Search

UPSC CSE 2019: पेंडिंग अदालती मामलों के अंतिम फैसले के बाद जारी किए जाएंगे उम्मीदवारों के अंक

UPSC ने 4 अगस्त को सिविल सेवा 2019 की परीक्षा के अंतिम परिणाम घोषित किए थे। आयोग परीक्षा में सफल और असफल हुए उम्मीदवारों के अंको की  लंबित अदालती मामलों के अंतिम परिणाम के बाद ही जारी करेगा। पढ़ें पूरी जानकारी

Sep 8, 2020 17:16 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon
UPSC CSE 2019: पेंडिंग अदालती मामलों के अंतिम फैसले के बाद  जारी किए जाएंगे उम्मीदवारों के अंक
UPSC CSE 2019: पेंडिंग अदालती मामलों के अंतिम फैसले के बाद जारी किए जाएंगे उम्मीदवारों के अंक

संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) लंबित अदालती मामलों के अंतिम परिणाम के बाद ही सिविल सेवा 2019 उम्मीदवारों के अंक जारी करेगा। इससे पहले यह अंक 7 सितम्बर को जारी किये जाने थे हालांकि आयोग ने अब यह साफ़ किया है की पेंडिंग कोर्ट केस के बाद ही अंकों की सूची जारी की जाएगी। इससे पहले, मार्कशीट 19 अगस्त को जारी होने की उम्मीद थी क्योंकि 4 अगस्त को जारी किये UPSC ने CSE 2019 के परिणाम पीडीएफ में कहा था, "मार्क्स परिणाम घोषित होने की तारीख से 15 दिनों के भीतर वेबसाइट पर उपलब्ध होंगे।" हालांकि अब आयोग ने नोटिफिकेशन जारी कर मार्कशीट उपलब्ध होने की तारीख पर स्पष्टीकरण दिया है। 

UPSC सिविल सेवा परीक्षा 2019: जानें 5 टॉपर्स की सफलता की कहानी

4 अगस्त को जारी हुआ था UPSC सिविल सेवा 2019 का परिणाम 

UPSC ने 4 अगस्त को CSE 2019 के अंतिम परिणाम घोषित किए थे। इस साल भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS), भारतीय पुलिस सेवा (IPS), भारतीय विदेश सेवा (IFS) और भारतीय राजस्व सेवा (IRS) एवं अन्य में नियुक्ति के लिए 829 उम्मीदवारों को शॉर्टलिस्ट किया गया है। 

प्रदीप सिंह ने सिविल सेवा परीक्षा 2019 में टॉप किया, जबकि दूसरी और तीसरी रैंक जतिन किशोर और प्रतिभा वर्मा ने हासिल की। कुल शॉर्टलिस्ट किए गए उम्मीदवारों में से 304 सामान्य वर्ग, 78 आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (EWS), 251 अन्य पिछड़ा वर्ग (OBC), 129 अनुसूचित जाति और 67 अनुसूचित जनजाति से संबंधित थे। इस साल IAS के 180, IFS के 24, IPS के 150 पद खाली थे। इसके अलावा, केंद्रीय सेवा समूह ए में 438 और समूह बी सेवाओं में 135 वेकन्सी थीं।

UPSC सिविल सेवा 2019 परीक्षा हिंदी मीडियम से दे कर ऋचा रत्नम ने हासिल की 274वीं रैंक: जानें उनकी Success Story

4 अक्टूबर को होगी UPSC सिविल सेवा 2020 की परीक्षा 

UPSC ने 4 अक्टूबर को CSE (प्रीलिम्स) 2020 की तारीख निर्धारित की है। CSE परीक्षा तीन चरणों में आयोजित की जाती है - प्रीलिम्स, मेन्स और इंटरव्यू। जो प्रीलिम्स क्वालिफाई करते हैं उन्हें मेन के लिए उपस्थित होना पड़ता है। जिन अभ्यर्थियों को मुख्य परीक्षा में शॉर्टलिस्ट किया जाता है उन्हें साक्षात्कार या व्यक्तित्व परीक्षण के लिए बुलाया जाता है। साक्षात्कार के बाद अंतिम मेरिट सूची जारी की जाती है।

Positive India: जन्म से नेत्रहीन बाला नागेन्द्रन ने 9वें एटेम्पट में UPSC क्लियर कर हासिल की 659वीं रैंक

Related Stories