Search

SBI में टैलेंट रिटेंशन योजना: सही दिशा में एक कदम

यह सामान्य धारणा है कि सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में व्यावसायिकता और साथ ही अच्छे मुआवजा पैकेज की कमी है। इसके परिणामस्वरूप, इन बैंकों के ज्यादातर कर्मचारी बैंक छोड़कर दूसरे बैंकों या अन्य नौकरियों में शामिल हो जाते हैं।

Feb 26, 2018 16:53 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon
Talent Retention Scheme in SBI: A Step in Right Direction
Talent Retention Scheme in SBI: A Step in Right Direction

पिछले कुछ सालों में सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के लिए टैलेंट रिटेंशन एक प्रमुख मुद्दा रहा है क्योंकि निजी क्षेत्र के बैंक जो मध्यम प्रबंधन और वरिष्ठ प्रबंधन अधिकारियों के लिए बेहतर पैकेज पेश करते हैं, सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों को कड़ी प्रतिस्पर्धा दे रहे है। ये अधिकारी बेहतर पैकेज के कारण  निजी क्षेत्र के बैंक की तरफ आकर्षित होते है। एसबीआई ने इस प्रवृत्ति को समझ लिया है और इस प्रवृत्ति को भारत सरकार के अनुमोदन के अधीन एक नई प्रोत्साहन योजना शुरू करने का फैसला किया है।

SBI PO परीक्षा 2018 की तैयारी के लिए सर्वश्रेष्ठ समाचार चैनल

प्रॉफिट साझा करना की योजना

यह सामान्य धारणा है कि सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में व्यावसायिकता और साथ ही अच्छे मुआवजा पैकेज की कमी है। इसके परिणामस्वरूप, इन बैंकों के ज्यादातर कर्मचारी बैंक छोड़कर दूसरे बैंकों या अन्य नौकरियों में शामिल हो जाते हैं। सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के मामले में उन्मूलन के इस प्रवृत्ति के कई कारण हैं लेकिन मुख्य मुद्दा हमेशा इन बैंकों द्वारा दिए गए वेतन पैकेज रहे हैं। इसलिए, एसबीआई ने एक नई योजना प्रस्तावित की है:

प्रॉफिट साझा करना: एसबीआई ने तय किया है कि यह महत्वपूर्ण समय है,बैंक में टैलेंट रिटेंशन योजनाओं पर ध्यान दिया जाये। इसलिए, एसबीआई ने प्रस्ताव रखा है कि उसे अपने लाभ का लगभग 3% हिस्सा अपने कर्मचारियों के बीच साझा करने की अनुमति दी जानी चाहिए ताकि कर्मचारी संगठन से जुड़ा महसूस करे।

यदि आप बैंक पीओ परीक्षा में असफ़ल हो रहे है तो इन 6 स्टेप्स को अपनाए !

सरकारी मंजूरी के अधीन: यह प्रस्ताव वित्त मंत्रालय के समक्ष रखा गया है, लेकिन अभी तक यह देखना बाकी है कि क्या भारत सरकार इस प्रस्ताव को स्वीकार करती है।

शेयर खरीद योजना: बैंक अपने सभी कर्मचारियों के लिए एक शेयर खरीद योजना पर विचार कर रहा है। सबसे बड़ा वाणिज्यिक बैंक को इस मार्ग के जरिए लगभग 800 से 1200 करोड़ रुपये जुटाए जाने की उम्मीद है क्योंकि इसके लगभग 2.3 लाख कर्मचारी हैं।

नया स्मार्ट पैकेज: यह निर्णय लिया गया है कि बैंक अपने नए कर्मचारियों को स्मार्ट पैकेज पेश कर सकता है। प्रस्ताव के अनुसार, बैंक ने प्रस्तावित किया है कि कर्मचारियों को बैंक द्वारा प्रदत्त सीटीसी (CTC-Cost to Company) के कुछ घटकों का मुद्रीकरण करने का विकल्प दिया जाना चाहिए। यह पैकेज को अधिक लचीला और कर्मचारी- अनुकूल बना देगा। यह प्रस्ताव भी वित्त मंत्रालय के समक्ष रखा गया है।

NABARD Assistant Manager Grade ‘A’ Exam: Previous Year Question Paper

योजना की स्थिति

अब तक, इस संबंध में वित्त मंत्रालय ने कोई फैसला नहीं लिया है। व्यावसायिकता की अनुपस्थिति, बैंकों के एचआर द्वारा प्रतिभा का निराशाजनक प्रबंधन, सार्वजनिक क्षेत्र के बैंको से प्रतिभा-पलायन का प्रमुख कारण है । बैंक को इन क्षेत्रों पर ध्यान देना चाहिए ताकि बैंको से प्रतिभा-पलायन को रोका जा सके ।

सार्वजनिक क्षेत्र के बैंको प्रतिभा है, लेकिन सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि इसे अच्छी तरह से प्रबंधित किया जाना चाहिए और इसे अच्छी तरह से पोषित होना चाहिए। सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में सभी प्रकार की सुविधाएं उपलब्ध है । एसबीआई ने टैलेंट रिटेंशन एक रास्ता दिखाया है, लेकिन अभी बहुत कुछ करना बाकी है।

 

भारतीय बैंकिंग प्रणाली का संक्षिप्त इतिहास

जानिए SBI PO Exam 2018 की तैयारी के लिए आपको कौन सा न्यूज़ पेपर पढना चाहिए

 बैंक परीक्षा के लिये कैलकुलेशन स्पीड बढ़ाने के 7 प्रभावी तरीके

Related Categories

    Related Stories