ताज़े पानी या मीठे पानी के संसाधनों वाले विश्व के 10 देश

पृथ्वी पर पानी की कुल उपलब्ध मात्रा अथवा भण्डार को जलमण्डल (Hydrosphere) कहते हैं। इस जलमण्डल का 97.5% भाग समुद्रों में खारे जल के रूप में है और केवल 2.5% ही मीठा पानी है, उसका भी दो तिहाई हिस्सा हिमनद और ध्रुवीय क्षेत्रों में हिम चादरों और हिम टोपियों के रूप में जमा है। इस लेख में हमने संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम (United Nations Environment Programme) द्वारा दी गई रिपोर्ट के आधार पर ताज़े पानी या मीठे पानी के संसाधनों वाले विश्व के 10 देश पर चर्चा की है।
Dec 11, 2018 12:18 IST
    Top 10 Countries with Freshwater Resources HN

    पृथ्वी पर पानी की कुल उपलब्ध मात्रा अथवा भण्डार को जलमण्डल (Hydrosphere) कहते हैं। इस जलमण्डल का 97.5% भाग समुद्रों में खारे जल के रूप में है और केवल 2.5% ही मीठा पानी है, उसका भी दो तिहाई हिस्सा हिमनद और ध्रुवीय क्षेत्रों में हिम चादरों और हिम टोपियों के रूप में जमा है। शेष पिघला हुआ मीठा पानी मुख्यतः जल के रूप में पाया जाता है, जिस का केवल एक छोटा सा भाग भूमि के ऊपर धरातलीय जल के रूप में या हवा में वायुमण्डलीय जल के रूप में है।

    ताज़े पानी या मीठे पानी के संसाधनों वाले विश्व के 10 देश

    संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम (United Nations Environment Programme) द्वारा दी गई रिपोर्ट के आधार पर ताज़े पानी या मीठे पानी के संसाधनों वाले विश्व के 10 देश के नाम को सूचीबद्ध किया है जिस पर नीचे चर्चा की गयी है:

    1. ब्राजील

    ताजा पानी (घन किलोमीटर):  8,233

    यह विश्व का पहला देश जहाँ सबसे बड़ा ताजे पानी का भंडार है जो विश्व के ताजे पानी के संसाधनों का 12% है। ऐसा इसलिए है क्योंकि अमेज़ॅन क्षेत्र में कुल ताजे पानी का 70% हिस्सा यहीं है।

    2. रूस

    ताजा पानी (घन किलोमीटर):  4,508

    यह विश्व का दूसरा देश है जहाँ सबसे बड़ा ताजे पानी का भंडार है जो कि विश्व का 1/5वां हिस्सा है। 

    3. संयुक्त राज्य अमेरिका

    ताजा पानी (घन किलोमीटर):  3,069

    यह विश्व का तीसरा देश है जहाँ सबसे बड़ा ताजे पानी का भंडार है। 100 से अधिक झीलें हैं जिनमें सुपीरियर, ओन्टारियो, मिशिगन, और एरी यहाँ की प्रमुख ताजे पानी वाली झीलें हैं।

    जल पदचिह्न क्या है?

     4. कनाडा

    ताजा पानी (घन किलोमीटर):  2,902

    यह दुनिया का चौथा देश है जहाँ सबसे बड़ा ताजे पानी का भंडार है। ताजा पानी यहाँ की विभिन्न नदी प्रणालियों और झीलों में पाया जाता है।

    5. चीन

    ताजा पानी (घन किलोमीटर):  2,840

    यह दुनिया का पांचवां देश है जहाँ सबसे बड़ा ताजे पानी का भंडार है। जियांग्ज़ी प्रांत में स्थित पोयांग झील चीन में सबसे बड़ी ताजे पानी की झील है।

    6. कोलंबिया

    ताजा पानी (घन किलोमीटर):  2,132

    यह विश्व का छठा देश है जहाँ सबसे बड़ा ताजे पानी का भंडार है।

    विश्व की सबसे लंबी समुंद्री तटरेखा वाले देशों की सूची

    7. यूरोपीय संघ

    ताजा पानी (घन किलोमीटर):  2,057

    यूरोपीय आयोग के ब्रोशर के मुताबिक, यूरोप में वर्तमान जल की स्थिति का वर्णन इस प्रकार है: यूरोपीय संघ में सभी सतही जल 20% प्रदूषित है; ग्राउंड वॉटर यूरोप के सभी पेयजल के लगभग 65% की आपूर्ति करता है; 60% यूरोपीय शहर पानी का दोहन करते हैं; 50% भूजल "लुप्तप्राय स्थिति" में हैं; दक्षिणी यूरोप में सिंचित भूमि का क्षेत्र 1985 से 20% की बढ़ोतरी हुई है।

    विश्व के 10 सबसे बड़े फार्म स्थल कौन से हैं?

    8. इंडोनेशिया

    ताजा पानी (घन किलोमीटर):  2,019

    यह उन देशों में शुमार है जहाँ ताजे पानी का भंडार है, लेकिन हाल ही में ताजा पानी की आपूर्ति की समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है, खासकर जावा और सुमात्रा के द्वीपों पर जहां ताजे पानी की मांग सबसे अधिक है। यहाँ के जल संसाधनों का 98% उपयोग कृषि क्षेत्र में होती है।

    9. पेरू

    ताजा पानी (घन किलोमीटर):  1,913

    यह विश्व का नौवां देश है जहाँ 1,913 घन किलोमीटर के साथ सबसे बड़ा ताजे पानी का भंडार है।

    10. भारत

    ताजा पानी (घन किलोमीटर):  1,911

    भारत विश्व के केवल 2.5 प्रतिशत भूमि क्षेत्र के साथ विश्व में 16 प्रतिशत जनसंख्या में योगदान करता है तथा यहाँ 4 प्रतिशत ताजे पानी के संसाधन हैं।

    जाने पहाड़ी क्षेत्रों में हिमस्खलन होने के 9 कारण कौन से हैं?

    ताज़े पानी या मीठे पानी के संसाधनों वाले विश्व के 10 देश

    ताज़े पानी या मीठे पानी के संसाधनों वाले देश

    ताजा पानी (घन किलोमीटर)

    ब्राज़िल

    8,233

    रूस

    4,508

    संयुक्त राज्य अमेरिका

    3,069

    कनाडा

    2,902

    चीन

    2,840

    कोलम्बिया

    2,132

    यूरोपीय संघ

    2,057

    इंडोनेशिया

    2,019

    पेरू

    1,913

    इंडिया

    1,911

    जलवायु परिवर्तन मौसम और जल चक्र के बीच अभिन्न संबंधों के कारण विश्व के जल संसाधनों पर महत्वपूर्ण प्रभाव डाल रहा है। बढ़ते तापमान के रहते वाष्पीकरण में वृद्धि होगी और परिणामतः वर्षण में भी वृद्धि होगी, हालांकि वर्षा में क्षेत्रीय विवधिता में भी वृद्धि हो रही है और आगे भी होती रहेगी।

    विश्व की शीर्ष 10 सबसे लंबी नदियों की सूची

    Loading...

    Register to get FREE updates

      All Fields Mandatory
    • (Ex:9123456789)
    • Please Select Your Interest
    • Please specify

    • ajax-loader
    • A verifcation code has been sent to
      your mobile number

      Please enter the verification code below

    Loading...
    Loading...