Search

जानें UPSC IAS की इंटरव्यू प्रक्रिया में DAF कितना महत्वपूर्ण है

UPSC पर्सनल इंटरव्यू से पहले भरे जाने वाले DAF फॉर्म को submit की आखरी तारीख 27 जनवरी, 2020 है। पर्सनल इंटरव्यू के लिए इस फॉर्म में दी गयी हर जानकारी बेहद ज़रूरी है। जाने DAF से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण बाते और कैसे इंटरव्यू बोर्ड करता है इस इनफार्मेशन को यूज़। 

Jan 16, 2020 11:11 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon
UPSC DAF 2019
UPSC DAF 2019

 

अगर आप UPSC सिविल सेवा की तैयारी कर रहें हैं तो निश्चित है की आपने DAF के बारे में ज़रूर सुना होगा। UPSC सिविल सेवा परीक्षा के prelims qualified candidates को मेंस परीक्षा से पहले एक Detailed application Form यानी DAF भरना होता है। ये एक बहुत ही important document है जो कैंडिडेट के करियर से ले कर पोस्टिंग तक, सब कुछ डिफाइन करता है। DAF को 8 भागो में बांटा गया है और हर एक भाग को भरना कंपल्सरी होता है।

इंटरव्यू बोर्ड में DAF ही आपकी पहचान है

UPSC इंटरव्यू बोर्ड आपको आपके DAF के through ही पहचानता है इसीलिए जितने सटीक तरीके से आप अपना DAF fill करेंगे उतना ही interview आपके favour में होगा। जो भी इनफार्मेशन आप DAF में भरे वह सच और सही होनी ज़रूरी है। आपके DAF की कॉपी बोर्ड रूम में बैठे हर एक पैनेलिस्ट् के पास होगी। इंटरव्यू की शुरुआत generally पर्सनल questions से की जाती है जिसमे आपका इंट्रोडक्शन, आपका family background, hobbies इत्यादी के बारे में आपसे पूछा जाएगा। इसलिए ये ज़रूरी है की आप इन प्रश्नों पर घबराये नहीं और इमानदारी से जवाब दे। ये इंटरव्यू आपकी नॉलेज टेस्ट करने के लिए नहीं बल्कि आपकी alertness और Presence of mind के साथ साथ प्रेशर situations में आपकी decision-making capability को जानने के लिए लिया जाता है। 

अक्सर कैंडिडेट्स अपनी इंटरव्यू ड्रेस, अपना चलने का तरीका, अपनी इंग्लिश लैंग्वेज पर कमांड को ले कर चिंता में रहते है। जबकि इंटरव्यू में इन सब चीजों के मायने काफी कम है। आपकी इंटरव्यू ड्रेस presentable होनी चाहिए और बोलने के तरीके में शालीनता और कॉन्फिडेंस होना ज़रूरी है।

UPSC IAS Mains 2019 रिजल्ट जारी: जाने कैसे करें इंटरव्यू की तैयारी
 

इंट्रोडक्शन से होती है इंटरव्यू की शुरुआत

इंटरव्यू के शुरुआत की बात करे तो panelists कैंडिडेट को relax करने के लिए सबसे पहला सवाल उनके introduction से रिलेटेड ही करते है। अगर panelists “Tell us about yourself” या “introduce yourself” कहते है तो आप अपने इंट्रोडक्शन में आपका नाम, place of birth (यानि जन्म का स्थान), आपकी academic क्वालिफिकेशन, institutes के नाम और वर्क प्रोफाइल के बारे में बताएं। कुछ कैंडिडेट्स अपने interests और hobbies के बारे में भी इंट्रोडक्शन देते है हालाकि ये ऑप्शनल है। interview में आपसे आपके नाम का मतलब भी पूछा जा सकता है। आपके पर्सनल इंट्रोडक्शन से पैनल आपके सेल्फ कॉन्फिडेंस को चेक करता है वही साथ साथ आपकी अपने बारे में दी गयी जानकारी को भी verify करता है। 

अपने आप को introduce करने में घबराए नहीं और हर सवाल को अपने बारे में बताने का एक अवसर समझे। वहाँ मोजूद बोर्ड मेम्बर्स आपको आपके answers से नहीं बल्कि आपके आंसर देने की रीजनिंग और आपके beliefs के बेसिस पर judge  करते हैं।

DAF में दी पर्सनल इनफार्मेशन से पूछा जा सकता है सवाल

इसके अलावा आपके होम टाउन (यानि जन्म स्थान), होम स्टेट से रिलेटेड कोई भी प्रश्न पूछा जा सकता है। इसलिए इन टॉपिक्स को जियोग्राफी, हिस्ट्री, कल्चर और करंट इवेंट्स के बेसिस पर अच्छे से तैयार करे। होम स्टेट के साथ साथ neighbouring states के बारे में भी अच्छे से पढ़े। अगर आप एक से ज्यादा स्टेट्स में रहे है तो सभी स्टेट्स के बारे में जानकारी होना ज़रूरी है। इन  प्रश्नों से panelists ना सिर्फ आपकी awareness को चेक करते है बल्कि आपकी देश और उसके प्रति जागरूकता का भी टेस्ट लेते है। 

स्टेट इश्यूज से रिलेटेड अगर आपसे कोई सवाल पूछा जाये तो आपकी कोशिश यही होनी चाहिए की आप एक भारतीय नागरिक के रूप में balanced और impartial जवाब दे।

जैसे की अगर आप हरियाणा से belong करते है तो सतलज वाटर डिस्प्यूट जैसे सवाल पर आप ना सिर्फ हरियाणा की समस्याओ बल्कि पंजाब के point of view से भी इस टॉपिक को discuss करें। panelists आपसे एक न्यूट्रल जवाब की अपेक्षा रखते है इसीलिए आपको ये बात हर सवाल का उत्तर देते समय हमेशा ध्यान रखनी चाहिए। एक सिविल सर्वेंट को प्रदेश हित से हट कर राष्ट्र हित के बारे में सोच कर ही निर्णय लेना होता है इसीलिए panelists ऐसे सवाल करते है जो आपकी सामाजिक सोच को जानने में उनकी मदद करे।

 DAF में आपसे आपके माता पिता के बारे में भी पूछा जाता है। उनका जन्म स्थान, उनका profession इत्यादि। उदहारण के लिए यदि आपके माता या पिता बैंक में कार्यरत है तो पनेलिस्ट्स आपसे bank रिलेटेड questions भी पूछ सकते है। इससे वह आपकी अपने आस पास और आपसे जुड़े लोगो में रूचि और जिज्ञासा को जाचते है। इसीलिए आपको अपने पेरेंट्स के profession के बारे में भी जानकारी होनी चाहिए। 

DAF में अपनी hobbies की दें सही जानकारी

DAF में आपकी पर्सनल इनफार्मेशन के साथ साथ आपकी hobbies, extra-curricular एक्टिविटीज और स्पोर्ट्स पार्टिसिपेशन के लिए भी एक कॉलम दिया जाता है। इस कॉलम को भरते टाइम आपको ये ध्यान में रखना चाहिए की आप जो भी इनफार्मेशन यहाँ मेंशन करेगे उससे रिलेटेड सवाल पैनल मेम्बेर्स आपसे पूछ सकते है। उदहारण के लिए अगर आपने अपनी hobbies में रीडिंग मेंशन किया है तो यह एक vague (यानि अस्पष्ट) hobby है। रीडिंग में आपको ये मेंशन करना ज़रूरी है की आप क्या पढना पसंद करते है - नोवेल्स, फिक्शन, नॉन-फिक्शन. इसी के आधार पर panelist आपसे सवाल करते है। अगर आप फिक्शन मेंशन करते है तो हो सकता है वह आपसे आपकी कोई favourite फिक्शन या ऑथर का नाम पूछे। या उस ऑथर की अन्य बुक्स के बारे में या ऑथर की लाइफ से जुड़ा कोई प्रसिद्ध वाक्य भी पूछ सकते हैं। 

देश के सबसे युवा IPS अफसर बन कर 22 साल के हसन सफीन ने रचा इतिहास

DAF में दे सही और सटीक जानकारी

इसी तरह अगर आप कोई भी स्पोर्ट्स मेंशन करते हैं तो आपसे उस स्पोर्ट्स के रूल्स, उससे जुड़ी प्रसिद्ध हस्तियाँ और खेल से संभंधित प्रतियोगिताओ के बारे में भी पूछा जा सकता है। इसलिए इस बात का ध्यान रखना बेहद ज़रूरी है की आप जो कुछ भी DAF में मेंशन करे उसे अच्छे से prepare ज़रूर करे। पैनल में मोजूद सभी मेम्बेर्स सुशिक्षित और अनुभवी होते है इसलिए हर प्रश्न का जवाब स्पष्ट तरीके से दे और ब्लफ करने की कोशिश न करे। अगर आपको किसी भी प्रश्न का जवाब नहीं आता है तो आप इसे इमानदारी से पैनेलिस्ट को बता सकते है। आपके सही होने से ज्यादा आपका ईमानदार होना matter करता है। 

IAS इंटरव्यू में पूछे जाने वाले प्रश्नों का उद्देश्य एडमिनिस्ट्रेशन के लिए कैंडिडेट की उपयुक्तता यानि (suitability) चेक करना है। इस पर्सनल इंटरव्यू का motive आपसे सही जवाब लेना नहीं बल्कि प्रेशर सिचुएशन में आपकी मेंटल alertness और प्रजेंस ऑफ़ माइंड को चेक करना है। इसीलिए ये ज़रूरी है की आप हर सवाल का जवाब संयम और आत्मविश्वास से दे। question पूछे जाने के बाद कुछ सेकंड अपने जवाब को सोचे. ये आपको calm रह कर आपके थॉट्स recollect करने में मदद करेगा। किसी भी जवाब में carried away ना हो और अपना मेंटल बैलेंस बना कर रखे। 

10 महिला IAS/IPS Officers जिन्होंने समाज को सुधारने में बड़ा योगदान दिया

UPSC IAS Interview में पूछे गए Out of The Box Questions & Answers

 

Related Stories