Search

प्रिवेंटिव ऑफिसर और एक्साइज इंस्पेक्टर की जॉब प्रोफाइल में अंतर जाने

एसएससी विभिन्न सरकारी विभागों में अधिकारियों की भर्ती करता है. इसी तरह प्रिवेंटिव और एक्साइज ऑफिसरों की भी नियुक्तियां एसएससी सीजीएल परीक्षा के माध्यम से होती है.

Feb 28, 2017 13:38 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon

एसएससी विभिन्न सरकारी विभागों में अधिकारियों की भर्ती करता है. इसी तरह प्रिवेंटिव और एक्साइज ऑफिसरों की भी नियुक्तियां एसएससी सीजीएल परीक्षा के माध्यम से होती है. एसएससी ग्रेड "बी" और "सी" के प्रशासनिक पदों पर अधिकारियों की नियुक्ति की जाती है . ये पद आपको डेस्क या फील्ड की नौकरी या एक ही समय में दोनों प्रकार की नौकरी दे सकते हैं. इस ब्लॉग में हम प्रिवेंटिव और एक्साइज इंस्पेक्टर को दिए जाने वाले काम और जिम्मेदारियों के विभिन्न पहलुओं के बारे में एक– एक कर चर्चा करेंगे. आइए एक नजर डालते हैं–

एक्साइज और सर्विस टैक्स इंस्पेक्टर (उत्पाद शुल्क एवं सेवा कर निरीक्षक)

  • आपको कर के संदर्भ में जांच के विषयाधीन कई फैक्ट्रियां, संगठन, कंपनियां या व्यापार इकाईयों की जिम्मेदारी सौंपी जाएगी चाहे कंपनी ने मशीनों, कच्चा माल और तैयार माल या संबंधित सभी वस्तुओं पर करों का भुगतान कर दिया हो.
  • आपका काम रिकॉड्स की छानबीन करना और भुगतान किए गए कर की सही मात्रा को सत्यापित करना है. यह विश्लेषण व्यापक और कंपनी में जाकर जांच करने वाला हो सकता है.
  • आपके पास उत्पादन, सामुदायिक उद्योंगों से धन बनाने की क्षमताओं, व्यापारियों आदि पर कुछ निगरानी के अधिकार होते हैं. 
  • आपके काम करने का क्षेत्र पूर्वनिर्धारित होता है और आपको उसी क्षेत्र विशेष में नियुक्त किया जाता है.
  • काम आमतौर पर दिन की पाली का होता है.
  • कभी– कभी ये छापे डाल सकते हैं लेकिन यह बहुत जोखिम भरा और साहसी नहीं होता.
  • केंद्रीय उत्पाद शुल्क अदिकारी बहु–कौशल विशेषज्ञता वाले होते हैं क्योंकि इन्हें कस्टम इंटेलिजेंस एजेंसी जैसे डीआरआई में भी नियुक्त किया जाता है.

क्या एसएससी सीजीएल को बैंक पीओ से अधिक महत्वता देनी चाहिए- क्यों

प्रिवेंटिव ऑफिसर्स ( कस्टम)

  • आपका काम देश में निर्धारित सीमा में अवैध वस्तुओं और अन्य सामानों का लेन–देन रोकना है. कुछ विशेष मामलों में आपको अपराधी पर अंकुश लगाने के लिए सेवा क्षेत्र से बाहर जाने की अनुमति दी जाती है. इसलिए यह प्रोफाइल सीई एक्साइज, सर्विस टैक्स और इन्कम टैक्स इंस्पेक्टर के मुकाबले आपको कुछ अतिरिक्त अधिकार देता है.
  • यह नौकरी खासकर उन उम्मीदवारों के लिए है जो साहसी नौकरियों की तलाश में हैं.
  • इस जॉब प्रोफाइल में काम के मानदंड मोटे तौर पर गिनाए और वर्णित किए गए हैं.
  • यह इस प्रकार की नौकरी है जिसमें इंटेलिजेंस के साथ– साथ प्रिवेंशन भी है.
  • काम करने का समय निर्धारित नहीं है. आपको अपने क्षेत्र में आपराधिक घटनाओं की दर के अनुसार घर से दूर  दिन– रात काम करना पड़ सकता है.
  • एक चीज जिसकी शायद आप संभवतः उम्मीद नहीं कर रहे होंगे वह है, आप हमेशा दुश्मनों एवं असंतुष्ट सहकर्मियों से घिरे होंगे जो आपके नेटवर्क और काम में घुसपैठ कर आपकी कड़ी मेहनत को बर्बाद कर सकते हैं. यह कड़वी सच्चाई है.

हम यह उम्मीद करते हैं कि उपरोक्त जानकारी आपको एसएससी सीजीएल परीक्षा की तैयारी में पर्याप्त रूप से प्रेरित करेगी. हमारी राय है कि आप सब इसे गंभीरता से लें क्योंकि 7वां वेतन आयोग लागू हो चुका है और इस क्षेत्र में बहुत सारी नौकरियां हैं.

एसएससी इंस्पेक्टर : इन्कम टैक्स, एक्साइज, कस्टम्स और परीक्षक से सम्बंधित संपूर्ण विवरण

एसएससी सीजीएल परीक्षा से पहले अनिवार्य लास्ट मिनट टिप्स

शुभकामनाएं

Related Stories