प्रमुख इंडियन इंस्टीट्यूट्स से करें ये गैर परंपरागत ऑनलाइन इंजीनियरिंग कोर्सेज

इंजीनियरिंग की अब कई सब-ब्रांचेज हैं और आप अपने उज्ज्वल भविष्य के लिए किसी प्रमुख इंडियन इंस्टीट्यूट से कोई अपरंपरागत इंजीनियरिंग कोर्स भी कर सकते हैं. इसके बारे में अधिक जानने के लिए यह आर्टिकल जरुर पढ़ें.

Created On: May 18, 2020 20:22 IST
Top Indian Institutes offer these Unconventional Online Engineering  Courses
Top Indian Institutes offer these Unconventional Online Engineering Courses

इन दिनों भारत सहित पूरे विश्व में कोरोना वायरस महामारी के कारण लागू लॉक डाउन की वजह से करोड़ों लोग कुछ महीनों से अपने घरों पर ही रोज़ाना 24 घंटे बिता रहे हैं. लॉकडाउन से उत्पन्न इन गंभीर परिस्थितियों में मानव संसाधन मंत्रालय (MHRD), भारत सरकार ने स्टे होम, स्टे सेफ़ कॉन्सेप्ट के तहत ‘स्टडी एट होम’ फीचर को बढ़ावा देने के लिए कई ऐसे पोर्टल शुरू किये हैं जहां से स्टूडेंट्स और पेशेवर विभिन्न एकेडमिक और प्रोफेशनल कोर्सेज ऑनलाइन मोड में कर सकते हैं. 

 

इसी तरह, साइंस स्टूडेंट्स के लिए  नेशनल प्रोग्राम ऑन टेक्नोलॉजी एन्हेंस्ड लर्निंग (NPTEL) भी विभिन्न ऑनलाइन इंजीनियरिंग कोर्सेज ऑफर कर रहा है.  NPTEL के इन ऑनलाइन सर्टिफिकेशन कोर्सेज में इंटरेस्टेड स्टूडेंट्स प्रत्येक वर्ष में 2 बार (जनवरी – जून और जुलाई – दिसंबर तक) एडमिशन ले सकते हैं. ये ऑनलाइन कोर्सेज फ्री ऑफ़ कॉस्ट हैं और आपके लिए वीडियो कंटेंट कोर्सेज और वेब कंटेंट कोर्सेज के तौर पर उपलब्ध हैं. हम आपको यह भी बताना चाहते हैं कि NPTEL द्वारा ऑफर किये जा रहे इन ऑनलाइन इंजीनियरिंग कोर्सेज के लिए हमारे देश के टॉप  IITs और IISc ने प्रत्येक कोर्स के लिए कम से कम 40 घंटे का कोर्स कंटेंट तैयार करने के लिए 100 कोर्सेज के लिए वेब बेस्ड कंटेंट्स और वीडियोज़ भी तैयार किये हैं.

 

टॉप इंडियन इंस्टीट्यूट्स द्वारा ऑफर किये जाने वाले विशेष गैर-परंपरागत ऑनलाइन इंजीनियरिंग कोर्सेज

अब हम कुछ खास गैर-परंपरागत इंजीनियरिंग कोर्सेज का वर्णन पेश कर रहे हैं और आपको यह जानकर भी  ख़ुशी होगी कि भारत के कुछ प्रमुख संस्थान ये गैर-परंपरागत इंजीनियरिंग कोर्सेज ऑनलाइन ऑफर कर रहे हैं. आइये इन कोर्सेज के बारे में महत्त्वपूर्ण जानकारी हासिल करें:

  • हेल्थ रिसर्च फंडामेंटल

इस कोर्स के तहत एपिडेमियोलॉजी में फंडामेंटल कॉन्सेप्ट्स और रिसर्च मेथड्स से संबंधित बायो-स्टेटिस्टिक्स की जानकारी दी जाती है. यह कोर्स नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ़ एपिडेमियोलॉजी ऑफर कर रहा है ताकि बायोमेडिकल एंड हेल्थ रिसर्च स्टडीज़ के लिए प्रिंसिपल्स और स्टेप्स ओवरव्यू के बारे में स्टूडेंट्स को अच्छी जानकारी दी जा सके. यह कोर्स 20 जुलाई, 2020 से शुरू होगा और इस कोर्स की अवधि 8 सप्ताह है.

  • एक्स-रे क्रिस्टलोग्राफी एंड डिफ्रेक्शन

यह इंजीनियरिंग प्रोग्राम कंप्यूटर साइंस के स्टूडेंट्स के लिए बहुत फायदेमंद है और इसके तहत मैथमेटिक्स के कई आस्पेक्ट्स सिखाये जाते हैं. यह कोर्स 20 जुलाई से शुरू होगा और इसकी अवधि 12 सप्ताह है. यह कोर्स आपके लिए इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ़ इंजीनियरिंग साइंस एंड टेक्नोलॉजी, शिबपुर ऑफर कर रहा है.

ये हैं साइंस स्टूडेंट्स के लिए NPTEL के ऑनलाइन इंजीनियरिंग कोर्सेज

  • डिज़ाइन ऑफ़ फोटोवोल्टेक सिस्टम

यह एक 12 सप्ताह का कोर्स है जो इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ़ साइंस, बैंगलोर द्वारा स्टूडेंट्स के लिए जुलाई, 2020 से अक्टूबर 2020 तक ऑनलाइन ऑफर किया जा रहा है. इस कोर्स के तहत स्टूडेंट्स को पेलटियर रेफ्रिजरेशन, वाटर पम्पिंग, ग्रिड कनेक्शन और माइक्रोग्रिड्स से संबंधित विभिन्न एप्लीकेशन्स के बारे में ऑनलाइन स्टडी करवाई जायेगी. यह इंजीनियरिंग की फील्ड का एक अपेक्षाकृत नया या गैर-परंपरागत कोर्स है जो आप ऑनलाइन कर सकते हैं. इसी तरह, यह इंस्टीट्यूट कई अन्य कोर्सेज जैसेकि, फेब्रिकेशन टेक्निक्स – क्लिनिकल पर्सपेक्टिव और ओप-एमप प्रैक्टिकल एप्लीकेशन्स: डिज़ाइन, सिमुलेशन एंड इम्प्लीमेंटेशन भी करवा रहा है.

  • एप्लाइड नेचुरल लैंग्वेज प्रोसेसिंग

नेचुरल लैंग्वेज प्रोसेसिंग दरअसल आर्टिफिशल इंटेलिजेंस का महत्त्वपूर्ण क्षेत्र है जिसके तहत किसी भी मानवीय भाषा की प्रोसेसिंग और समझ के बारे में जानकारी दी जाती है. इस कोर्स के तहत स्टूडेंट्स को आर्टिफिशल न्यूरल नेटवर्क, डीप लर्निंग टेक्निक्स और प्रोबेबिलिस्टिक की भी अच्छी जानकारी और क्षमता हासिल होती है. इस कोर्स की अवधि 12 सप्ताह है और 20 जुलाई से आप यह कोर्स ज्वाइन कर सकते हैं.

  • केमिकल क्रिस्टलोग्राफी

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ़ साइंस एजुकेशन एंड रिसर्च, मोहाली आपके लिए यह 12 सप्ताह का ऑनलाइन इंजीनियरिंग कोर्स ऑफर कर रहा है. यह कोर्स भी आप 20 जुलाई, 2020 ज्वाइन कर सकते हैं. इस कोर्स के तहत आप एक्स-रे क्रिस्टलोग्राफी के कंपोनेंट्स के साथ एक्स-रे डिफ्रेक्शन के इस्तेमाल के द्वारा क्रिस्टल स्ट्रक्चर के स्ट्रक्चर डीटरमिनेशन और रिफाइनमेंट के बारे में सीखेंगे.

भारत में सॉफ्टवेयर इंजीनियर का करियर स्कोप

टॉप इंडियन इंस्टीट्यूट्स द्वारा ऑफर किये जाने वाले कुछ अन्य गैर-परंपरागत इंजीनियरिंग कोर्सेज

यहां पेश है कुछ अन्य गैर-परंपरागत इंजीनियरिंग कोर्सेज की एक लिस्ट जिन्हें आप भारत के टॉप इंस्टीट्यूट्स में एडमिशन लेकर कर सकते हैं जैसेकि: 

  • फोटोनिक्स इंजीनियरिंग
  • बायोटेक्नोलॉजी
  • नेवल आर्किटेक्चर एंड ओशन इंजीनियरिंग
  • एयरोनॉटिकल इंजीनियरिंग
  • बायोमेडिकल
  • माइनिंग इंजीनियरिंग
  • हाइड्रोलिक इंजीनियरिंग
  • इंजीनियरिंग फिजिक्स

न्यू इंडिया मिशन: माइनिंग इंजीनियरिंग का कोर्स और करियर स्कोप

जॉब, इंटरव्यू, करियर, कॉलेज, एजुकेशनल इंस्टीट्यूट्स, एकेडेमिक और पेशेवर कोर्सेज के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करने और लेटेस्ट आर्टिकल पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट www.jagranjosh.com पर विजिट कर सकते हैं.

Comment (0)

Post Comment

1 + 8 =
Post
Disclaimer: Comments will be moderated by Jagranjosh editorial team. Comments that are abusive, personal, incendiary or irrelevant will not be published. Please use a genuine email ID and provide your name, to avoid rejection.