Jagran Josh Logo

सीबीआई में सब– इंस्पेक्टर की जॉब प्रोफाइल,सेलरी और प्रोमोशन

Feb 4, 2016 17:34 IST
  • Read in English
Job Profile and Promotion Policy
Job Profile and Promotion Policy

प्रत्येक वर्ष कर्मचारी चयन आयोग (एसएससी) संयुक्त स्नातक स्तर (सीजीएल) परीक्षा के माध्यम से केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) में सब– इंस्पेक्टर के पदों पर उम्मीदवारों की भर्ती करता है। एसएससी सीजीएल परीक्षा के माध्यम से दिया जाने वाला यह सर्वोच्च पद है। सब– इंस्पेक्टर को अच्छा वेतन और समाज में सम्मान मिलता है। एसएससी सीजीएल की परीक्षा में प्रत्येक वर्ष लाखों उम्मीदवार शामिल होते हैं और बतौर सब– इंस्पेक्टर सीबीआई में नौकरी प्राप्त करने की कोशिश करते हैं। लेकिन बहुत कम ही उम्मीदवार होते हैं जिन्हें सफलता मिलती है। इस नौकरी में उम्मीदवारों को ज्यादातर काम कार्यालय से बाहर रह कर करना पड़ता है और इसलिए इसमें उत्साही युवाओं की आवश्यकता होती है। यह उम्मीदवारों के लिए एक अच्छा कार्य क्षेत्र और करिअर विकास का अवसर प्रदान करता है।

एसएससी सीजीएल के जरिए सीबीआई में भर्ती :  

सब– इंस्पेक्टर के रूप में  सीबीआई में शामिल होना कोई आसान काम नहीं है क्योंकि इसके लिए  उम्मीदवारों को कड़ी प्रतिस्पर्धा से गुजरना होता है और एसएससी सीजीएल की परीक्षा अच्छे अंकों से पास करनी पड़ती है। देश के युवा इस काम से जुड़ी चुनौतियों और रोमांच की वजह से इसकी तरफ आकर्षित होते हैं। इस पद से जुड़े सम्मान और शक्ति की वजह से अक्सर वे इस नौकरी को करने में दिलचस्पी दिखाते हैं। सीबीआई में बतौर एसआई नौकरी शुरु करने से पहले उन्हें प्रशिक्षण लेना होता है और समय के साथ उन्हें उंची रैंक और स्तर पर पहुंचने के कई अवसर मिलते हैं। उन्हें फिल्ड में रिपोर्ट करनी होती है और देश में मौजूद अपराध के खिलाफ जंग के लिए जबरदस्त साहस और इच्छा दिखानी होती है। उम्मीदावरों को शारीरिक तौर पर फिट होने की जरूरत है और एसएससी सीजीएल परीक्षा के लिए आवेदन करने से पहले उन्हें विभाग द्वारा निर्धारित मानदंड़ों को वे पूरा करते हैं या नहीं  यह सुनिश्चित करना होता है। परीक्षा में सफल होने के बाद, उम्मीदवारों को 32 सप्ताह का गहन प्रशिक्षण करना होता है जहां उन्हें शारीरिक फिटनेस के साथ– साथ कई प्रकार के भ्रष्टाचार और भ्रष्टाचार उन्मूलन कानूनों के बारे में बताया जाता है, ताकि वे अपनी क्षमताएं साबित कर सकें।

सीबीआई इंस्पेक्टर की सेलरी

सीबीआई के एसआई को 4600 रु. के वेतनमान के साथ 9600- 34800/ रु. का वेतन मिलता है। यह अन्य सरकारी विभागों और मंत्रालयों के ग्रेड बी अधिकारियों के समकक्ष है।



Salary Components


Deductions


Grade Pay

City

Basic

TA

DA

HRA

DA on TA

Gross Salary

GPF (NPS)

CGEGIS

CGHS

Net Salary

4200

X

35400

3600

35400*0.24 = 8496

47496

3540

2500

225

41231

4200

Y

35400

1800

35400*0.16 = 5664

42864

3540

2500

225

36599

4200

Z

35400

1800

35400*0.80 = 2832

40032

3540

2500

225

33767

आज के समय में सीबीआई द्वारा जांच किए जाने वाले अपराध के प्रकार :

सीबीआई एक विशेषज्ञ एजेंसी है जो केंद्र सरकार के नियंत्रण वाले लोक सेवकों द्वारा किए गए भ्रष्टाचार से संबंधित अपराधों, गंभीर आर्थिक अपराध एवं धोखाधड़ी और अंतर– राज्यीय / अखिल भारतीय स्तर पर किए गए सनसनीखेज अपराधों की जांच करती है। सीबीआई सामान्य और नियमित प्रकृति वाले अपराधों की जांच नहीं करती क्योंकि ऐसे अपराधों की जांच के लिए राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों की पुलिस बनाई गई है। सीबीआई मुख्य रूप से तीन प्रकार के मामलों की जांच करती है और अपराध की जांच के लिए इसमें निम्नलिखित तीन डिवीजन हैं–

भ्रष्टाचार–रोधी डिवीजनः भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम, 1988 के तहत सराकरी अधिकारियों और केंद्र सरकार के कर्मचारियों, सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों, भारत सरकार के स्वामित्व वाले या नियंत्रण के अधीन आने वाले निगम या निकायों के खिलाफ जांच का काम यह डिवीजन करता है। यह सबसे बड़ा डिवीजन है और भारत के लगभग प्रत्येक राज्य में इसकी शाखा है।

आर्थिक अपराध डिवीजनः यह डिवीजन प्रमुख वित्तीय घोटालों और गंभीर वित्तीय धोखाधड़ियों जिसमें भारत के जाली नोट, बैंकों की धोखाधड़ी और साइबर अपराध भी शामिल है, से संबंधित अपराधों की जांच करता है।

विशेष अपराध डिवीजनः यह राज्य सरकारों के अनुरोध या सुप्रीम कोर्ट या उच्च न्यायालयों के आदेश पर भारतीय दंड संहिता और अन्य कानूने के दायरे में आने वाले गंभीर, सनसनीखेज और संगठित अपराध की जांच करता है।

सीबीआई में एसआई के पद के फायदे और नुकसान

सीबीआई में एसआई के पद से कई फायदे और नुकासन जुड़े हुए हैं। सीबीआई में जाने की इच्छा रखने वाले उम्मीदवारों को इसके फायदे और नुकासन दोनों को ही बहुत अच्छी तरह से समझना होगा ताकि बाद में उन्हें अपने फैसले पर पछतावा न करना पड़े। सीबीआई का एसआई पद आपको किसी भी डेस्क पर नियमित 9 से 5 की नौकरी नहीं देता, क्योंकि इसमें ज्यादातर समय दफ्तर से बाहर रहना पड़ता है औऱ काम करने का समय निर्धारित नहीं है। काम बेहद तनावपूर्ण हो सकता है और इससे आपके स्वास्थ्य पर बुरा असर भी पड़ सकता है। कुछ मामलों में बहुत यात्राएं भी करनी पड़ सकती हैं। सब इंस्पेक्टरों को कुछ खतरनाक स्थानों और परिस्थितियों में भी काम करना पड़ता है जहां उन्हें अपने दिमाग से स्थितियों का सामना करने की जरूरत होती है। पद की तमाम चुनौतियों के साथ यह युवा एवं उत्साही उम्मीदवारों के लिए अच्छा करिअर विकल्प देता है। यह बोरियत भरा ऑफिस का काम नहीं देता और नियमित फील्ड वर्क एवं कार्यस्थल पर रोमांच से युवाओं की इसमें रुचि बनी रहती है।

सीबीआई में प्रोमोशन नीति

सीबीआई में सब– इंस्पेक्टर के तौर पर शामिल होने वाले उम्मीदवारों के पास अपनी नौकरी के पांच वर्षों के भीतर ही उच्च पदों पर पदोन्नति प्राप्त करने के बहुत अच्छे अवसर मिलते हैं। 32 सप्ताह का प्रशिक्षण पूरा करने के बाद उम्मीदवार विभाग के अलग– अलग मामलों में नियुक्त किए जाने के पात्र हो जाते हैं और अच्छा काम करने पर पांच वर्ष से कम समय में ही वे इंस्पेक्ट पद पर पदोन्नत किए जा सकते हैं। नौकरी के 10- 12 वर्षों के बाद उम्मीदवार उप–अधिक्षक और फिर अधिक्षक के पद पर पहुंच सकते हैं। सेवानिवृत्ति के आस– पास उम्मीदवार विभाग  में वरिष्ठ अधिक्षक और उससे भी उंचे पद पर जा  सकते हैं और विभाग के प्रमुख पद से सेवानिवृत्त हो सकते हैं।

वरिष्ठ अधीक्षक

अधीक्षक


अतिरिक्त अधीक्षक

उप अधीक्षक

इंस्पेक्टर

सब इंस्पेक्टर

Commented

    Latest Videos

    Register to get FREE updates

      All Fields Mandatory
    • (Ex:9123456789)
    • Please Select Your Interest
    • Please specify

    • By clicking on Submit button, you agree to our terms of use
      ajax-loader
    • A verifcation code has been sent to
      your mobile number

      Please enter the verification code below

    Newsletter Signup
    Follow us on
    X

    Register to view Complete PDF