Search

बी.कॉम स्टूडेंट्स के लिए टॉप 10 करियर ऑप्शंस

एक उत्कृष्ट रोजगार प्राप्त करने की दिशा में कॉमर्स को हमेशा से सर्वश्रेष्ठ शैक्षणिक धाराओं में से एक माना जाता रहा है.

Feb 6, 2019 18:19 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon
बी.कॉम स्टूडेंट्स के लिए टॉप 10 करियर ऑप्शंस
बी.कॉम स्टूडेंट्स के लिए टॉप 10 करियर ऑप्शंस

एक उत्कृष्ट रोजगार प्राप्त करने की दिशा में कॉमर्स को हमेशा से सर्वश्रेष्ठ शैक्षणिक धाराओं में से एक माना जाता रहा है. अधिकांश बी.कॉम ग्रेजुएट्स सीए,सीएस तथा कॉमर्स से जुड़े अन्य सब्जेक्ट्स या फील्ड का चयन करते हुए उसी में अपना आकर्षक करियर बनाते हैं.लेकिन अन्य स्टूडेंट्स जो स्वेच्छा से इन विषयों का चयन नहीं करना चाहते या फिर किसी कारणवश इन कोर्सेज में एडमिशन नहीं ले पाते हैं उन्हें अपने रोजगार को लेकर बहुत ज्यादा चिंतित होने की जरुरत नहीं है. ऐसे स्टूडेंट्स के लिए भी बी.कॉम करने के बाद रोजगार के कई सुनहरे अवसर उपलब्ध हैं. ऐसे स्टूडेंट्स इनमें से किसी का भी अपनी आर्थिक स्थिति तथा इच्छा के अनुसार चयन कर सकते हैं. बी.कॉम की डिग्री प्राप्त करने वाले ऐसे स्टूडेंट्स की सुविधा के लिए हमने टॉप 10 रोजगार के अवसरों की सूची नीचे प्रस्तुत की है. इनकी मदद से छात्र अपने प्रोफेशनल करियर तथा आकर्षक फ्यूचर की दिशा में अपना पहला कदम रख सकते हैं -

एकाउंटेंट

बी.कॉम की डिग्री प्राप्त करने के बाद बी.कॉम ग्रेजुएट्स के लिए सबसे आदर्श और तत्काल उपलब्ध रोजगार अवसर विकल्पों में से एक है, एकाउंटेंट की जॉब.प्रत्येक इंडस्ट्री तथा बिजनेस में एकाउंटेंट की आवश्यकता होती ही है. इसलिए, बी.कॉम ग्रेजुएट्स के लिए नौकरियों की कोई कमी नहीं है.यहां तक ​​कि हाल ही में स्टार्ट-अप्स जैसी छोटी कंपनियों को भी अपनी कंपनी के लाभ और हानि आदि के बैलेंस शीट पर नजर रखने के लिए एक एकाउंटेंट की जरुरत तो पड़ती ही है. अगर इनकी सैलरी की बात की जाय तो बी.कॉम ग्रेजुएट्स को शुरू में मध्यम वेतन का ऑफर किया जाता है लेकिन आगे चलकर अनुभव और ज्ञान के आधार पर उसमें बहुत अधिक बढ़ोत्तरी हो सकती है. इतना ही नहीं बी.कॉम ग्रेजुएट्स अपनी इनकम और ज्यादा करने के लिए कई कंपनियों के लिए एक साथ स्वतंत्र आधार पर भी काम कर सकते हैं.

टैक्स कंसल्टेंट्स

टैक्सेशन एक ऐसा क्षेत्र है जो हर किसी को प्रभावित करता है, चाहे वह एक बहुराष्ट्रीय कंपनी हो, एक छोटा सा बिजनेस हाउस या व्यक्ति विशेष. लोगों के पास समय की कमी तथा टैक्स की बढ़ती जटिलताओं के कारण बी.कॉम ग्रेजुएट्स के लिए टैक्स कंसल्टेंट की जॉब एक आकर्षक जॉब बन चुकी है.बी.कॉम ग्रेजुएट्स अपनी ग्रेजुएशन के दौरान ही सरकारी कराधान नीतियों की मूल बातें से भलीभांति परिचित होते हैं इसलिए टैक्सेशन कंसल्टेंट का काम उनके लिए बिलकुल उपयुक्त होता है. एकाउंटेंट की ही भांति टैक्सेशन कंसल्टेंट भी अपनी नौकरी मूल वेतन पे बैंड पर शुरू करते हैं लेकिन अनुभव और ज्ञान के आधार पर इनमें निरंतर वृद्धि होती चली जाती है.टैक्सेशन कंसल्टेंट के पास स्वतंत्र सलाहकार के रूप में काम करने या भविष्य में अपनी खुद की फर्म स्थापित करने का विकल्प भी मौजूद होता है.

बैंकर

एक और फील्ड है बैंकिंग जो कॉमर्स और फायनांस से सीधे सीधे जुड़ा हुआ है. पब्लिक सेक्टर्स के अधिकांश बैंक ओपन कॉम्पिटिशन के माध्याम से लोगों की भर्ती करते हैं. इन बैंकों की परीक्षाओं में उम्मीदवारों की संख्यात्मक, मात्रात्मक और तार्किक तर्क क्षमता का परीक्षण किया जाता है. बी.कॉम ग्रेजुएट्स द्वारा आम तौर पर इन परीक्षाओं को क्रैक करना बहुत आसान होता है. यदि उम्मीदवार इन बैंकों की परीक्षाओं में बैठना नहीं चाहते हैं तो बहुत सारे ऐसे प्राइवेट बैंक भी हैं जो अपने स्ट्रक्चर के अनुरूप एंट्री लेवल के पदों पर बी.कॉम ग्रेजुएट्स की भर्ती करते हैं. सार्वजनिक और निजी दोनों ही  क्षेत्र के बैंकों में  सैलरी और प्रोमोशन पॉलिसी काफी व्यापक है.इसलिए इस क्षेत्र में बी.कॉम ग्रेजुएट्स के लिए रोजगार की व्यापक संभावना है.

ऑडिटर

किसी कंपनी या ऑर्गनाइजेशन के फायनेंसियल स्ट्रक्चर के अंतर्गत फायनेंसियल ऑडिटर्स एक महत्वपूर्ण पोजीशन होता है. ऑडिटर्स किसी कंपनी या ऑर्गनाइजेशन के फायनेंसियल स्टेटमेंट और एकाउंटिंग लेजर की देखभाल करता है. यह पोजीशन एकाउंटेंट से हायर पोजीशन होता है इसलिए इनकी सैलरी तथा इन्हें मिलने वाले भत्ते आकर्षक तथा एकाउंटेंट से बेहतर होते हैं.

स्टॉक ब्रोकर

बी.कॉम कम्प्लीट करने के बाद कॉमर्स ग्रेजुएट्स के लिए एक और बहुत ही दिलचस्प करियर विकल्प है स्टॉक ब्रोकर का. जिन छात्रों को स्टॉक मैनेजमेंट, इन्वेस्टमेंट, शेयर मार्केट, फायनांस, अर्थव्यवस्था, गणित और अन्य संबंधित विषयों में गहरी रुचि है, वे स्टॉक ब्रोकिंग में एक शॉर्ट टर्म सर्टिफिकेट प्रोग्राम करके इस प्रोफेशन में शामिल हो सकते हैं. चूँकि बी.कॉम ग्रेजुएट्स को बी.कॉम के सिलेबस के अंतर्गत शेयर मार्केट के विषय में व्यापक रूप से पढ़ाया जाता है. इसलिए इस फील्ड में काम करते समय उन्हें किसी तरह की परेशानी का सामना नहीं करना पड़ता है और वे स्वाभाविक रूप से इस काम को एंज्वाय करते हैं.

फायनांस कंसल्टेंट

कॉमर्स ग्रेजुएट्स के लिए फायनांस कंसल्टेंट का कार्य भी एक आकर्षक करियर विकल्प है.फायनांस कंसल्टेंट विभिन्न क्षेत्रों जैसे कि सेविंग बैंक, रिटायरमेंट प्लान्स, स्टॉक पोर्टफोलियो प्लानिंग तथा इन्वेस्टमेंट आदि कार्यों में निवेश के लिए सही सुझाव देते हैं. इनका मुख्य कार्य व्यक्तियों और संस्थाओं को अपनी भविष्य की प्लानिंग करने में उनकी मदद करना है.आजकल भारत में कुल आय में वृद्धि और लोगों की बचत क्षमता में वृद्धि के कारण यह करियर विकल्प बी.कॉम ग्रेजुएट्स के बीच लोकप्रिय होता जा रहा है.

इंश्योरेंस कंसल्टेंट

इंश्योरेंस कंसल्टेंट का प्रोफाइल फायनांस कंसल्टेंट से मिलता जुलता है. इंश्योरेंस कंसल्टेंट किसी भी आकस्मिक अप्रिय घटना के लिए व्यक्तियों और संस्थाओं के लिए योजना बनाते हैं तथा ऐसी स्थितियों से निबटने के लिए फायनेंसियल बैकअप तथा आकस्मिक धनराशि जुटाने के लिए कुछ विशेष नीतियों के बारे में बताते हैं. इंश्योरेंस कंसल्टेंट को बीमा एजेंसियों द्वारा अच्छी सैलरी पर हायर किया जाता है. इसके अतिरिक्त इस प्रोफेशन में कमीशन,पुरस्कार तथा अन्य भत्ते भी मिलते हैं.

एक्सपोर्ट इम्पोर्ट मैनेजर

बी.कॉम ग्रेजुएट्स को बी.कॉम की स्टडी के दौरान इम्पोर्ट एक्सपोर्ट से जुडी एग्जिम पॉलिसी के बारे में व्यापक रूप से पढ़ाया जाता है तथा ट्रेंड किया जाता है.कोई भी कंपनी जो वस्तुओं / सेवाओं के निर्यात और आयात का सौदा करती है, को एक एक्जिम डॉक्यूमेंटेशन, टैक्सेशन और एकाउंटिंग विशेषज्ञ की आवश्यकता होती है. ऐसे बी.कॉम स्टूडेंट्स जो एग्जिम पॉलिसी की सही जानकारी रखते हैं उनके लिए यह फील्ड बहुत ही रोमांचक है. प्रारंभिक अवस्था में वे इम्पोर्ट एक्सपोर्ट से जुडी कंपनी में एंट्री लेवल के पदों पर ज्वाइन कर सकते हैं या फिर इस फील्ड में और अधिक स्किल्ड होने के लिए स्पेशलाइजेशन के साथ सर्टिफिकेट कोर्स या डिप्लोमा कोर्स का चयन कर सकते हैं.इम्पोर्ट-एक्सपोर्ट मैनेजर की सैलरी बहुत अच्छी होती है. ये मल्टीनेशनल कम्पनीज, लार्ज बिजनेस हाउसेज और विदेशी ट्रेड बिजनेस आदि में काम करते हैं.

गवर्नमेंट जॉब्स

बी.कॉम ग्रेजुएट्स के पास राष्ट्रीय स्तर की सरकार भर्ती एजेंसियों जैसे यूपीएससी या एसएससी तथा विभिन्न राज्य लोक सेवा आयोगों द्वारा घोषित विभिन्न प्रवेश परीक्षाओं के माध्यम से सरकारी नौकरी प्राप्त करने का सुनहरा मौका भी होता है.आईआरएस, सीबीडीटी, कॉमर्स मिनिस्ट्री और फायनांस मिनिस्ट्री जैसे सरकारी बुनियादी ढांचे के भीतर कई नौकरियां उन पहलुओं पर केंद्रित हैं जिनके लिए व्यापार और वित्त की अवधारणाओं की गहन समझ की आवश्यकता होती है. इसलिए, ऐसी नौकरियां बी.कॉम ग्रेजुएट्स के लिए आदर्श नौकरियां होती हैं.जहां तक ​​वेतन का सवाल है, तो  सरकारी नौकरियों को हमेशा उनके उत्कृष्ट वेतन और यहां तक ​​कि बेहतर भत्तों के साथ-साथ उनके साथ जुड़ी सामाजिक स्थिति के लिए जाना जाता है और इसीलिए आज भी हमारे समाज में सरकारी नौकरी के प्रति लोगों का क्रेज है. इसके अलावा, हाल ही में घोषित 7 वें वेतन आयोग ने फिर से सभी केंद्र सरकार की नौकरियों में बढ़ोतरी की घोषणा की है, जिससे उन्हें अधिक आकर्षक करियर के अवसर मिलेंगे.

इंटरप्रेन्योर

बी.कॉम ग्रेजुएट्स पहले से ही एकाउंट्स, टैक्स,मार्केटिंग,फायनांस और इंश्योरेंस के बारे में पूर्ण जानकारी रखते हैं.इसके अतिरिक्त, वे कंपनी अधिनियम, वित्तीय अवधारणाओं और बुनियादी प्रबंधन सिद्धांतों का भी विस्तार से अध्ययन करते हैं. इन सभी पहलुओं के संयोजन से बी.कॉम ग्रेजुएट्स एक छोटे स्तर की व्यावसायिक इकाई की स्थापना के लिए एक आदर्श उम्मीदवार साबित हो सकते हैं.जो छात्र अपना खुद का व्यवसाय शुरू करने या परिवार के बिजनेस में शामिल होने या मैनेज करने के इच्छुक हैं, उन्हें बी.कॉम को एक आदर्श शैक्षणिक कार्यक्रम के रूप में देखना चाहिए. इससे वे भविष्य में अपने आप को इंटरप्रेन्योर के रूप में देख सकते हैं.

ये सभी बी.कॉम ग्रेजुएट्स के लिए कुछ टॉप प्रोफेशनल करियर विकल्प हैं. इसके अतिरिक्त पत्रकारिता, होटल मैनेजमेंट, मार्केट रिसर्च, इकोनोमिस्ट, एडमिनिस्ट्रेटिव जॉब्स, वकील, ट्रैवल एजेंट, इवेंट मैनेजमेंट जैसे कई विकल्प हैं जिनमें से किसी एक चयन कर वे एक बेहतर करियर तथा सुनहरे भविष्य के सपने को साकार कर सकते हैं.

Related Stories