SSC CGL परीक्षा के सामान्य जागरूकता अनुभाग की तैयारी कैसे करें?

Feb 5, 2019 15:55 IST

इस लेख में, हम सामान्य जागरूकता अनुभाग की तैयारी हेतु विभिन्न टिप्स के बारें में विस्तार से जानेंगे. उन उम्मीदवारों को, जो SSC CGL परीक्षा में बैठने वाले हैं, इन टिप्स को जरूर पढ़ना चाहिए और अपनी पूरी तैयारी के दौरान इन्हें याद भी रखना चाहिए.

SSC GK preparation tips
SSC GK preparation tips

SSC CGL परीक्षा सरकारी संगठनों में नौकरी पाने का एक मानकीकृत परीक्षण हैं. इस परीक्षा को  साल में एक बार ही आयोजित किया जाता हैं. SSC CGL परीक्षा के माध्यम से, भारत सरकार के विभिन्न मंत्रालयों, विभागों और संगठनों में उम्मीदवारों को ग्रुप-‘बी’ और ग्रुप-‘सी’ के पदों के लिए चयनित किया जाता हैं.  

यह ग्रेजुएट्स और पोस्ट-ग्रेजुएट्स के मध्य बहु-प्रतीक्षित परीक्षाओं में से एक हैं. यह आँका गया हैं कि हर साल लगभग 15 लाख उम्मीदवार इस परीक्षा को देते हैं जिनमें विभिन्न विषयों में उत्तीर्ण ग्रेजुएट्स और पोस्ट-ग्रेजुएट्स सम्मिलित हैं. अब आप समझ सकते हैं कि इस परीक्षा में प्रतिस्पर्धात्मकता का स्तर कितना अधिक हैं. अत: SSC CGL परीक्षा की तैयारी में सभी प्रासंगिक विषयों के अभ्यास हेतु पर्याप्त समय और विस्तृत अध्ययन की आवश्यकता होती हैं. इस परीक्षा में 4 टियर होते हैं जिन्हें अलग-अलग दिनों पर आयोजित किया जाता हैं और इनके परिणाम को प्रत्येक टियर की परीक्षा के बाद घोषित किया जाता हैं. SSC CGL परीक्षा के चारों टियरों के विवरण को नीचे बताया गया हैं-

- टियर-I (प्रीलिमिनरी परीक्षा): टियर-I परीक्षा में चार अनुभाग होते हैं- जनरल इंटेलिजेंस व रीजनिंग, सामान्य जागरूकता, इंग्लिश लैंग्वेज व कॉम्प्रिहेंशन और क्वांटिटेटिव एपटीट्युड. इस परीक्षा में सभी प्रश्नों को MCQ फॉर्मेट में पूछा जाता हैं और परीक्षा का आयोजन ऑनलाइन मोड में किया जाता हैं. इस टियर के सामान्य जागरूकता अनुभाग में 25 प्रश्न, 50 अंकों के होते हैं.

कैसे - SSC गौरवशाली करियर के लिए पहला कदम हो सकता है?

- टियर-II (मुख्य परीक्षा): इस टियर की परीक्षा को भी ऑनलाइन मोड में आयोजित किया जाता हैं और इसमें निम्नलिखित विषय सम्मिलित हैं-

  • क्वांटिटेटिव एपटीट्युड
  • इंग्लिश लैंग्वेज व कॉम्प्रिहेंशन
  • सांख्यिकी – यह विषय केवल JSO पद के उम्मीदवारों के लिए हैं.
  • जनरल स्टडीज (फाइनेंस व एकाउंटिंग और इकोनॉमिक्स व गवर्नेंस) – यह केवल उन उम्मीदवारों के लिए हैं जिन्होंने असिस्टेंट ऑडिट ऑफिसर के पद को चुना हैं.

- टियर-III (विवरणात्मक परीक्षा): इस परीक्षा का आयोजन पेन और पेपर मोड में किया जाता हैं और इस परीक्षा में आपको निबंध, पत्र और प्रार्थना-पत्र लिखने के लिए कहा जाएगा.  

- टियर-IV (डाटा एंट्री टेस्ट / कंप्यूटर दक्षता टेस्ट)

उपरोक्त जानकारी से आप देख सकते हैं कि सामान्य जागरूकता के प्रश्नों को केवल टियर-I परीक्षा में ही पूछा जाता हैं. सामान्य जागरूकता अनुभाग इस परीक्षा का बहुत महत्वपूर्ण भाग हैं जिसमें बहुत ही सरल प्रश्नों को पूछा जाता हैं. यदि आपको प्रश्नों के उत्तर पता हैं तो आप SSC CGL टियर-I परीक्षा में बिना समय गवायें नि:संदेह ही बहुत अच्छे अंक प्राप्त कर सकते हैं

इस लेख में, हम सामान्य जागरूकता अनुभाग की तैयारी हेतु विभिन्न टिप्स के बारें में विस्तार से जानेंगे. उन उम्मीदवारों को, जो SSC CGL परीक्षा में बैठने वाले हैं, इन टिप्स को जरूर पढ़ना चाहिए और अपनी पूरी तैयारी के दौरान इन्हें याद भी रखना चाहिए.  

SSC CGL परीक्षा की तैयारी टिप्स: सामान्य जागरूकता

सामान्य जागरूकता अनुभाग का अध्ययन शुरू करने से पहले, आपको SSC CGL परीक्षा के इस अनुभाग के सभी विषयों, जिनसे अधिकतर प्रश्नों को पूछा जाता हैं, और सिलेबस की जानकारी होनी चाहिए. SSC CGL के सामान्य जागरूकता अनुभाग के विषयवार सिलेबस को आप नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके भी प्राप्त कर सकते हैं-  

SSC परीक्षाओं के लिए जनरल अवेयरनेस की तैयारी हेतु बेहतरीन स्त्रोत

आइये- अब इन टिप्स के बारे में जानते हैं-

सिलेबस विश्लेषण

सबसे पहले, आपको SSC CGL परीक्षा के सामान्य जागरूकता अनुभाग के विषयवार सिलेबस का विश्लेषण करना चाहिए और अपने कमज़ोर व मज़बूत विषयों की पहचान करनी चाहिए. इसके साथ आप कमज़ोर और मज़बूत विषयों के नाम वाली एक सूची को भी तैयार कर सकते हैं. यह सिलेबस विश्लेषण आपको विभिन्न विषयों पर आपके मौजूदा ज्ञान के बारे में एक विचार देगा जिससे आपको स्टडीप्लान बनाने में भी काफी मदद मिलेगी.

इस गतिविधि के अंत में, आप इस बात का अवलोकन कर सकते हैं कि अभी आपके ज्ञान का स्तर कहाँ हैं और इसे कहाँ होना चाहिए.

पिछले वर्षों के प्रश्न-पत्र

सिलेबस विश्लेषण के बाद, आपको कम से कम पिछले 5 सालों के प्रश्न-पत्रों के माध्यम से जाने की सलाह दी जाती हैं. सम्बंधित प्रश्नों का ब्रेकअप प्राप्त करने के लिए आपको इन प्रश्न-पत्रों के सामान्य जागरूकता अनुभाग का विश्लेषण करना चाहिए. इसी दौरान, आप एक सूची को भी तैयार कर सकते हैं जिसमे आप विषयों के नाम और उनसे पूछे गए प्रश्नों की संख्या को नोट कर सकते हैं. इस सूची से आपको यह साफ़ पता चल जाएगा कि किस विषय से अधिकतम प्रश्नों को पूछा जाता हैं और किस से कम से कम प्रश्नों को पूछा जाता हैं. इस प्रकार से, आप इन विषयों के अध्ययन हेतु अपनी वरीयताओं को क्रमानुसार निर्धारित कर सकते हैं.

इसके अतिरिक्त, आपको तैयारी के दौरान भी पिछले वर्षों के प्रश्न-पत्रों को समय-समय पर हल करते रहना चाहिए. इन प्रश्न-पत्रों का अभ्यास करने से आपका आत्मविश्वास भी बढेगा और परीक्षा हेतु ज्ञान में भी इजाफा होगा. यह भी देखा गया हैं कि SSC कभी कभी एक-जैसे प्रश्नों को भी परीक्षा में पूछ लेता हैं. अत: पिछले वर्षों के प्रश्न-पत्रों का अभ्यास करना न भूलें.

SSC तैयारी के दौरान की जाने वाली 8 सामान्य गलतियां

स्टडी प्लान

आपको इस अनुभाग के दौरान प्रत्येक विषय और उनके प्रासंगिक टॉपिक्स की तैयारी हेतु स्टडी प्लान को भी तैयार करना चाहिए. इस स्टडी प्लान को इस तरह से डिज़ाइन किया जाना चाहिए कि यह अन्य विषयों के शेड्यूल के साथ न टकरायें. अत: सभी प्रासंगिक टॉपिक्स को कवर करने के लिए आपको एक निश्चित समय या सप्ताह के किसी विशेष दिन को निर्धारित करना चाहिए.

पुस्तकें

सामान्य जागरूकता की तैयारी के लिए, आपको सदैव उन्हीं प्रासंगिक पुस्तकों को रेफ़र करना चाहिए जिनमे SSC CGL परीक्षा के पूर्ण सिलेबस को कवर किया गया हो. क्योंकि सामान्य जागरूकता, जिसमें सभी महत्वपूर्ण घटनाएँ और तथ्य आते हैं, की परिधि सीमित नहीं हैं और इससे सम्बंधित सभी जानकारियों की तैयारी करना संभव भी नहीं हैं.  अत: आपको केवल उन्हीं पुस्तकों को खरीदने की सलाह दी जाती हैं जिनमें SSC द्वारा प्रदत्त सिलेबस को पूर्ण रूप से कवर किया गया हो. SSC CGL के सामान्य जागरूकता अनुभाग की तैयारी हेतु आपको कई पुस्तकें मिल जायेंगी. इनमें से कुछ निम्नलिखित हैं.

  • मनोरमा वार्षिकी  
  • Lucent द्वारा प्रकाशित जनरल नॉलेज

न्यूज़पेपर्स

कर्रेंट अफेयर्स की तैयारी में न्यूज़पेपर्स की एक बेहद अहम भूमिका हैं. अत: आपको प्रतिदिन कम से कम 15 मिनट न्यूज़पेपर्स को पढ़ने की आदत को विकसित करना चाहिए. न्यूज़पेपर्स को पढ़ने से आपको हाल ही की और इनसे सम्बंधित ऐतिहासिक घटनाओं के बारे में भी जानकारी प्राप्त होती हैं. आपको ‘द हिन्दू’ न्यूज़पेपर को पढ़ना चाहिए हैं जिसे प्रतिस्पर्धी परीक्षाओं के लिए कर्रेंट अफेयर्स की तैयारी हेतु अधिकतर उम्मीदवार पढ़ते हैं.

SSC तैयारी के दौरान की जाने वाली 8 सामान्य गलतियां

प्रतिदिन पढ़ें और रिविजन करें

सामान्य जागरूकता अनुभाग हेतु एक अच्छी मेमोरी की आवश्यकता होती हैं ताकि परीक्षा के समय आप जानकारियों को तुरंत स्मरण कर सकें. एक अच्छी मेमोरी के लिए, आपको प्रतिदिन नए टॉपिक्स को पढ़ने और पढ़े गए टॉपिक्स को रिवाइज करने की आदत को विकसित करना चाहिए. यह गतिविधि भूलने की आदत से छुटकारा पाने में काफी मददगार हैं क्योंकि जब आप बहुत कुछ पढ़ चुके होते हैं तब ऐसा होता है कि अंतत: आपके द्वारा पढ़े गए अधिकतर टॉपिक्स को आप भूल जाते हैं. अत: जितना हो सकें उतना –पढ़ें और रिवाइज करें.

कॉमन सेंस से उत्तर देना

कभी-कभी परीक्षा में कुछ ऐसे प्रश्न भी होते हैं जिनका उत्तर आप कॉमन सेंस का प्रयोग करके आसानी से दे सकते हैं और इसके लिए अधिक सोचने की भी आवश्यकता नहीं होती हैं. यह ट्रिक्स तुक्के से उत्तर देने से बिलकुल भिन्न हैं. इसे उस सन्दर्भ में न लें. हम इस ट्रिक से उन्हीं प्रश्नों के उत्तर देनें की सलाह देते हैं जिनके बारे में आपको पूर्ण पुष्टि और आत्मविश्वास हैं. हिट और ट्रायल से गलत उत्तर देने से बचें.  

यदि आपको SSC CGL परीक्षा हेतु सामान्य जागरूकता की तैयारी कैसे करें?” बारे में दी गयी जानकारी उपयोगी लगी हो तो  इस तरह की अधिक जानकारी के लिए हमारे SSC के वेबपेज @www.jagranjosh.com/staff-selection-commission-ssc पर विजिट करें.

Loading...

Register to get FREE updates

    All Fields Mandatory
  • (Ex:9123456789)
  • Please Select Your Interest
  • Please specify

  • ajax-loader
  • A verifcation code has been sent to
    your mobile number

    Please enter the verification code below