उत्तर प्रदेश में कृषि विकास: परीक्षापयोगी तथ्य

उत्तर प्रदेश की अर्थव्यवस्था में कृषि को इसका मेरुदंड कहा जाता है. देश के कुल खाद्यान्न उत्पादन में उत्तर प्रदेश का स्थान प्रथम है. प्रदेश में कुल रोजगार का 59% कृषि क्षेत्र से मिलता है. वित्त वर्ष 2016 वर्तमान मूल्य पर प्रदेश में प्रति व्यक्ति आय 54,658 रुपये थी. इस लेख में उत्तर प्रदेश के कृषि विकास से सम्बंधित मुख्य तथ्यों को बताया गया है. ये सभी तथ्य आगामी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए बहुत जरूरी हैं.
Jul 31, 2018 12:54 IST
    Agriculture: Uttar Pradesh

    उत्तर प्रदेश की अर्थव्यवस्था में कृषि को इसका मेरुदंड (spinal cord) कहा जाता है. देश के कुल खाद्यान्न उत्पादन में उत्तर प्रदेश का स्थान प्रथम है.  इस प्रदेश में पूरे वर्ष में 3 प्रकार की फसलें (रबी, खरीफ और जायद) पैदा की जातीं हैं. आइये इस लेख में आगामी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए कृषि पर आधारित कुछ जरूरी तथ्यों पर नजर डालते हैं;

    1. प्रदेश में कुल रोजगार का 59% कृषि क्षेत्र से मिलता है. वित्त वर्ष 2016 वर्तमान मूल्य पर प्रदेश में प्रति व्यक्ति आय 54,658 रुपये थी.

    2. वित्त वर्ष 2016 में उत्तर प्रदेश की अर्थव्यवस्था में प्राथमिक, माध्यमिक और तृतीयक क्षेत्र का योगदान क्रमशः 24%, 27% और 49% था.

    3. उत्तर प्रदेश पूरे देश में सबसे अधिक दूध का उत्पादन करने वाला प्रदेश है. देश के कुल दुग्ध उत्पादन में इस प्रदेश की हिस्सेदारी लगभग 16.83 प्रतिशत है. वित्त वर्ष 2016-17 के दौरान, राज्य का दूध उत्पादन लगभग 27.77 मिलियन टन था.  

    उत्तर प्रदेश के प्रमुख उद्योगों की अवस्थिति

    4. प्रदेश में कृषि जोत का औसत आकार 0.76 हेक्टेयर है जो कि राष्ट्रीय औसत 1.15 हेक्टेयर से कम है.

    5. वर्ष 2017-18 में, राज्य भारत में सब्जियों का सबसे बड़ा उत्पादक (28,226 हजार टन) था.

    6. वित्त वर्ष 2016-17 में प्रदेश में खाद्य अनाज उत्पादन 49,144.6 हजार टन था. राज्य में उत्पादित प्रमुख खाद्य अनाज उत्पादन में चावल, गेहूं, मक्का, बाजरा, चना, मटर और मसूर शामिल हैं. वर्ष 2017-18 में राज्य में दाल उत्पादन 1,985. हजार टन था.

    7. उत्तर प्रदेश; भारत में अनाज का सबसे बड़ा उत्पादक है और 2016-17 में देश के कुल अनाज उत्पादन में लगभग 17.83 प्रतिशत हिस्सेदारी थी.

    8. उत्तर प्रदेश निम्न खाद्यान्नों के उत्पदान में प्रदेश में प्रथम स्थान पर है; गेहूं, जौ, गन्ना, आलू और मसूर.

    9. प्रदेश में आम के उत्पदान में निम्न तीन जिले प्रमुख हैं; लखनऊ, सहारनपुर और बुलंदशहर

    10. प्रदेश में आंवला सबसे अधिक प्रतापगढ़ और इलाहाबाद में पैदा होता है.

    11. अमरुद का सबसे अधिक उत्पादन क्रमशः शाहजहांपुर, और फर्रुखाबाद जिलों में होता है.

    12. अफीम उत्पादन में बाराबंकी सबसे आगे है.

    13. गाजीपुर में राज्य की एक मात्र अफीम फैक्ट्री है

    OPIUM FACORY

    Image source:google

    14. प्रदेश में सबसे अधिक लीची उत्पादन सहारनपुर और मेरठ में होती है.

    15. उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले में सर्वाधिक संतरे का उत्पादन किया जाता है.

    16. प्रदेश में सर्वाधिक महत्वपूर्ण नकदी फसल गन्ना है जो सर्वाधिक सिंचित भी है. मेरठ जिले का गन्ना सबसे उत्तम कोटि का माना जाता है.

    17. प्रदेश के इन जिलों में गेहूं प्रमुख रूप से पैदा किया जाता है; मेरठ,बुलंदशहर,सहारनपुर, आगरा अलीगढ़, मुजफ्फरनगर, मुरादाबाद, इटावा कानपुर, फर्रुख्बाद और फतेहपुर. ध्यान रहे कि उत्तर प्रदेश के दक्षिणी पठारी क्षेत्र में कृषि नहीं की जाती है.

    18. प्रदेश के प्रमुख चावल उत्पादक जिले इस प्रकार हैं; पीलीभीत, सहारनपुर, महाराजगंज, देवरिया ,गोंडा, बहराइच बस्ती, रायबरेली, बलिया, लखनऊ, वाराणसी और गोरखपुर हैं.

    ऊपर दिए गए तथ्यों से एक बात स्पष्ट हो जाती है कि उत्तर प्रदेश की जलवायु इतनी विविध प्रकार की है कि यहाँ पर लगभग हर प्रकार की फसलें पैदा हो जातीं हैं. यही कारण है कि बहुत सी फसलों के उत्पादन के मामले में प्रदेश प्रथम स्थान पर है.

    उत्तर प्रदेश में पाये जाने वाले खनिज संसाधनों की सूची

    उत्तर प्रदेश के प्रमुख लघु और कुटीर उद्योग केन्द्रों की सूची

    Loading...

    Register to get FREE updates

      All Fields Mandatory
    • (Ex:9123456789)
    • Please Select Your Interest
    • Please specify

    • ajax-loader
    • A verifcation code has been sent to
      your mobile number

      Please enter the verification code below

    Loading...
    Loading...