कार्बन चक्र और वैश्विक कार्बन बजट क्या हैं?

पृथ्वी पर पाए जाने वाले तत्वों में कार्बन (प्रांगार) एक प्रमुख एवं महत्त्वपूर्ण तत्त्व है। कार्बन जैविक यौगिकों के साथ-साथ कई खनिजों का मुख्य घटक है। इसे 'जीवन के निर्माण खंड' के रूप में जाना जाता है क्योंकि यह हर जीवित और गैर-जीवित चीजों में पाया जाता है। इस लेख में हमने कार्बन चक्र और वैश्विक कार्बन बजट के बारे में बताया है जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है।
May 17, 2018 14:25 IST
    What are Carbon Cycle and Global Carbon Budget? HN

    पृथ्वी पर पाए जाने वाले तत्वों में कार्बन (प्रांगार) एक प्रमुख एवं महत्त्वपूर्ण तत्त्व है। कार्बन जैविक यौगिकों के साथ-साथ कई खनिजों का मुख्य घटक है। इसे 'जीवन के निर्माण खंड' के रूप में जाना जाता है क्योंकि यह हर जीवित और गैर-जीवित चीजों में पाया जाता है। मानव गतिविधियां वायुमंडल में कार्बन डाइऑक्साइड की एकाग्रता को बढाती हैं और जिनमें से कुछ पौधों द्वारा अवशोषित की जाती हैं और कुछ समुद्र द्वारा अवशोषित की जाती हैं ।

    कार्बन डाइऑक्साइड (CO2) का महत्व

    कार्बन डाइआक्साइड (Carbon dioxide or CO2) एक रंगहीन तथा गन्धहीन गैस है जो पृथ्वी पर जीवन के लिये अत्यावश्यक है। धरती पर यह प्राकृतिक रूप से पायी जाती है। धरती के वायुमण्डल में यह गैस आयतन के हिसाब से लगभग 0.03 प्रतिशत होती है। हर दिन सूर्योदय से सूर्यास्त तक हमे तपन महसूस होती है लेकिन क्या हमने कभी ये सोचा है सूर्यास्त के बाद हमारा पर्यावरण गर्म कैसे रहता है। यह कार्बन डाइऑक्साइड है, जो ग्रीनहाउस प्रभाव बनाकर वायुमंडल को गर्म कर देती है अन्यथा पृथ्वी एक बर्फ के गोले के समान हो जाती।

    लेकिन पिछले कुछ दशकों से, मानव गतिविधि के परिणामस्वरूप वायुमंडल में अत्याधिक  मात्रा में कार्बन यौगिकों का उत्सर्जन होने लगा है, जो स्वाभाविक उत्सर्जन से कहीं अधिक तेज है जिसके वजह से ग्लोबल वॉर्मिंग जैसी स्थिति उत्पन्न हो गयी है।

    कार्बन चक्र (Carbon Cycle) किसे कहते हैं?

    //www.jagranjosh.com/imported/images/E/Articles/carbon-cycle.jpg

    Source: www.noaa.gov

    कार्बन चक्र की खोज प्रारंभिक रूप से जोसेफ़ प्रिस्टली और एंटोनी लावाइसियर ने की और हमफ़्री डेवी ने इसे प्रतिपादित किया। यह जैव-भूरासायनिक चक्र है जिसके द्वारा कार्बन का जीवमंडल, मृदामंडल, भूमंडल, जलमंडल और पृथ्वी के वायुमंडल के साथ विनिमय होता है। यह पृथ्वी के सबसे महत्वपूर्ण चक्रों में एक है और जीवमंडल तथा उसके समस्त जीवों के साथ कार्बन के पुनर्नवीनीकरण और पुनरुपयोग को अनुमत करता है।

    क्या आप जानते हैं ग्लोबल डिमिंग या सार्वत्रिक दीप्तिमंदकता क्या है

    कार्बन चक्र के प्रकार

    कार्बन चक्र को दो प्रकार में वर्गीकृत किया गया हैं जिसकी नीचे चर्चा की गयी है:

    1. जैविक कार्बन चक्र

    Biological Carbon Cycle

    Source: slideplayer.com

    पौधों या शैवालो (algae) जैसे स्वपोषक (autotrophs) द्वारा प्रकाश संश्लेषण के माध्यम से कार्बन डाइऑक्साइड उत्सर्जित करने की प्रक्रिया को जैविक कार्बन चक्र कहा जाता है।

    Photosynthesis

    2. भूवैज्ञानिक कार्बन चक्र

    Geological Carbon Cycle

    Source: images.slideplayer.com

    इस चक्र में, कार्बन की लामबंदी चट्टानों और खनिजों, समुद्री जल और वायुमंडल के बीच होता है। यह मुख्य रूप से पृथ्वी की टेक्टोनिक प्लेटों और भूगर्भीय प्रक्रिया से प्रेरित होता है।

    जैविक खेती कार्बन प्रच्छादन में कैसे मदद कर सकता है?

    ग्लोबल कार्बन बजट (Global Carbon Budget) क्या है?

    Carbon Budget

    Source: www.globalcarbonproject.org

    वैश्विक कार्बन बजट, कार्बन भंडारों के बीच या कार्बन चक्र के एक विशिष्ट चक्र (उदा., वायुमंडल ↔ जीवमंडल) के बीच कार्बन के विनिमय का संतुलन (आय और नुक्सान) है। इसका उपयोग यह निर्धारित करने के लिए किया जाता है कि क्या एक विशेष पूल / जलाशय / सर्कल कार्बन डाइऑक्साइड के स्रोत के रूप में काम कर रहा है या नहीं। ग्लोबल वार्मिंग और जलवायु परिवर्तन को संतुलित करने के लिए वैज्ञानिक रूप से महत्वपूर्ण है।

    आईपीसीसी की चौथी आकलन रिपोर्ट में मानवजनित ग्रीन हाउस गैस उत्‍सर्जन, विशेष रूप से CO2, और ग्‍लोबल वार्मिंग के बीच सुस्‍पष्‍ट रूप से लिंक स्‍थापित किया जा चुका है परंतु अभी भी वैश्‍विक कॉर्बन चक्र, विशेष रूप से भू और समुद्री स्रोतों और CO2 के स्‍तरों के बारे में हमारे ज्ञान में अभी भी कई विसंगतियां है । इस अनिश्‍चितता को कम करने के लिए, विशेष रूप से प्रदेश और देश-वार उत्‍सर्जन और CO2 उर्त्‍सजनों को सीमित करने हेतु अंतर्राष्‍ट्रीय संधियों पर विचार विमर्श करने में सूचना आधारित पहलों के साथ-साथ भावी उत्‍सर्जन प्रवृतियों के प्रभावों के विश्‍वसनीय आकलन की समझ सर्वोपरि है।

    पर्यावरण और पारिस्थितिकीय: समग्र अध्ययन सामग्री

    Loading...

    Register to get FREE updates

      All Fields Mandatory
    • (Ex:9123456789)
    • Please Select Your Interest
    • Please specify

    • ajax-loader
    • A verifcation code has been sent to
      your mobile number

      Please enter the verification code below

    Loading...
    Loading...