1. Home
  2. |  
  3. एमबीए|  

एमबीए : भारत के टॉप 10 सीईओ

Nov 5, 2018 12:55 IST
  • Read in English
Inspiring stories of Top 10 Indian CEOs
Inspiring stories of Top 10 Indian CEOs

भारत में कुछ ऐसे टॉप प्रोफेशनल पर्सनालिटीज हैं जिनमें अंतरराष्ट्रीय मंच पर वैश्विक नेताओं के साथ प्रतिस्पर्धा करने की अपार क्षमता है . नीचे भारत के कुछ टॉप सीईओ की लिस्ट दी गयी है जिन्होंने अपने प्रयासों तथा प्रोफेशनल स्किल्स के जरिये अपनी कंपनियों को बहुत ऊंचाई पर ले जाने के साथ साथ उनके रेवेन्यू में भी वृद्धि की है.

राजीव बजाज, मैनेजिंग डायरेक्टर, बजाज ऑटो -

ये इंडस्ट्री में एक उभरते हुए लीडर हैं. इन्होंने यूके यूनिवर्सिटी से मैकेनिक्स में ग्रेजुएशन किया है. जीवन में आने वाली मुसीबतों से हारना इनकी आदत नहीं. वे हमेशा कंपनी में आने वाली किसी भी मुसीबत तथा परेशानी का डंटकर मुकाबला करते हैं तथा उनका सही समाधान तलाशते हैं. उन्हें इंडिया ऑफ द ईयर तथा एनडीटीवी द्वारा बिजनेस लीडर ऑफ द ईयर तथा अन्य पुरस्कारों से नवाजा गया है.

नटराजन चंद्रशेखर, मैनेजिंग डायरेक्टर और सीईओ, टाटा कंसल्टेंसी सर्विस-

नटराजन चंद्रशेखर एक रीजनल कॉलेज से कम्प्यूटर अप्लिकेशन में पोस्टग्रेजुएट हैं. अपने प्रयास से कंपनी की पहचान तथा उसके रेवेन्यू दोनों ही मामलों में उसे बहुत ऊंचाई पर ले गए. बेस्ट सीईओ ऑफ द ईयर, आउट स्टैंडिंग लीडर ऑफ द ईयर आदि कई अवार्ड्स इन्हें मिले हैं.

नितिन परांजपे, मैनेजिंग डायरेक्टर और सीईओ, हिंदुस्तान यूनिलीवर-

परांजपे ने अपनी ग्रेजुएट डिगी मैकेनिक्स में की है तथा इन्होंने जेबीआईएमएस, मुंबई से एमबीए किया है. वर्ष 20 12 में फोर्ब्स मैगजीन द्वारा उन्हें भारत का बेस्ट सीईओ का पुरस्कार प्रदान किया गया.कंपनी को प्रॉफिट की स्थिति में ले जाने वाले लोगों में से एक हैं. अपने टारगेट पर फोकस करना तथा उसे प्राप्त करने की दिशा में ही प्रयास करना इनकी मुख्य क्वालिटी है.

दिलीप एस संघवी, मैनेजिंग डायरेक्टर, सन फार्मा-

दिलीप एस संघवी को वर्ल्ड इन्टरप्रेन्योर ऑफ द ईयर,बिजनेस मैन ऑफ द ईयर, बेस्ट इंडियन ऑफ द ईयर,जेआरडी टाटा कॉर्पोरेट लीडरशिप अवार्ड तथा अन्य पुरस्कारों से सम्मानित किया गया है. संघवी एशिया के सबसे अमीर सेल्फ मेड अरबपतियों में से एक हैं. वे अपनी लीडरशिप क्वालिटी तथा प्रोफेशनल स्किल्स के बल बूते ही यह मकाम हासिल कर पाएं हैं.

रेणु सुद कर्नाड, मैनेजिंग डायरेक्टर, एचडीएफसी-

अद्वितीय सूझ बुझ वाली एक जुझारू महिला हैं रेणु सुद कर्नाड. उनके नेतृत्व में एचडीएफसी ने बहुत ग्रोथ किया है तथा इसके द्वारा लोन दी जाने वाली राशि अब ट्रिलियन तक पहुँच चुकी है. वो महिलाओं को अपना रास्ता खुद अख्तियार करने की प्रेरणा तथा किसी भी कार्य को जुनून के साथ करने का सन्देश देती हैं. वे लगभग छः वर्षों तक 25 सबसे प्रभावशाली महिलाओं में स्थान पाती रही हैं. वह एक उत्कृष्ट फिमेल महिला लीडर हैं.

फ्रांसिस्को डी'सुजा - सीईओ, कॉग्निजेंट टेक्नोलॉजी सॉल्यूशंस-

इन्होने अपनी दूर दृष्टि तथा अपने प्रोफेशनल स्किल्स के जरिये कंपनी को बहुत ऊंचाई तक ले जाने का कार्य किया है. इनके नेतृत्व में वर्ष 2010 और 2012 में कंपनी ने अपने टारगेट से ज्यादा रेवेन्यू बढ़ाया. इन्हें फोर्ब्स द्वारा बेस्ट सीईओ मल्टीनेशनल का सम्मान दिया गया है.

सुनील दुग्गल, सीईओ, डाबर-

इन्हें भारत के बेस्ट सीईओ,एशिया के टॉप परफॉमिंग सीईओ और अन्य प्रतिष्ठित पुरस्कारों से नवाजा गया है. ये अपने लीडरशिप क्वालिटी तथा प्रोफेशनल स्किल्स के लिए विख्यात हैं. इनके कार्यकाल में कंपनी एक्सीलेंट कार्य कर रही है तथा ग्रोथ की संभावना बेहतर है.

राकेश टंडन - चेयरमैन एवं मैनेजिंग डायरेक्टर, आईआरसीटीसी-

राकेश टंडन पब्लिक सेक्टर के बेस्ट सीईओ हैं. टंडन ने बहुत सारे कार्पोरेट में हेड के रूप में कार्य किया है तथा जहाँ भी उन्होंने कार्य किया उस कंपनी के लिए सर्वथा उत्कृष्ट कार्य किया है. टंडन का मुख्य फोकस साफ सफाई एवं स्वच्छता पर होता है. आईआरसीटीसी के चेयरमैन के रूप में इन्होंने स्वच्छता पर विशेष जोर दिया है और आईआरसीटीसी की सेवाओं में बहुत सुधार लाया है.

आनंद महिंद्रा - संस्थापक एवं मैनेजिंग डायरेक्टर, एमएंडएम -

हार्वर्ड बिजनेस स्कूल से समा कम लाउड स्कॉलरशिप प्राप्त करने वाले आनंद महिंद्रा ने ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री को सफलता के शिखर तक पहुँचाने के लिए सफल प्रयास किया है. इन्हें इंटरप्रेन्योर ऑफ द ईयर, बिजनेस लीडर ऑफ द ईयर तथा लाइफ टाइम अचीवमेंट आदि कई पुरस्कारों से सम्मानित किया गया है. अपने कोर बिजनेस स्ट्रेटेजी  पर फोकस करना तथा अपने टारगेट को पूरा करने के लिए हमेशा प्रयत्नशील रहना इनकी विशेषता है.

भारती मित्तल- एयरटेल इंटरप्राइजेज  -

मित्तल को सर्वश्रेष्ठ भारतीय नागरिक पुरस्कार पद्म भूषण पुरस्कार से सम्मानित किया गया है. इसके अतिरिक्त इन्हें ग्लोबल इकोनोमी प्राइज तथा फिलेंनथ्रोफिस्ट ऑफ द ईयर आदि पुरस्कारों से भी नवाजा गया है.मित्तल ने अपने उद्यमशीलता कौशल (इंटरप्रेन्योरियल स्किल्स) से कंपनी को इंडस्ट्री में टॉप स्थान पर पहुंचाने में सफलता अर्जित की है.

DISCLAIMER: JPL and its affiliates shall have no liability for any views, thoughts and comments expressed on this article.

Latest Videos

Register to get FREE updates

    All Fields Mandatory
  • (Ex:9123456789)
  • Please Select Your Interest
  • Please specify

  • ajax-loader
  • A verifcation code has been sent to
    your mobile number

    Please enter the verification code below

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK
X

Register to view Complete PDF