कोचिंग संस्थानों की उत्तर कुंजी से अपने उत्तरों को मिलाने के बाद अपने मार्क्स का अंदाजा लगा कर JEE Advanced की परीक्षा की तैयारी शुरू कर देनी चाहिए. विद्यार्थियों को सभी विषयों के बेसिक कॉन्सेप्ट्स के साथ-साथ एडवांस्ड कॉन्सेप्ट्स पर भी फोकस करना चाहिए. विद्यार्थियों को अपनी स्पीड और accuracy बढ़ाने के लिए अधिक से अधिक प्रैक्टिस पेपर्स को हल करना चाहिए. ऐसा करने से उनका आत्मविश्वास भी बढ़ेगा जो JEE Advanced की परीक्षा में अच्छे मार्क्स लाने के लिए अनिवार्य है.

    IIT JEE 2018 : जरूर जाने JEE छात्रों द्वारा अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्नों के उत्तर

    Commented

      Latest Videos

      Register to get FREE updates

        All Fields Mandatory
      • (Ex:9123456789)
      • Please Select Your Interest
      • Please specify

      • ajax-loader
      • A verifcation code has been sent to
        your mobile number

        Please enter the verification code below

      Newsletter Signup
      Follow us on
      This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK
      X

      Register to view Complete PDF